विशेष

दिल्ली में हिन्दुओं ने मकानों के बाहर लिखा- ‘धर्म विशेष से डर कर के कारण यह मकान बिकाऊ है’

फरवरी और मार्च के महीने में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए सांप्रदायिक दंगों की आग अभी तक नहीं बुझी है, दंगों से प्रभावित इलाके के कुछ हिंदू परिवारों अब भी डर के साए में जी रहे हैं। उनका कहना है कि वो आज भी एक समुदाय विशेष के डर में जीने को मजबूर हैं। बता दें कि समुदाय विशेष के लोगों ने हिंदू परिवारों के घरों को जमकर नुकसान पहुंचाया, और फिर बाद में 16 लोगों को फर्जी तरीके से दंगे में शामिल होने के आरोप में फंसा दिया, ये सभी लोग जेल में बंद हैं। और अब यहां रह रहे हिंदू परिवारों में एक समुदाय विशेष का खौफ इतना अधिक है कि ये लोग अपना घर बेचने को मजबूर हैं। आइये जानते हैं, आखिर क्या है पूरा मामला…

मोहनपुरी में दहशत में जी रहे हैं हिंदू परिवार…

उत्तर पूर्वी दिल्ली की रहने वाली एक महिला का कहना है कि उनके पति पिछले करीब 4 महीनों से जेल में बंद हैं। वो कहती हैं कि मेरे पति को झूठे आरोपों में जेल में बंद किया गया है। वो घर में अकेले कमाने वाले थे और उनके जेल चले जाने से घर में दाने दाने को मोहताज होना पड़ रहा है। सिमरन ने कहा कि पति के जेल चले जाने से घर की आर्थिक स्थिति बहुत ही खराब है। साथ ही समुदाय विशेष के लोग घर आकर ये कहते हैं कि आपका पति अब दंगे के आरोपों में फंस चुका है, अब आप भी अपना ये घर बेचकर यहां से चले जाओ। उन्होंने बताया कि समुदाय विशेष के लोग कई बार घर आकर ऐसी धमकी देकर जा चुके हैं।

दंगे से प्रभावित इलाके की एक दूसरी महिला अपनी आपबीती सुनाते हुए कहती है कि दंगों के दौरान समुदाय विशेष के लोगों ने होटल में आग लगा दी, इससे सबकुछ खत्म हो गया और हमारे कमाने का जरिया भी इसी आग में जल कर खाक हो गया। उन्होंने बताया कि पहले दंगे के कारण होटल में आग लगी और अब कोरोना लॉकडाउन के कारण बेटी की नौकरी चली गई। और मेरे पति को पुलिस ने दंगे के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पीड़ित महिला ये भी कहती हैं कि उन्हें समुदाय विशेष के लोगों द्वारा घर छोड़ने को लेकर अक्सर टिप्पणी की जाती है। इन लोगों ने उनका जीना मुहाल कर दिया है।

वहीं एक और महिला ने बताया कि उनके पति भी दंगे के आरोप में जेल में बंद हैं और कोरोना महामारी के कारण पिछले 4 महीने से मुलाकात भी नहीं हो पा रही है।

मोहनपुरी के तीन गलियों में लगे पर्चे…

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के मोहनपुरी इलाके में तीन गलियों में हिंदू परिवार के लोगों ने एक समुदाय विशेष के लोगों के डर से अपने मकान के सामने ‘यह घर बिकाऊ है’ लिखकर बोर्ड टांग रखे हैं। इन घर के लोगों का कहना है कि एक समुदाय विशेष के लोगों के डर से और अपने परिवार, बहु, बेटियों की इज्जत बचाने के लिए वो अपना घर बेचने को मजबूर हैं। इन लोगों ने कहा कि अगर हमारी सुरक्षा की गारंटी नहीं दी गई, तो हमें मजबूरन अपना घर बेचकर इस इलाके से पलायन करना होगा। बता दें कि मोहनपुरी के आस-पास के इलाकों में बड़ी संख्या में समुदाय विशेष के लोग रहते हैं। ऐसे में इनके डर से वहां रह रहे हिंदू परिवारों में इन दिनों दहशत का माहौल है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close