विशेष

क्या इन सवालों के जवाब दे पाएंगे आप, इन का जवाब तो विज्ञान के पास भी नहीं है

हमारे जीवन में कई ऐसी चीजें होती रहती हैं, जिनके ऊपर भरोसा तो सभी लोग करते हैं, लेकिन उसके बारे में बता पाना मुश्किल होता है। आज हम जीवन की वैसी ही कुछ चीजों के बारे में बतानें जा रहे हैं, जिसका जवाब विज्ञान के पास भी नहीं है। इन चीजों का जवाब किसी के पास भी नहीं है। जैसे सपने क्यों आते हैं? नींद हर व्यक्ति को आती है, यह स्वाभाविक है। लेकिन नींद में कई तरह के सपने भी आते हैं। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है?

सपनों के बारे में कई तरह की मान्यताएं हैं लेकिन सच्चाई क्या है, कोई नहीं जनता हैसपने नींद के दौरान दिमाग में होने वाली क्रियाओं की वजह से आते हैं। सोते समय व्यक्ति की जो मानसिक स्थिति होती है, उसे उसी तरह के सपने आते हैं। अगर व्यक्ति सोते समय किसी दुर्घटना के बारे में सोच रहा है तो उसे रात में डरावने सपने आ सकते हैं। एक मत के अनुसार व्यक्ति की जो इच्छाएं पूरी नहीं हो पाती हैं वह हम अपने सपने में पूरा होता देखते हैं। मन की दबी हुई भावनाएं सपने के माध्यम से बाहर आती हैं।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार सपने व्यक्ति के जीवन में होने वाली घटनाओं के बारे में अच्छे या बुरे संकेत देते हैं। हालांकि इनमें से किसी भी बात को विज्ञान द्वारा सिद्ध नहीं किया गया है। वैज्ञानिकों के अनुसार जब व्यक्ति सोता है तो उसका दिमाग कई तरह की तस्वीरें और कहानियाँ बनाता है, जिसका कोई मतलब नहीं होता है। ऐसी ही कुछ और चीजें हैं, जिनका जवाब विज्ञान के पास नहीं है।

इन चीजों के पीछे का सच विज्ञान के पास भी नहीं है:

अक्सर हम दिनभर में कई बार उबासी करते हैं। ऐसा कहा जाता है कि उबासी नींद पूरी ना होने या थकान की वजह से आती है। लेकिन ये उबासी आनें की सही वजह नहीं है।

दुनिया में अरबों लोग हैं लेकिन किसी का फिंगरप्रिंट एक-दूसरे से मेल नहीं खाता है। उससे भी हैरान करने वाली बात यह है कि हर व्यक्ति के दसों उँगलियों के भी फिंगरप्रिंट अलग-अलग होते हैं। ऐसा क्यों होता है, इसका भी सही जवाब विज्ञान के पास नहीं है।

बचपन से ही हम सभी पढ़ते आ रहे हैं कि पृथ्वी का कोर सॉलिड है। लेकिन क्या सच में ऐसा है, इसे विज्ञान भी सिद्ध नहीं कर पाया है।

आप सभी लोगों को पता है कि न्यूटन ने गुरुत्वाकर्षण के नियम को बताया है, लेकिन आज तक कोई वैज्ञानिक यह नहीं बता पाया कि यह गुरुत्वाकर्षण आखिर होता क्यों है।

पृथ्वी की चुम्बकीय क्षेत्र को लेकर कई तरह के शोध हो चुके हैं, लेकिन आजतक ये कोई पता नहीं लगा पाया कि धरती की चुम्बकीय शक्ति आती कहाँ से है?

विज्ञान में सबसे चर्चा का विषय ब्लैक होल बना हुआ है। हर वैज्ञानिक इसके बारे में बात करता है। लेकिन इसकी सच्चाई आज भी जानने में विज्ञान फेल साबित हुआ है।

जिसनें भी जन्म लिया है, उसे एक ना एक दिन मरना ही है। लेकिन मरने के बाद आखिर क्या होता है, इसके बारे में बताने में विज्ञान आज भी असमर्थ है।

व्यक्ति को नींद उसके दिमाग की वजह से आती है लेकिन दिमाग में ऐसा क्या होता है, जिससे निंग आती है? इसे बताने में भी विज्ञान नाकाम हुआ है।

इंसान का दिमाग कंप्यूटर से भी तेज माना जाता है। पूरी जिंदगी में इंसान अपने दिमाग में कई चीजें स्टोर करके रखता है और बाद में उन्हें याद भी करता है। लेकिन ऐसा किस वजह से होता है? इसका जवाब भी विज्ञान नहीं दे पाया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close