दिल्ली में 5 हज़ार छात्रों को क्यों घेरे खड़े हैं 1000 हज़ार पुलिसवाले? छात्रों के भविष्य से ..

नई दिल्ली – SSC एग्ज़ाम में एक बार फिर विवादों में घिर गया है। कर्मचारी चयन आयोग की संयुक्त स्नातक स्तर की परीक्षा (एसएससी सीजीएल) में एक बहुत बड़ा घोटाला सामने आया है। जिसके विरोध में हज़ारों छात्र दिल्ली की सड़कों पर उतर आये हैं और बड़े पैमाने पर हुई इस धोखाधड़ी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। लेकिन, सवाल ये उठता है कि हज़ारो की संख्या में छात्र सड़को पर क्यों उतर आये हैं और पुलिस इनकी आवाज दबाने की कोशिश क्यों कर रही हैं। तो आइये आपको पूरा मामला समझा देते हैं।

क्या है पूरा मामला?

जो छात्र सड़कों पर दिखाई दे रहे हैं वो सभी एसएससी के छात्र हैं। सबसे पहले तो आपको बता दें कि एसएससी द्वारा कराये जाने वाली परिक्षाओं को तीन लेवल में बांटा जा सकता है।

पहला सीजीएल – कंबाइंड ग्रैजुएट लेवल यानि इसमें केवल वही छात्र हिस्सा ले सकते हैं जो ग्रैजुएट किये हुए हो।

दूसरा सीएचएसएल – कंबाइंड हायर सेकेंडरी एग्जाम जिसमें बारहवीं पास सभी छात्र हिस्सा ले सकते हैं।

तीसरा एमटीएस – मल्टी टास्किंग स्टाफ यानि हाईस्कूल पास करने वाले छात्र इस परीक्षा में हिस्सा ले सकते हैं।

इस तीनों लेवल की परीक्षाएं पास करने वाले छात्रों को अलग-अलग कैटेगरी के हिसाब से जॉब मिलती है।

लेकिन, जो छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं वो सीजीएल यानि कंबाइंड ग्रैजुएट लेवल एग्जाम के हैं। इस ग्रुप के पास होने वाले छात्र इनकम टैक्स इंस्पेक्टर, कस्टम के इंस्पेक्टर, एक्साइज इंस्पेक्टर, नारकोटिक्स के इंस्पेक्टर आदि जैसी नौकरियों के लिए एलिजबल होते हैं। एसएससी एग्ज़ाम दो टियर में कराया जाता है। टियर 1 और टियर 2।

क्यों मचा हुआ है बवाल

आपको बता दें कि एसएससी एग्ज़ाम अब ऑनलाइन कराये जाते हैं यानि आप कंप्यूटर पर बैठकर अपनी परीक्षा देते हैं। एसएससी एग्ज़ाम को अभी तक आईएएस की तरह बेहद चाक चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के बीच कराया जाता रहा है। लेकिन, अब इसपर भी सवाल उठने लगे हैं। वजह है एसएससी एग्ज़ाम में सामने आई धाधली। इस धाधली का खुलासा उस वक्त हुआ जब इस ऑनलाइन परीक्षा का एक स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर सामने आ गया।

Protest Against Cheating In SSC CGLExam

Protest Against Cheating In SSC CGLExam

परीक्षा देते छात्र के डैस्कटॉप के इस स्क्रीनशॉट में ऐनी डेस्क का लोगो नज़र आ रहा था। जो एक ऐसा सॉफ्टवेयर है, जिससे कहीं दूर से बैठकर किसी कंप्यूटर को कंट्रोल करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इस स्क्रीनशॉट के सामने आने के बाद साफ हो गया कि इस एग्ज़ाम में बड़े पैमाने पर धाधली हुई है। यह खुलासा इस बात को भी ज़ाहिर करता है कि एसएससी और इस जैसी परीक्षाओं में एग्जाम कराने वाले सेंटर और एसएससी के कुछ लोग धाधली कर रहे हैं।

कैसे हो रहा है बच्चों के भविष्य से खेल

SSC एग्ज़ाम में करोड़ों का घोटाला सामने आया है। क्योंकि, इस एग्ज़ाम का पेपर ऑनलाइन था। इस धाधली के तहत ऐसे लोग जो कंप्यूटर चलाना नहीं जानते उनके कंम्यूटर को कुछ सॉफ्टवेयर्स की मदद से कहीं दूर से बैठकर कोई दूसरा व्यक्ति कंट्रोल कर रहा था। इस संबंध में कई जानकारों ने खुलासा किया है कि इस बार एसएससी की ऑनलाइन परीक्षा में यही खेल खेला गया। ऐनी एडमिन, ऐनी डेस्क जैसे कुछ सॉफ्टवेयर्स का इस्तेमाल करके किसी तीसरे व्यक्ति ने परीक्षा दी।

इतना ही नहीं इन सॉफ्टवेयर्स के जरिए सवालों के स्क्रीनशॉट्स लेकर भेजकर सॉल्व आंसर भी मंगाये गए। आज जब इस धाधली के खिलाफ हज़ारों छात्र सड़कों पर उतरे तो उन्हें करीब एक हज़ार पुलिसवालों ने घेर लिया और मोबाइल व इंटरनेट सेवाएं बंद करके उनकी आवाज दबाने की कोशिश की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.