विशेष

भारत के 6000 करोड़पतियों ने देश छोड़कर ली इस देश में पनाह, जानिए कौन सा देश है करोड़पतियों की पहली पसंद!

भारत को ऐसे ही नहीं सोने की चिड़िया कहा जाता था। यहाँ पर इतनी दौलत थी, जिसकी आप कल्पना भी नहीं कर सकते। धीरे-धीरे विदेशियों ने आक्रमण करके देश की सारी दौलत लूट ली। आज भी इस देश में इतना पैसा है कि आप सोच भी नहीं सकते। आपको बता दें अगर आँकड़ा निकाला जाए तो भारत में सबसे ज्यादा करोड़पति होंगे। लेकिन एक बात यहाँ ज्यादा देखने को मिलती है कि यहाँ असमानता ज्यादा है। भारत का 90 प्रतिशत धन केवल कुछ लोगों के पास है, जबकि बाकी लोग तंगहाली में अपना जीवन गुजारने के लिए मजबूर हैं।

भारत 5 शीर्ष देशों में शामिल:

अभी हाल ही में एक सर्वे से पता चला है कि भारत उन 5 शीर्ष देशों में शामिल हो गया है, जहाँ के करोड़पति अपना देश छोड़कर दुसरे देश में शरण ले रहे हैं। आपको बता दें एक रिपोर्ट में यह बात सामने आयी है कि केवल 2016 में भारत के 6000 करोड़पति विदेश में जाकर बस गए। इस साल विदेश जाने वाले लोगों की संख्या पहले की तुलना में 50 प्रतिशत ज्यादा है। आपको जानकारी के लिए बता दें वेल्थ की एक रिपोर्ट में ये सभी बातें सामने आयी हैं।

भारत में रहते हैं 95 अरबपति:

इस रिपोर्ट के अनुसार दिसंबर 2016 तक भारत की कुल संपत्ति 6200 अरब डॉलर थी। इस देश में कुल 264000 करोड़पति और 95 अरबपति रहते हैं। इस रिपोर्ट के अनुसार पुरे विश्व के 82000 करोड़पति अपना देश छोड़कर किसी और देश में बस गए। इसके उलट 2015 में अपना देश छोड़कर जाने वाले करोड़पतियों की संख्या 64000 थी। अगर इसी रफ़्तार से हर साल करोड़पति भारत छोड़कर दुसरे देश में बसते रहे तो, एक दिन इस देश में केवल गरीब किसान ही बच जायेगा।

देश छोड़कर जाने वाले करोड़पतियों की पहली पसंद ऑस्ट्रेलिया:

आप सोच रहे होंगे कि भारत से जाने वाले करोड़पति आखिर किस देश को अपना ठिकाना बनाते होंगे। वैसे तो सबकी अपनी-अपनी पसंद है और सब अपने हिसाब से जगह का चुनाव करते हैं। लेकिन भारत से जाकर विदेश बसने वाले करोड़पतियों में से सबसे ज्यादा करोड़पति रहने के लिए ऑस्ट्रेलिया जा रहे हैं। लगातार दो सालों से भारत से जाकर सबसे ज्यादा करोड़पति ऑस्ट्रेलिया में ही बस रहे हैं। रिपोर्ट के अनुसार 2016 में लगभग 11000 करोड़पति ऑस्ट्रेलिया जाकर बसे हैं।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close