दिलचस्प

ऐसा क्या हुआ जो साउथ कोरिया वाले ओवन में जला रहे नोट, 1 अरब डॉलर से अधिक नोट जलकर हुए राख़

कोरोना वायरस से बचने के लिए लोग हर संभव कोशिश कर रहे हैं। कुछ तो विश्व स्वास्थ्य संगठन की सामान्य गाइडलाइंस के अलावा अपनी तरफ से कुछ एक्सट्रा एहतियात भी बरत रहे हैं। इस बीच साउथ कोरिया के कुछ लोगों ने अपने नोटों को संक्रामण-रहित करने के लिए पहले उन्हें वॉशिंग मशीन में धो डाला और फिर ओवन में सूखा दिया। हालांकि इस कोशिश में उनके एक अरब डालर से अधिक नोट आशिंक या पूरी तरह जल नष्ट हो गए।

वाशिंग मशीन में धोने और ओवन में सुखाने से खराब हुए नोट

याद दिला दें कि सबसे पहले चीन ने अपने नोटों को संक्रामण-रहित बनाने के लिए सैनिटाइज किया था। अब साउथ कोरिया इससे भी एक कदम आगे निकला। उसने तो अपने सभी नोट वाशिंग मशीन में धो खराब कर डाले। वहीं कई नोट तो ओवन में सुखाने के चक्कर में जल गए। इस बात का खुलासा तब हुआ जब लोग जले और खराब हुए नोटों को बदलने साउथ कोरिया के बैंक पहुंचे। बैंक ऑफ कोरिया ने शुक्रवार को बताया कि साल 2019 की तुलना में बीते 6 महीनों में जले और कटे हुए नोटों को बदलने का आकड़ा तीन गुना अधिक है।

1.1 अरब डॉलर के जले नोट लौटाए

बैंक ने कहा कि जनवरी से जून मध्य 1.32 अरब वॉन (1.1 अरब डॉलर) के जले हुए नोट बैंक ने लौटाए हैं। जबकि पिछले साल इसी 5 महीनो की अवधि में बैंक ने महज 40 लाख डॉलर के जले हुए नोट लौटाए थे। बैंक ने ये भी कहा कि वो अपनी ओर से भी सावधानी रख रहा है। इसके अंतर्गत उसने कई नोटों को सैनिटाइज किया जबकि बाकी नोटों को कुछ दिनों के लिए अलग थलग रख दिया है।

2.25 ट्रिल्‍यन डॉलर हुए नष्ट

साउथ कोरिया में कोरोना का खौफ इस कदर है कि लोगों ने अभी तक करीब 2.25 ट्रिल्‍यन डॉलर मूल्‍य के नोट और सिक्के वॉशिंग मशीन या ओवन में डाल नष्ट कर दिए हैं। यह आकड़ा दक्षिण कोरिया के केंद्रीय बैंक ने बताया है।

नोटों को दो सप्‍ताह अलग रख कोरोना खत्म कर रहा बैंक

नोटों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बैंक ऑफ कोरिया अपने बैंक में आने वाले नोटों को दो हफ्तों के लिए अलग थलग रख रहा है। इस अवधि में नोट में लगे कोरोना वायरस अपने आप ही खत्म हो जाते हैं। हालांकि इसके पहले बैंक ने कुछ नोटों को जला भी दिया था।

कोरोना के चक्कर में माइक्रोवेब ओवन में डाल दिए नोट

साउथ कोरिया निवासी किम ने तो अपने किचन में रखे माइक्रोवेब ओवन में ही 5.2 मिलियन वॉन सूखा डाले। बस शख्स की किस्मत अच्छी थी कि उसमें से अधिकतर नोट सही सलामत हालत में ही है।

वाशिंग मशीन में भी धो रहे लोग

बैंक ने एक अन्य उदाहरण देते हुए बताया कि उम नाम के एक शख्स ने 35.5 मिलियन वॉन (लगभग 30 हजार डॉलर) के नोट वॉशिंग मशीन में डाल धो दिए थे। इसके बाद उसने घर के ओवन में इन्हें सुखाया भी था। ऐसे में उसे सिर्फ 22.9 मिलियन वॉन ही सही हालात में मिले थे। उसकी 35 फीसदी राशि नष्ट हो गई थी।

वैसे कहीं आप तो नोटों को संक्रामण मुक्त करने के लिए इस तरह की गलतियां तो नहीं कर रहे?

Show More

Related Articles

Back to top button
Close