ब्रेकिंग न्यूज़

प.बंगाल में कोरोना मरीजों की संख्या छिपाने पर भड़का डॉक्टर्स एसोसिएशन, कहा- सही संख्या बताएं ममता

पश्चिमी बंगाल के केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने अब तक यहां कोरोनावायरस के सिर्फ 116 मामले सामने आने की बात कही है। स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा दिए गए इस आंकड़े को लेकर पश्चिम बंगाल डॉक्टर्स एसोसिएशन और भाजपा संतुष्ट नहीं हैं और उन्होंने इस आंकड़े पर सवाल उठाए हैं।

डॉक्टर्स एसोसिएशन ने पंश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को एक पत्र लिखा, जिसमें उन्होंने रिक्वेस्ट किया कि कोरोनावायरस के संक्रमण को ध्यान में रखते हुए कोरोना पीड़ितों की सही और प्रामाणिक संख्या ही सार्वजनिक की जाए, जिससे विश्व के सामने राज्य की सही तस्वीर आ सके।

इसके अलावा डॉक्टरों ने मुख्यमंत्री से यह भी मांग की कि उन्हें अच्छी किस्म के पीपीई किट मुहैया कराई जाए, ताकि वे बेख़ौफ़ होकर मरीजों की जांच कर सकें। साथ ही उन्होंने कोरोना रोकथाम में लगे लोगों को विशेष पैकेज देने की भी मांग की है।

भाजपा भी डॉक्टर्स एसोसिएशन की इस मांग का समर्थन कर रही है। भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने शनिवार को राज्यपाल जगदीप धनखड़ से मुलाकात करने के बाद उनसे अनुरोध किया कि वह कोरोना पीड़ित लोगों की सही तस्वीर जनता के सामने लेकर आएं।

राज्यपाल से मुलाकात करने के बाद पश्चिम बंगाल भाजपा के पूर्व अध्यक्ष राहुल सिन्हा ने ममता बनर्जी सरकार पर आरोप लगाया है कि वे डेटा छिपा रहे हैं। राहुल सिन्हा ने कहा कि राज्य के मालदा और पश्चिम मेदिनापुर जिले में टेस्टिंग किट मौजूद हैं, लेकिन इसके बावजूद लोगों की टेस्टिंग नहीं की जा रही है।

राहुल सिन्हा ने यह भी कहा कि तब्लीगी जमात के लोग पश्चिम बंगाल भागकर आए हैं और यह संख्या काफी बड़ी है। ममता सरकार को डर है कि टेस्ट कराने से उनका वोट बैंक नाराज हो सकता है। सिन्हा ने पश्चिम बंगाल की पुलिस पर भी आरोप लगाते हुए कहा कि वे भी ममता सरकार से मिले हुए हैं। उनके पास पूरी लिस्ट है कि कौन-कौन दिल्ली के मरकज में शामिल हुए थे, लेकिन राजनीतिक डर से सब पता होते हुए भी पुलिस उन पर कार्रवाई नहीं कर पा रही है।

साथ ही सिन्हा ने यह भी कहा कि राज्य में कई अल्पसंख्यक इलाकों में लॉकडाउन हुआ ही नहीं है, जो बड़ी संख्या में कोरोनावायरस को आमंत्रण दे रहा है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से इस मामले पर राहुल सिन्हा ने स्पष्टीकरण की मांग की है।

पढ़ें अमेरिका में कोरोना ने मचाया मौत का तांडव, एक दिन में 2 हजार से ज्यादा लोगों की मौत, भुखमरी जैसे हालात

यह भी पढ़ें कोरोना संक्रमण को रोकने में केजरीवाल पूरी तरह से हुए फेल, दिल्ली में 1000 से ज़्यादा संक्रमित

Back to top button