राजनीति

स्मृति ईरानी को मिला संसद में यह प्रमोशन, कांग्रेस के गढ़ मे जीत पर मिला इनाम

इंसान किसी भी फील्ड में हो लेकिन अगर वो अपना काम मेहनत और लगन से करता है तो उसे प्रमोट किया ही जाता है। लोग सिर्फ आपकी मेहनत को देखते हैं और अगर आपमें वो काबीलियत है तो आपको मेहनत का फल मिलेगा ही। इसी तरह राजनीति में भी होता है अगर कोई आम कार्यकर्ता अपनी पूरी निष्ठा दिखाता है तो वो प्रधानमंत्री भी बन सकता है। धीरे-धीरे इंसान ऊंचाईयां छूता है और अब ऐसा स्मृति ईरानी के साथ भी होने जा रहा है। संसद में अमित शाह-पीएम मोदी के साथ बैठेंगी स्मृति ईरानी, अब इनकी पोस्ट बढ़ गई है और इसके पीछे इनकी मेहनत ही है।

संसद में अमित शाह-पीएम मोदी के साथ बैठेंगी स्मृति ईरानी

केंद्रीय महिला एंव बाल विकास मंत्री और अमेठी से सांसद बनने वाली नेता स्मृति ईरानी को संसद में प्रमोशन मिल गया है। ऐसा बताया जा रहा है कि वे अब पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमिता शाह के बराबर में बैठने को कहा गया है। स्मृति ईरानी को लोकसभा में पहली लाइन में बैठने की जगह दी गई है। पहली लाइन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा सुप्रीमों-गृहराज्यमंत्री अमित, वरिष्ठ सांसद और कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद, पूर्व भाजपा अध्यक्ष और मोदी सरकार के वरिष्ठ मंत्री नितिन गडकरी भी शामिल होंगे। इस खबर को हिंदूस्तान टाइम्स ने ट्वीट किया है-

ऐसा माना जा रहा है कि स्मृति ईरानी को ये प्रमोशन कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी को अमेठी से बुरी तरह से हराने के लिए दिया गया है। राहुल गांधी को सीटों के आवंटन में दूसरी लाइन में बैठने को कहा गया है। बुधवार यानी 31 जुलाई को लोकसभा स्पीकर ओम बिरला की ओर से जारी की गई सूची में केंद्रीय मंत्रई नरेंद्र सिंह तोमर, सदानंद गौड़ा, अर्जुन मुंडा और अरविंद सावंत को भी पहली लाइन में बैठने की अनुमति दी गई है।

बहुत खुश हैं स्मृति ईरानी

अमित शाह और नरेंद्र मोदी के साथ बैठने को लेकर स्मृति ईरानी बहुत खुश हैं। अमित शाह और रविशंकर प्रसाद इससे पहले राज्यसभा में पहली लाइन में बैठते थे लेकिन स्मृति ईरानी के लिए पहली लाइन में बैठने का ये पहला मौका है और तीनों लोकसभ के लिए पहली बार चुने गए सदस्य हैं। विपक्षी दलों की बात करते हुए आपको बता दें कि लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी, डीएमके लीडर टीआर बालू को भी पहली लाइन में बैठने के लिए कहा गया है। जेडीयू, तृणमूल कांग्रेस और वाईएसआर कांग्रेस के कुछ सदस्य भी पहली लाइन में बैठेंगे।

Back to top button