राजनीतिसमाचार

विपक्ष का अपमान सहन नहीं कर सके चंद्रबाबू नायडू, रोते हुए बोले- CM बनने तक विधानसभा नहीं आऊँगा

चंद्रबाबू नायडू ने खाई कसम CM बनने तक विधानसभा में नहीं आऊँगा, रोते हुए बोले- मेरी बीवी को..

विधानसभा सदन में आप ने नेताओं को लड़ाई झगड़े और तीखी बहस करते हुए कई बार देखा होगा। लेकिन ऐसा बहुत कम होता है जब कोई नेता सबके सामने फूट-फूटकर रोने लगता है। शुक्रवार (19 नवंबर) आंध्र प्रदेश विधानसभा में एक ऐसा ही नजारा देखने को मिला। यहाँ तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) के अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू (Chandrababu Naidu) अपने विधायकों से बात करते हुए इतने भावुक हो गए कि फूट-फूट कर रोने लगे।

विधानसभा में कदन न रखने की खाई कसम

इस दौरान एन. चंद्रबाबू नायडू ने ये भी संकल्प लिया कि मैं अब सत्ता में लौटने तक आंध्र प्रदेश विधानसभा में कदम नहीं रखूंगा। नायडू ने अपने भावुक और दुखी होने की वजह भी बताई। उन्होंने बताया कि वे सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों की तरफ से उनके विरुद्ध लगातार यूज किए जा रहे अपशब्दों से दुखी हैं।

भावुक होकर बोले- मेरी पत्नी को टारगेट किया

नायडू जब भावुक हुए तो यह नजारा कैमरे में भी कैद हो गया। अब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वह भावुक होकर कहते हैं कि “बीते ढाई वर्षों से मैं अपमान सहन कर रहा हूं, मैं इस दौरान शांत रहा.. लेकिन आज उन्होंने मेरी बीवी को टारगेट किया। मैं सदैव सम्मान के लिए और सम्मान के साथ रहा। मैं अब ये सब और सहन नहीं कर सकता हूं।

विपक्ष बोला सब नाटक है

नायडू जब भावुक होकर ये सब कहने लगे तो विधानसभा अध्यक्ष तम्मिनेनी सीताराम ने उनका माइक कनेक्शन काट दिया, हालांकि वह फिर भी बोलते रहे। वहीं दूसरी तरफ वाईएसआर कांग्रेस के मेंबर्स ने नायडू के बयान को नाटक बोल दिया।

तीखी नोकझोंक के बाद हुए भावुक

पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू शुक्रवार को कृषि क्षेत्र पर एक संक्षिप्त चर्चा कर रहे थे। इस दौरान दोनों पक्षों के मध्य तीखी नोकझोंक हो गई। बस इसी दौरान नायडू बेहद निराश हो गए। इसके बाद उन्होंने विधानसभा के अपने रूम में पार्टी विधायकों के साथ बैठक की, जहाँ वे इतने भावुक हो गए कि फूट-फूट कर रोने लगे।

चंद्रबाबू नायडू का यह हाल देख वहां मौजूद टीडीपी विधायक दंग रह गए। उन्होंने भावुक हुए नायडू को जैसे तैसे संभाला। इस घटना के बाद सभी सदन में लौट आए। फिर नायडू ने अपने निर्णय का ऐलान करते हुए कहा कि जब मैं सत्ता में वापस लौटूँगा तभी विधानसभा सदन में कदम रखूंगा। मतलब जब तक वे CM नहीं बन जाते तब तक विधानसभा सदन में प्रवेश नहीं करेंगे।

देखें वीडियो-


वैसे इस पूरे मामले पर आपके क्या विचार हैं हमे कमेंट कर जरूर बताएं।

Back to top button
?>