ब्रेकिंग न्यूज़

तलाक लेने के फैसले पर अडिग तेजप्रताप, कहा मुझे गंवार कहती थी और ..

लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप यादव के पत्नी ऐश्वर्या से तलाक का मामला अभी भी अनसुलझा हुआ है। तेजप्रताप के वकील ने बताया है कि शादी के अभी 6 महीने ही हुए हैं और दोनो पति पत्नी के आपस में तालमेल ना होने की वजह से तलाक की स्थिति हो गई है। इसमें पूरी कोशिश की जा रही है कि इस शादी को बचाया जा सके। बता दें कि तेजप्रताप ने अपनी पत्नी पर कई तरह के गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने 2 नंवबर को तलाक की अर्जी दी थी। कोर्ट ने सुनवाई के लिए 29 नंवबर का दिन तय किया गया था।

शादी बचाने की कोशिश

तेजप्रताप यादव के वकील ने कहा कि हमारे तरफ से पूरी कोशिश यही है कि इस शादी को बचा लिया जाए। हालांकि खबरें यह आ रही है कि तेज प्रताप ने तलाक की अर्जी वापस लेने से इनकार कर दिया है। वह पूरी तरह से अपनी पत्नी को तलाक देने पर अड़े हुए हैं।बतां दें कि तेज प्रताप ने तलाक की अर्जी देने के बाद ही स्पष्ट रुप से कह दिया था कि उनकी शादी उनकी मर्जी  के बिना कराई गई थी। शादी के बाद वह घुट घुटकर जी रहे हैं। तेजप्रताप का कहना था कि उनकी पत्नी अलग माहौल में पली बढ़ी हैं और उनका कोई तालमेल ही नहीं बैठ रहा है।

मारती थी पत्नी

तेजप्रताप ने अपनी पत्नी पर बहुत ही गंभीर आरोप लगाए थे। तेजप्रताप ने कहा कि मेरी पत्नी मारपीट पर अमादा थी। वह मुझे गंवार भी कहती थी। उन्होंने ही कहा था तुम मुझे तलाक क्यों नहीं दे देते। तेजप्रताप ने इन सबके बाद ही फैसला कर लिया कि वह अब अपनी पत्नी के पास नहीं रहेंगे। तलाक की अर्जी देने के बाद पिता लालू यादव से मिलने भी पहुंचे थे और बात करते करते वह रो भी रहे थे।

लालू यादव ने कहा था कि जब हम घर आएंगे तो इस मुद्दे पर बात करेंगे,लेकिन तेजप्रताप ने कहा था कि मैं ऐश्वर्या के साथ नहीं रह सकता। राबड़ी देवी को भी पूरी उम्मीद थीं कि तेजप्रताप उनसे मिलने के बाद मान जाएंगे। हालांकि तेजप्रताप अपने फैसले पर अडिग हैं । कोई उनका फैसला ना बदलें इसलिए वह घरवालों से मिलने का भी प्लान नहीं बना रहे हैं।

तेजप्रताप अपने घरवालों से भागे भागे नजर आ रहे हैं। कहा जा रहा है कि तेजस्वी यादव ने भी बड़े भाई को बहुत समझाने की कोशिश की, लेकिन तेजप्रताप ने अपनी बात को पत्थर की लकीर मान ली है। उन्होंने साफ कह दिया है कि वह तलाक की अर्जी वापस नहीं लेने वाले। उन्हें मनाने के लिए उनके बहन बहनोई भी आगे आए हैं, लेकिन तेजप्रताप अपने फैसले पर अड़े हुए हैं। उन्हें इस बात की शिकायत भी है कि उनके घरवाले तलाक के मामले में का साथ ना देकर उनकी पत्नी का साथ दे रहे हैं।

चार महीने से हैं पत्नी से अलग

बता दें कि उन्होंने तलाक की अर्जी में लिखा था कि वह चार महीने से पत्नी  से अलग रह रहे हैं। उनकी पत्नी का रहन सहन उनसे मेल नहीं खाता। इस सबको छोड़कर वह एक बार फिर राजनीति की तरफ अपना ध्यान बढ़ाना चाहते हैं। हालांकि पहले घर का माहौल ठीक करने के लिए उन्होंने कहा था कि वह तलाक की अर्जी वापस ले लेंगे और घर लौट आएंगे, लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

यह भी पढ़ें :

Show More

Related Articles

Back to top button