सीमा पर लगा तिरंगा देख पाकिस्तान की हालत खराब, लगाया अंतर्राष्ट्रीय संधि तोड़ने का आरोप, भारत ने दिया करारा जवाब!

रविवार को भारतीय सेना ने एक क्रांतिकारी कदम उठाते हुए भारत-पाकिस्तान की अटारी सीमा पर देश का सबसे ऊंचा झंडा फहराया, जब से पाकिस्तान ने यह झंडा देखा है, डर के मारे उसकी हालत खराब हो गयी है। पाकिस्तान को इस बात का डर सता रहा है कि भारत इसके जरिये उसके देश की जासूसी कर सकता है। आपको बता दें झंडे के पोल की ऊंचाई 360 फीट है और यह झंडा लाहौर से भी दिखाई देगा। Tallest tricolor at attari border.

इस समय बहुत डरा हुआ है पाकिस्तान

अब ऐसे में पाकिस्तान का डरना लाज़िमी है। पोल में लगे झंडे की लम्बाई 120 फीट है और चौड़ाई 80 फीट है। झंडे को बनाने में 3.5 करोड़ रूपये खर्च हुए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की बात की जाए तो इस समय पाकिस्तान बहुत डरा हुआ है। उसके डर का सबसे बड़ा कारण इस समय यह तिरंगा झंडा है। पाकिस्तान के आला अफसरों ने इस झंडे को अंतर्राष्ट्रीय संधि का उल्लंघन बताते हुए सीमा से दूर लगाने के लिए कहा है।

जीरो लाइन से 200 मीटर पहले ही लगा है तिरंगा

जबकि भारतीय अधिकारियों का कहना है कि यह सीमा की जीरो लाइन से 200 मीटर पहले ही लगाया गया है। इस हिसाब से यह किसी भी तरह से अंतर्राष्ट्रीय संधि का उल्लंघन नहीं है। पाकिस्तान ने झंडे को लेकर आपत्ति जताई तो पंजाब सरकार के मंत्री अनिल जोशी ने मुंहतोड़ जवाब दिया कि हमें अपने देश के अन्दर झंडे फहराने से कोई नहीं रोक सकता है।

रविवार को लगाया गया देश का सबसे बड़ा तिरंगा

आपको बता दें रविवार को ही भारत-पाकिस्तान की अटारी सीमा पर इस 360 फीट ऊंचे झंडे का उद्घाटन किया गया। इस झंडे को भारत का सबसे ऊंचा झंडा कहा जा रहा है। इस झंडे को पंजाब के मंत्री अनिल जोशी ने ही फहराया और पाकिस्तान सरकार के आरोप का करारा जवाब भी दिया।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.