केंद्र व राज्य सरकार के प्रयास से फ्लैग वॉर में पाकिस्तान को मिली करारी हार, जानें कैसे?

नई दिल्ली: आजादी से पहले एक ही देश था भारत। काफी प्रयास के बाद भारत को आजादी तो मिल गयी लेकिन उसके दो हिस्से हो गए। पहला हिस्सा भारत बना और दूसरा हिस्सा पाकिस्तान बना। पाकिस्तान को 14 अगस्त को ही आजादी मिल गयी थी इसलिए पाकिस्तान अपना स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त को मनाता है। भारत को एक दिन बाद यानी 15 अगस्त को स्वतंत्रता मिली।

भारत और पाकिस्तान की दुश्मनी आज के दौर में किसी से छिपी हुई नहीं है। पाकिस्तान हमेशा भारत को नुकसान पहुँचाने की फिराक में लगा रहता है। भले ही पाकिस्तान और भारत प्रत्यक्ष रूप से लड़ाई नहीं कर रहे हैं, लेकिन सीमा पर भारत पाकिस्तान के बीच हर रोज जीत-हार का सिलसिला चलता रहता है। जी हाँ बॉर्डर पर पर हर शाम को दोनों देशों के बीच फ्लैग वॉर चलती है।

पाकिस्तान के सपनों पर फेर दिया पानी:

इस बार पाकिस्तान की साजिस फ्लैग वॉर में भारत को हराने की थी और उसनें अपने परेड वाले क्षेत्र में 400 फीट का पाकिस्तानी झंडा फहराने की पूरी तैयारी कर ली थी। लेकिन भारत की केंद्र सरकार और राज्य सरकार के प्रयासों ने उसके सभी सपनों पर पानी फेर दिया। इससे पहले की पाकिस्तान पाने परेड क्षेत्र में 400 फीट ऊँचा झंडा फहराता भारत सरकार ने अटारी बॉर्डर रिट्रीट सेरेमनी स्थल पर 360 फीट ऊँचा तिरंगा फहरा दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार तेज हवाओं की वजह से कई महीनों से इस झंडे को फहराया नहीं गया था। तेज हवाओं के चलने की वजह से झंडा फट जाता। इसलिए यह निर्णय लिया गया था कि जब कोई ख़ास मौका होगा तभी इस झंडे को फहराया जायेगा। लेकिन पाकिस्तान सरकार को यह ग़लतफ़हमी हो गयी थी कि अब सीमा पर भारत कभी तिरंगा झंडा नहीं फहराएगा। भारत को नीचा दिखाने के लिए पाकिस्तान ने 400 फीट ऊँचे झंडे का निर्माण शुरू कर दिया। पाकिस्तान ने यह झंडा करोड़ों खर्च करके चीन की मदद से बनाया था।

पाकिस्तानी खेमे में छा गई उदासी:

सभी काम पूरा हो जाने के बाद पाकिस्तान ने यह सोच था कि झंडा 13 अगस्त की रात को फहराया जायेगा। पाकिस्तान यह चाहता था कि 14 अगस्त को पाकिस्तानी स्वतंत्रता दिवस के दिन भारत को निचा दिखा सके। लेकिन सुरक्षा एजेंसियों की चौकसी की वजह से पाकिस्तान अपनी इस साजिश मेंफेल हो गया। भारत ने अटारी बॉर्डर पर रिट्रीट सेरेमनी स्थल पर 13 अगस्त की दोपहर को ही 360 फीट ऊँचा झंडा फहरा दिया था। इसे देखने के बाद पाकिस्तानी खेमे में उदासी छा गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.