हिन्दी समाचार, News in Hindi, हिंदी न्यूज़, ताजा समाचार, राशिफल

पाकिस्तान और चीन को करारा झटका देने के लिए मोदी और पुतिन ने बनाई ये ज़बरदस्त रणनीति

भारत, रूस के साथ मिलकर 5th जेनरेशन के फाइटर एयरक्राफ्ट (FGFA) डेवलप करेगा। इसके लिए दोनों देश जल्द ही बात करने वाले हैं। साथ ही भारत अपने सुखोई30-MKI को अपग्रेड कर ‘सुपर सुखोई’ बनाएगा। ये सुपर सुखोई बेहतर टेक्नोलॉजी के साथ और ज्यादा वेपन्स ले जाने में कैपेबल होंगे। अफसरों की मानें तो पाक-चीन से निपटने के लिए भारत को 42 स्क्वॉड्रन चाहिए।

7.8 बिलियन यूरो में मिलेंगे राफेल. – डिफेंस मिनिस्ट्री की मानें तो फ्रांस से होने वाली राफेल फाइटर डील जल्द हो सकती है। – भारत-फ्रांस के बीच 7.8 बिलियन यूरो (करीब 59 हजार करोड़ रु.) की डील हुई है। – हालांकि मिनिस्ट्री का ये भी कहना है कि 36 राफेल, देश की सिक्युरिटी के लिहाज से कम हैं। – बता दें कि भारत के पास महज 33 स्कवॉड्रन हैं। – इनमें से 11 स्क्वॉड्रन में MiG-21 और MiG-27 फाइटर हैं। इनमें से ज्यादातर की हालत अच्छी नहीं है। इसके चलते मिग में हादसे होते रहे हैं। – अफसरों की मानें तो चीन-पाकिस्तान की तरफ से बढ़ते खतरे से निपटने के लिए भारत को 42 स्क्वॉड्रन की जरूरत है।

अधिक जानें अगले पेज पर :

loading...