दिल्ली : मुख्यमंत्री केजरीवाल की नीले रंग की ‘मशहूर’ कार हो गई चोरी, और खुल गई AAP की पोल…

नई दिल्ली – दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भले ही दिल्ली कि सुरक्षा के लाख दावे कर लें, लेकिन आज उनके साथ ऐसा कुछ हो गया कि उनकी सुरक्षा व्यवस्था के दावों कि सारी पोल खुल गई। केजरीवाल भले ही दिल्ली की सुरक्षा के लाख दावे करें लेकिन, अपराधियों के हौसले बुलंद हैं। इसका ताजा उदाहरण बृहस्पतिवार को तब देखने को मिला, जब दिल्ली सचिवालय के बाहर से खुद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की कार चोरी हो गई।

 CM केजरीवाल की नीली कार सचिवालय से चोरी

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कई वर्षों एक नीले रंग की वैगन-आर कार इस्तेमाल कर रहे थे, जो गुरुवार को सचिवालय के बाहर से चोरी हो गई। हालांकि, फिलहाल इस कार को केजरीवाल नहीं बल्कि आप पार्टी की एक कार्यकर्ता इस्तेमाल कर रही थी। केजरीवाल की यह कार दिल्ली सचिवालय के बाहर से चोरी हुई है। फिल्हाल पुलिस को इस घटना में एक सीसीटीवी फुटेज मिला है, जिसकी जाँच की जा रही है।

 पार्टी की कार्यकर्ता इस्तेमाल कर रही थी कार

आपको बता दें कि इस कार को केजरीवाल नहीं बल्कि आप पार्टी की एक कार्यकर्ता इस्तेमाल कर रही थी। केजरीवाल की यह कार दिल्ली सचिवालय के बाहर से चोरी हुई है। इस मामले में आईपी स्टेट पुलिस मामला दर्ज कर छानबीन कर रही है। पुलिस उपायुक्त मंदीप सिंह रणधावा के मुताबिक, इस कार का इस्तेमाल आप की महिला कार्यकर्ता वंदना कर रही थी। वह आप पार्टी की मीडिया सेल में काम करती हैं। वंदना के मुताबिक उन्होंने करीब दोपहर लगभग डेढ़ बजे कार को सचिवालय के बाहर खड़ा किया था। जो उनके वापस लौटने पर गायब थी।

कानून-व्यवस्था पर उठे सवाल

गौरतलब है कि पुलिस दिल्ली सचिवालय के इस इलाके को बेहद सुरक्षित मानती है। यहां की सुरक्षा व्यवस्था पर दिल्ली पुलिस की खास नजर होने के बावजूद इस तरह से कार की चोरी होना सुरक्षा व्यवस्था पर कई सवाल खड़े कर रही है। आपको बता दें कि केजरीवाल ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर कुंदन शर्मा ने जनवरी 2013 में यह कार गिफ्ट के रुप में दी थी। केजरीवाल ने राजनीति में आने के पहले से इस कार का प्रयोग कई सालों तक किया है। गौरतलब है कि केजरीवाल खुद को आम आदमी साबित करने के लिए अक्सर कई मौकों पर अपने बयानों में अपनी इसी नीली रंग की वैगन आर कार का हवाला देते रहे हैं। फिल्हाल मामला हाई प्रोफाइल होने के कारण पुलिस पूरी मुस्तैदी से कार चोरों की तलाश में जुट गई है। दिल्ली में सीएम की कार चोरी होना वाकई में बहुत बड़ा मामला है।