दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेनाओं में इस तरह बजा भारत का डंका, पाकिस्तान का नाम कहीं भी नहीं

भारतीय सेना पिछले कुछ समय से तारीफ वाले काम कर रही है। पिछले कुछ महीनों में भारतीय सेना ने कई काम किए हैं, जिससे पूरी दुनिया में भारत का नाम हुआ है। मगर इस बार कुछ ऐसा हुआ है जो हर भारतीय को गर्व से भर सकता है। दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेनाओं में इस तरह बजा भारत का डंका, इस लिस्ट में पाकिस्तान का नाम भी नहीं है।

दुनिया की सबसे शक्तिशाली सेनाओं में इस तरह बजा भारत का डंका

दुनिया की सर्वाधिक शक्तिशाली सेनाओं में भारतीय सेना चौथे नंबर पर है। पाकिस्तानी सेना सर्वाधिक शक्तिशाली सेनाओं की सूची में 15वें स्थान पर रखा गया है। पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार ये खुलासा ग्लोबल फायरपावर्स 2019 की सैन्य शक्ति संबंधित रिपोर्ट में सामने आया है। इसमें बताया गया है कि विश्व की सर्वाधिक शक्तिशाली सेनाओं में पहले स्थान पर अमेरिका की सेना का नाम है। दूसरे नंबर पर रूस व तीसरे नंबर पर चीन का नाम है। भारत का स्थान इसमें चौथा स्थान है। रिपोर्ट में बताया गया कि ग्लोबल फायरपावर ने इस सूची में 137 देशों की सेनाओं को शामिल हुआ है। इनकी रैंकिंग इनके पास मौजूद हथियारों और सैनिकों की संख्या मात्र से नहीं है। बल्कि इस बात को आंका गया है कि हथियार कितने तरह के हैं, सेना की कुछ श्रमशक्ति कितनी है, उस देश की जनसंख्या, भूगोल और विकास के संदर्भ में सैन्य शक्ति का क्या स्वरूप है और रैंकिंग में परमाणु हथियार संपन्न देशों को बोनस अंक मिले।

विभिन्न पैमानों के आधार पर सर्वाधिक 25 शक्तिशाली सेनाओं को सूची बनाई गई है। रैंकिंग के अनुसार, भारत के पास कुल 3462500 सैन्य कर्मी हैं. कुल 2082 विमान और 4184 लड़ाकू टैंक हैं और एक विमानवाहक पोत और कुल 295 नौसेना संपत्तियां हैं. भारत (India)का कुल रक्षा बजट 55.2 अरब डॉलर का बनाया गया है। रैंकिंग के अनुसार, पाकिस्तान के पास कुल 1204000 सैन्य कर्मी हैं. सेना के पास कुल 1342 विमान हैं जिनमें 348 लड़ाकू विमान हैं। देश का रक्षा बजट सात अरब डॉलर का है और ग्लोबल फायरपावर के अनुसार विश्व की पंद्रह शक्तिशाली सेनाओं में अमेरिका, रूस, चीन, भारत, फ्रांस, जापान, दक्षिण कोरिया, युनाइटेड किंग्डम, तुर्की, जर्मनी, इटली, मिस्र, ब्राजील, ईरान और पाकिस्तान जैसे देशों का नाम शामिल हैं।