यह डायलॉग आपने फिल्मों में बहुत सुना होगा। फिल्म का खलनायक हीरो को मारने की कोशिश करता है और हीरो बच जाता है। उसके बाद हीरो यही कहता है। लेकिन ऐसा नहीं है कि यह सिर्फ फिल्मों में ही दिखाई देता है। असल जीवन में भी कई बार यह देखा गया है कि जिसको भगवान बचाना चाहते हैं, उसका कोई कुछ नहीं बिगाड़ सकता है। किसी भी कीमत पर उसकी जान कोई नहीं ले पाता है।

घटना सुनकर लगेगी किसी फिल्म की कहानी:

कई बार हमारे आस-पास ही कुछ लोगों को ऐसी-ऐसी परिस्थिति में बचते हुए देखा गया है, जिस परिस्थिति में शायद ही कोई बचता है। ऐसे में यह कहावत सही हो जाती है। आज हम आपको एक ऐसी ही घटना के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसको जानने के बाद आपको यकीन ही नहीं होगा कि ऐसा सच में हो सकता है। एक महिला ट्रेन के निचे आ गयी, ट्रेन ऊपर से गुज़र गयी और महिला जिन्दा बच गयी। यह सुनकर फ़िल्मी कहानी जैसा लग रहा होगा। लेकिन ऐसा कुछ नहीं है, यह एक सच्ची घटना है।

महिला के समझने से पहले ही नजदीक आ जाती है मालगाड़ी:

दरअसल यह मामला राजामंडी आगरा का है। यहाँ रेलवे स्टेशन पर एक महिला को एक प्लेटफ़ॉर्म से दुसरे प्लेटफ़ॉर्म पर जाना था। वह सीढ़ियों से ना जाकर ट्रेन की पटरी से ही जाने लगती है। अचानक से उस पटरी पर मालगाड़ी आ जाती है। महिला कुछ समझती, इससे पहले ही मालगाड़ी महिला के करीब पहुँच जाती है। महिला को जब कुछ समझ में नहीं आता है तो वह पटरी के बीच में लेट जाती है।

नज़ारा देखकर लोग पड़े हैरत में:

स्टेशन पर खड़े लोगों ने जब यह नज़ारा देखा तो उनके पाँव के निचे से जमीन खिसक गयी। लेकिन ट्रेन के जाने के बाद जब लोगों ने देखा तो उनके मुँह से एक ही बात निकली “जाको राखे साइयाँ मार सके ना कोय”। हुआ ये कि महिला पटरी के बीच में लेट गयी और उसके ऊपर से ट्रेन गुज़र गयी।, उसके बाद महिला खड़ी हो गयी। यह नज़ारा वाकई हैरत में डालने वाला था।

देखें वीडियो-

https://youtu.be/G9QMUtZL5y4

Leave a Reply

Your email address will not be published.