आतंकवाद के मुद्दे पर भारत-यूएई साथ, बिना नाम लिए पाकिस्तान को जमकर लगाई लताड़!

पड़ोसी देश द्वारा आतंकवाद को बढ़ावा देने के लिए धर्म का दुष्प्रचार करने पर भारत और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने पाकिस्तान पर परोक्ष रूप से जमकर हमला बोला. गुरुवार को भारत-यूएई के साझा बयान में बताया कि दोनों पक्षों ने घृणा फैलाने और आतंकवादी मंसूबों को अंजाम देने के लिए समूहों से निपटने के प्रयासों का मुकाबला करने पर सहमति जताई.

आतंक के मुद्दे पर कुछ देशों के प्रयासों की निंदा की :

साथ ही ऐसे देश जिनके द्वारा चरमपंथ और धर्म का दुरुपयोग किया जाता है,उनसे निपटने के प्रयासों पर भी सहमति जताई. दोनों देशों ने आतंक के मुद्दे पर कुछ देशों के प्रयासों की निंदा की और इस समस्या से निपटने के लिए ‘जीरो टॉलरेंस’ की नीति अपनाने का संकल्प लिया है.

पीएम नरेन्द्र मोदी और अबुधाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान के बीच द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर व्यापक वार्ता हुई. बातचीत के बाद दोनों देशों ने एक व्यापक रणनीतिक भागीदारी समझौते और रक्षा, सुरक्षा, व्यापार और ऊर्जा जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में एक दर्जन से ज्यादा समझौतों पर हस्ताक्षर किए.

शांति और सुरक्षा को आतंकवाद से साझा खतरे को स्वीकार करते हुए दोनों देशों ने जहां कहीं भी आतंकवादी कृत्य किए जाएं और जो भी करे उसके सभी स्वरूपों का जोरदार विरोध और निंदा करने का संकल्प जताया और घोषणा की कि कहीं भी आतंकवाद का समर्थन नहीं किया जा सकता.

आतंकवाद और हिंसक चरमपंथ से पैदा खतरों पर गंभीर चिंता जताते हुए दोनों नेताओं ने सहमति जताई कि आतंकवादियों और उनकी गतिविधियों के लिए जो सुरक्षित पनाह प्रदान किए जाते हैं,उनका सफाया करने के लिए अवश्य ठोस और भरोसेमंद कदम उठाए जाने चाहिए.

भारतीय पक्ष ने जनवरी 2016 में पठानकोट में भारतीय वायु सेना के ठिकाने और सितंबर 2016 में उरी में सेना के शिविर पर आतंकवादी हमले के बाद यूएई द्वारा दिखाई गई एकजुटता की काफी सराहना की. वक्तव्य में कहा गया कि मोदी और अल नाहयान ने काबुल और कंधार में 10 जनवरी को हुए आतंकवादी हमलों की जोरदार निंदा की और अपराधियों को न्याय के दायरे में लाने की आवश्यकता पर जोर दिया.

प्रधानमंत्री मोदी ने इन हमलों में यूएई और अफगानिस्तान के नागरिकों की हुई मौत पर अपनी तरफ से शोक प्रकट किया और हमलों में घायल यूएई के राजनयिकों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की.

Leave a Reply

Your email address will not be published.