इस लड़के ने पहले IIT और अब CAT में 100 प्रतिशत नंबर ला कर हासिल किया पहला रैंक, देश को है गर्व

इस दुनिया में हर इंसान में कोई ना कोई काबलियत जरुर छिपी होती है. हालांकि, कुछ लोग अपनी काबलियत और टैलेंट को जल्दी समझ लेते हैं जबकि, कुछ लोगों को कईं ठोकरें खाने के बाद अपना टैलेंट समझ आता है. दुनिया में कोई भी काम आसान नही है. सब लोगों को अपना काम दुसरे के काम से मुश्किल लगता है और दुसरे का अपने काम से आसान. जबकि, इस दुनिया में आसान तो भगवान का नाम भी नहीं है.

हर इंसान के अंदर कोई न कोई ऐसी प्रतिभा छिपी होती है, जो उसको मामूली इंसान से ख़ास बना देती है. जैसे हर इंसान खेल कूद में स्मार्ट नहीं होता, वैसे ही हर इंसान पढाई में भी शार्प नहीं होता. दुनिया में जितने भी फेमस स्टार्स या प्लेयर्स हैं, उनमे भी कोई ना कोई कमी जरुर रहती ही है. लेकिन अक्सर देखा जाता है कि लोग टैंलेंट को खेल नृत्य और संगीत से जोड़ते है. क्योंकि उन्हें लगता है कि पढ़ाई कोई टैंलेट थोड़ी होता है वो तो कई भी कर सकता है., परंतु आपने वो कहावत तो सुनी ही होगी कि “बंदर क्या जाने अदरक का स्वाद”. ठीक वैसे ही जो लोग खुद पढाई में कामयाबी नहीं हासिल कर पाते, उन्हें पढाई बाकी कामो से नीचे लगती है.

जबकि, देखा जाए तो पढाई अपने आप में बहुत बड़ा टैलेंट है. सब लोगों को पीछे छोड़ कर 100 प्रतिशत अंक हासिल करना कोई बच्चों का खेल नहीं है. कहते हैं ज्ञान के बिना इस दुनिया में हर चीज़ अधूरी है. ऐसे में मनुष्य जितना भी ज्ञान प्राप्त क्यूँ ना कर ले, लेकिन वह हमेशा कम ही लगता है. आपने अक्सर देखा ही होगा कि बहुत सारे ऐसे भी विद्यार्थी हैं, जिनका अव्वल आना तो दूर बल्कि, पास होना भी बेहद मुश्किल होता है. और ऐसे भी विद्यार्थी हैं, जिनके लिए कम मार्क्स लाना सबसे बड़ा दुःख बन जाता है.

बहुत सारे लोग 100 प्रतिशत की इस दौड़ में अव्वल आने को ही अपना लक्ष्य बना लेते हैं. ऐसे में आज के इस आर्टिकल में हम आपकी मुलाक़ात एक ऐसे ही विद्यार्थी से करवाने जा रहे हैं, जिन्होंने पढाई में अव्वल आकर और 100 प्रतिशत लाकर सबकी बोलती बंद कर दी है. दरअसल, आज हम बात करने जा रहे हैं आंध्र प्रदेश के रहने वाले प्रनीत रेड्डी की. प्रनीत ने हाल ही में  कॉमन एडमिशन टेस्ट में 100 प्रतिशत हासिल किए. साथ ही  100 प्रतिशत हासिल करके प्रनीत रेड्डी ने कॉमन एडमिशन टेस्ट में प्रथम स्थान हासिल करके नई पहचान बना ली है. दिलचस्प बात ये है कि प्रनीत रेड्डी इसे पहले IIT का एग्जाम भी क्लियर कर चुके हैं.

जिन पेपर्स को पास करना भी सबका सपना होता है, उन्ही पेपर्स में प्रनीत ने शतक लगा दिया है. फिलहाल प्रनीत अपनी इस परीक्षा को पास करने के बाद ग्रुप डिस्कशन और पर्सनल इंटरव्यू राउंड की तैयारी कर रहे हैं. प्रनीत  के अनुसार इन दोनों राउंड में भी अपनी बेहतर पर्फॉर्मेंस से सबका दिल जीतना चाहते हैं और साथ ही आईआईएम अहमदाबाद में दाखिला लेना चाहते हैं.  आपकी जानकारी के लिए मैं आपको बता दे कि जिन पेपर्स में प्रनीत ने 100 प्रतिशत अंक हासिल किए हैं, उसमे पास होना भी अपने आप में बहुत बड़ी चुनौती है.  परंतु जब कोई इंसान सच्चे मन से मेहनत और लगन करने की ठान लेता है उसे हरा पाना नामुमकिन है.

मिली जानकारी के अनुसार प्रनीत रेड्डी ने  वर्बल एबिलिटी और रीडिंग कॉन्प्रिहेंशन में 95.65 परसेंटेज अंक हासिल किए हैं.  वहीं अगर बात करें रीजनिंग और डाटा इंटरप्रिटेशन की तो प्रनीत ने दोनों एग्जाम में हंड्रेड परसेंट अंक हासिल किए हैं.  इसके इलावा क्वांटिटी में और ओवरऑल में भी उन्होंने 100 फीसदी अंकों को अपने नाम कर लिया है.  प्रनीत ने अपनी कामयाबी का राज 9:00 से 12:00 बजे तक लगातार टेस्ट्स की प्रेक्टिस करना बताया है.