विशेष

निकाह के बाद दूल्हे ने की ऐसी गन्दी हरकत , लड़की वालों ने दुल्हन की विदाई से किया इंकार, जानिये

पुरे देश में शादी का सीजन इन दिनों जोरो शोरो से चल रहा हैं. ऐसे में शादी से संबंधित कई अच्छी और बुरी खबरे आती रहती हैं. शादी वाला दिन हर किसी के लिए ख़ास होता हैं. इस दिन के लिए लाखों रुपए खर्च किए जाते हैं. ऐसे में कोई भी ये नहीं चाहेगा कि शादी रद्द हो जाए. इससे ना सिर्फ पैसो का नुकसान होता हैं बल्कि समाज में बदनामी भी होती हैं. हालाँकि कई बार शादी वाले दिन ही दुल्हा दुल्हन को एक दुसरे की असलियत पता चलती हैं. ऐसे में मामला इतना बिगड़ जाता हैं कि शादी हाथों हाथ टूट जाती हैं. ऐसा ही कुछ नजारा मुजफ्फरपुर के मनियारी थाना क्षेत्र के एक गांव में भी देखने को मिला. आलम तो ये था कि यहाँ लड़की वालो ने दूल्हें सहित बारातियों को बंधक तक बना लिया था. आइए विस्तार से जानते हैं कि ये मामला क्या हैं.

बात बीते गुरुवार की हैं. बिहार के लदौरा निवासी मो. हन्नान ने अपने बेटे नूर आलम का निकाह मनियारी थाना क्षेत्र के गाँव में किया था. ऐसे में शादी वाले दिन ये लोग बारात लेकर लदौरा से मनियारी चले गए. यहाँ दुल्हन पक्ष ने सभी बारातियों का अच्छे से स्वागत किया. ये शादी मुस्लिम रीती रिवाजों से ख़ुशी ख़ुशी संपन्न भी हो गई. हालाँकि बात तब बिगड़ने लगी जब दूल्हें वालों ने लड़की वालों से कहा कि आप दुल्हन की विदाई थोड़ा जल्दी कर दे. ये बात दोनों पक्षों में इतनी ज्यादा खीच गई कि कहासुनी होने लगी.

इस बीच दूल्हें ने अपना आप खो दिया और वो गाली गलोच करने लगा. इतना ही नहीं उसने तो ये तक धमकी दे दी कि शादी के एक महीने के अंदर वो दुल्हन का क़त्ल कर देगा. दूल्हें के मुंह से इस तरह की बातें सुन लड़की पक्ष ने दुल्हन की विदाई करने से इंकार कर दिया. उधर दुल्हा और गुस्से से आग बगूला हो गया. चाश्मिदों के अनुसार दूल्हें की मानसिक स्थिति भी ठीक नहीं लग रही थी. जब दुल्हा अपना मानसिक संतुलन खोकर हाथापाई पर उतारू होने लगा तो गाँव वालों ने उसे और अन्य बारातियों को बंधक बना लिया. सूत्रों के अनुसार दुल्हा सहित चार बारातियों के साथ कथित रूप से दुर्व्यवहार भी हुआ.

जब ये बात गाँव में फैमिली तो समाजसेवी युवा प्रमोद कुमार सहनी आगे आए और उन्होंने दोनों पक्षों को समझा बुझाकर उनका समझौता करवा दिया. इतना ही नहीं वर पक्ष से गिफ्ट में जो फर्नीचर मिले थे वे भी वापस करवाए गए. इस मामले को दोनों पक्षों की सहमती के आधार पर सामाजिक स्तर पर सुलझा लिया गया. मनियारी पुलिस के अनुसार इस मामले पर अभी तक उनके पास कोई भी आवेदन नहीं आया हैं.

इस तरह की घटनाएं सभी के लिए बड़ी सीख हैं. अक्सर लोग शादी के लिए रिश्ता तय करते हैं तो पहली दो तीन मुलाकातों में ही हाँ बोल देते हैं. जबकि आपको पहले कुछ महीने अच्छे से सामने वाले को जानना और समझना चाहिए. यदि आप संतुष्ट हो तभी विवाह के लिए आगे बढ़ना चाहिए. वैसे इस पुरे मामले पर आपकी क्या राय हैं जरूर बताए.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close