विशेष

रोज नियम से करें श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र का पाठ, बढ़ेगी पैसों की आवक, बीमारी रहेगी दूर

श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र (Shriganesh Sahastranam Stotra) : श्रीगणेश को विघ्नहरता के नाम से जाना जाता है। उनके आशीर्वाद से सारे दुख दर्द दूर हो जाते हैं। धर्म ग्रंथों की माने तो सभी प्रकार के सांसारिक सुखों की प्राप्ति के लिए रोज श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र का पाठ करना चाहिए। यदि आप किसी कारणवश रोज श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र का पाठ न कर पाएं तो सिर्फ बुधवार के दिन भी किया जा सकता है। ऐसा करने से आपको समस्याएं कुछ हद तक कम हो सकती है। इससे और भी कई फायदे मिलते हैं जिसके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं।

1. घर की नकारात्मक शक्तियों को दूर करने के लिए श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र  (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama) का पाठ करना लाभकारी होता है। इतना ही नहीं इसका पाठ करने से शत्रु भी कमजोर पड़ता है। वह आपके खिलाफ कुछ भी बुरा कार्य करता है तो उसका प्रभाव खत्म हो जाता है।

2. श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र (Shriganesh Sahastranam Stotra)  का पाठ करने से घर के सभी प्रकार के दुख एवं क्लेश खत्म हो जाते हैं। इससे आपके घर में सुख शांति बनी रहती है। इससे घर के लोगों के बीच प्रेम और स्नेह भी बढ़ता है। सभी लोग मिल जुलकर रहते हैं।

3.  गणेश सहस्त्रनाम  (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama) का उपयोग करने से बुरे सपने नहीं आते हैं। इसके अलावा ये किसी कार्य में आपको विजय दिलाने का और गर्भ की रक्षा करने का अच्छा साधन भी होता है।

श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र Shriganesh Sahastranam Stotra

4. घर की आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए भी गणेश सहस्त्रनाम  (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama) का नित्य पाठ आवश्यक होता है। ऐसा कहा जाता है कि जिस घर में इसका रोजाना पाठ किया जाता है वहां पैसों की कभी कोई कमी नहीं होती है। इस घर से मां लक्ष्मी कभी नहीं जाती है। घर में पैसों की आवक हमेशा बनी रहती है।

5. यदि घर में रोजाना गणेश सहस्त्रनाम का पाठ किया जाए तो परिवार में कभी कोई बीमार भी नहीं पड़ता है। जो पहले से बीमार होता है वह भी रोग मुक्त हो जाता है। इस पाठ की सकारात्मक ऊर्जा रोगों को घर से दूर ही रखती है।

6. संसार के सभी सुख प्राप्त करने के लिए व्यक्ति को रोज गणेश सहस्त्रनाम  (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama) का पाठ करना चाहिए।

श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र Shriganesh Sahastranam Stotra

7. गरीब व्यक्ति को रोज गणेश सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिए। इससे आपकी दरिद्रता दूर होती है।

8. कुंडली के दोष, वास्तु दोष, पितृ दोष इत्यादि को शांत करने के लिए गणेश सहस्त्रनाम का पाठ करना लाभकारी होता है। इससे आपके जीवन की कई समस्याएं दूर होती है।

आशा करते हैं कि आपको यह जानकारी पसंद आई होगी। आप भी इन लाभों को देखते हुए आज से ही गणेश सहस्त्रनाम का पाठ करना शुरू कर दें।

श्री गणेश सहस्रनामावली : श्री गणेश के 1000 नाम  (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

Shriganesh Sahastranam Stotra  (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र Shriganesh Sahastranam Stotra

 

 (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

 (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

 (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

 (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

 (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)

 (Sanskrit:गणेश सहस्रनाम; ganesa sahasranama)श्रीगणेश सहस्त्रनाम स्तोत्र

Back to top button
?>