राजनीति

विपक्ष का मुँहबंद, पीएम मोदी बोले– विरोधियों को कालाधन ठिकाने लगाने का समय न दिया इसलिए नाराज़

नयी दिल्ली –  आज संविधान दिवस के मौके पर उसके डिजिटल संस्करण का विमोचन हो रहा है और इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाबा साहब को याद किया और नोट बंदी का विरोध कर रहे विपक्ष पर करारा प्रहार किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने उपस्थित लोगों को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि इस वक्त देश में भ्रष्‍टाचार के खिलाफ बहुत बड़ी लड़ाई चल रही है लेकिन कुछ लोग इसकी आलोचना कर रहे हैं।  PM Modi Speech on demonetization.

पीएम मोदी ने कहा किकुछ लोगों को पीड़ा इस बात की है कि सरकार ने कुछ लोगों को तैयारी करने का मौका नहीं दिया। अगर उनको 72 घंटे का भी मौका मिल जाता तो वह खुश हो जाते। पीएम मोदी ने 26 नवंबर को मनाए जाने वाले संविधान दिवस  के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रम में ये बात कही।

कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ बड़ी लड़ार्इ –

पीएम मोदी ने कहा कि हम 26 जनवरी गर्व से मनाते हैं लेकिन 26 नवंबर (संविधान दिवस) के बिना 26 जनवरी पूर्ण नहीं हो सकती है। उन्होंने कहा कि हमें संविधान की मूल भावना से जुड़ने की जरूरत है न कि सिर्फ संविधान के अनुच्छेदों के बारे में जान लेने की।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कालेधन और भ्रष्टाचार के खिलाफ देश बड़ी लड़ार्इ लड़ रहा है। इसमें देश का हर नागरिक सिपाही की तरह लड़ रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि सभी को अपने पैसे के इस्तेमाल का हक है, लेकिन आज दुनिया बदल रही है हमें डिजिटल करेंसी की ओर जाने की जरूरत है। इस मौके पर पीएम मोदी ने ‘भारत का संविधान’ के नवीनतम डिजिटल संस्करण और कॉफी टेबल बुक ‘Constitution in the Making’ का विमोचन किया।

 

संसद से सड़क तक चल रहा है विरोध –

पीएम मोदी ने कहा, जो लोग नोटबंदी का विरोध कर रहे हैं, उन्हें सरकारी की तैयारियों से कोई लेना-देना नहीं है। उन्हें दिक्कत यह है कि उन्हें तैयारी के लिए वक्त नहीं मिला।

गौरतलब है कि नोटबंदी को लेकर संसद के दोनों सदनों में हंगामा हो रहा है। विपक्ष लगातार नोटबंदी को लेकर पीएम मोदी के बयान की मांग कर रहा है, जबकि सरकार का कहना है कि इस पर वित्तमंत्री ही जवाब देंगे। जबसे शीतकालीन सत्र शुरू हुआ है नोटबंदी पर हंगामे के चलते एक भी दिन सदन की कार्यवाही सुचारू रूप से नहीं चल पाई है। इसके अलावा विपक्ष ने 28 नवम्बर को भारत बंद का ऐलान भी किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close