समाचार

लुटेरी दुल्हन का हुस्न देख करा दी लाखों की शॉपिंग, शादी का दिन आया तो मिला ठेंगा

लुटेरी दुल्हन को लेकर न्यूज में आए दिन कुछ न कुछ बताते ही रहते हैं, लेकिन इसके बावजूद कोई न कोई शख्स इनके जाल में फंस जाता है। लड़की की खूबसूरती या शादी का रिश्ता न मिलने की वजह से लड़के अक्सर इन लूटेरी दुल्हनों के बहकावे में आ जाते हैं। अब लखनऊ के रहने वाले मनोज अग्रवाल को ही ले लीजिए। मनोज की दुल्हन तो शादी के पहले ही उसे लाखों रुपए का चुना लगा फरार हो गई।

दरअसल मनोज ने शादी के लिए जीवन साथी डॉट कॉम पर अपनी प्रोफाइल बनाई थी। यहां उसे 15 अगस्त को प्रियंका सिंह नाम की एक लड़की का शादी के लिए रिक्वेस्ट आया। इस मेट्रोमोनियल वेबसाइट पर दोनों की बातचीत हुई और फोन नंबर भी अदला बदली हो गया। प्रियंका ने मनोज को बताया कि उसके माता पिता अब इस दुनिया में नहीं है और वह दिल्ली में मौसी के यहां रहकर पढ़ाई करती है।

मनोज को प्रियंका पसंद आ गई। लड़की की मौसी और मनोज के घरवालों ने दोनों का रिश्ता तय कर दिया। अब प्रियंका रोज मनोज से बातें करती, कभी कभी मिलने भी आती। इस दौरान वह बड़ी चालाकी से उससे पैसे ले लेती। प्रियंका ने मनोज को बताया कि वह आईएएस (UPSC) की तैयारी कर रही है। पढ़ाई के बहाने उसने मनोज से पहले 10 हजार लिए, फिर 20 और फिर 50 हजार मांगे।

वह जब दिल्ली से लखनऊ मनोज से मिलने आती तो फ्लाइट का किराया भी उससे ही लेती। मनोज ने उसे एक बार मॉल में दो लाख रुपए की शॉपिंग भी करा दी थी। इस तरह प्रियंका ने शादी के पहले मनोज से लगभग 6 लाख रुपए एंठ लिए। यह पैसे मनोज ने अपना मकान बनाने के लिए सेव कर रखे थे।

मनोज की शादी 16 दिसंबर को प्रियंका संग तय हुई थी। हालांकि इस शादी के पहले प्रियंका ने मनोज से आखिरी बार पैसे लिए और उसे हैदराबाद जाने का बोल गायब हो गई। शादी की तारीख सर पर थी और प्रियंका और उसकी मौसी का फोन स्विच ऑफ आ रहा था।

मनोज ने प्रियंका के बिहार और दिल्ली वाले घर जाकर जांच भी की लेकिन वह पता फर्जी निकला। इतना ही नहीं प्रियंका का आधार कार्ड, पेन कार्ड और वोटर आईडी भी नकली निकली।

इस पॉइंट पर मनोज को एहसास हुआ कि प्रियंका ने उसे बेवकूफ बनाया है। ऐसे में वह हज़रतगंज थाने में युवती के खिलाफ केस दर्ज करवाने चला गया। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच कर रही है।

Back to top button
?>