विशेष

दो भारतीय पॉयलटों को कैद करने के दावे कर रही थी पाक सेना, सामने आई सच्चाई तो उड़ गई हंसी

पुलवामा में 40 सीआरपीएफ के साथ हुए निंदनीय कृत का बदला लेने के लिए 26 फरवरी की सुबह भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान की सीमा मे एयरस्ट्राइक कर दीं। उनकी करीब 300 आतंकी मारे गए औऱ पाकिस्तान भारत के इस हमले से बौखला गया और लगातार बहाने बनाता रहा की उनका तो कोई नुकसान ही नहीं हुआ है। इसके बाद जब 27 फरवरी की सुबह पाकिस्तान की वायुसेना ने भारतीय सीमा मे घूसपैठ की कोशिश की तो वहां भी उन्हें मुंह की खानी पड़ा। हालांकि इस पूरी घटना मे हमारे एक पॉयलट लापता हो गए और पाकिस्तान ने वीडियो रिलीज कर कहा की भारतीय पॉयलट उनके ही कब्जे में हैं, लेकिन इसके बाद भी पाकिस्तान ने ऐसा काम किया जिससे उसका मजाक बन रहा है।

अपने पॉयलट को पाक ने समझ लिया भारतीय

जब पाकिस्तान के विमान को भारत में ध्वस्त किया गया तो पाकिस्तान ने फिर इस बात को मानने से इनकार कर दिया और कहा कि हमारा कोई विमान नहीं गिरा है। हालांकि पॉयलट पर पाकिस्तान के दावों ने उसके अपने ही झूठ से अपना पर्दाफाश करना शुरु कर दिया है। पाकिस्तान लगातार दावा कर रहा था की उसने भारत के दो पायलटों को अपनी हिरासत में लिया है उनमें से एक पायलट पाकिस्तान का ही था जिसे अस्पताल में भर्ती करने का दावा कर रहा था।हालांकि जब उन्हें ये बात समझ आ गई तो उन्हें सफाई देनी पड़ी की भारत का सिर्फ एक ही कमांडर उन्होंने अपने कब्जे में रखा है।

बता दें कि 27 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के नौशेरा में पाकिस्तान एयरफोर्स के तीन विमानों ने सीमा उल्लंघन किया। भारतीय सेना पाकिस्तान के नापाक इरादों से पहले ही वाकिफ थी और इसलिए अलर्ट पर चल रही भारतीय वायुसेना ने तुरंत इस बात का जवाब दे दिया। उसका विमान तबाह कर दिया गया और बाकी भागने को मजबूर हो गए, इस पर पाकिस्तान ने कुछ भी मानने से इनकार कर दिया। पाकिस्तान ने कहा कि जिस F-19 विमान को गिराने की बात भारत कह रहा है वो इस ऑपरेशन का हिस्सा नहीं था।

पाकिस्तान के सेना प्रवक्ता समेत प्रधानमंत्री इमरान खान ने मीडिया ब्रीफिंग में ये बताया कि उन वायुसेना ने भारत के दो विमान मिग-21 को मारा गिरा. है। साथ ही पाकिस्तान सेना के प्रवक्ता आसिफ गफूर ने  ये भी कहा कि दो पॉयलट को उन्होंने अपनी हिरासत में ले लिया है, लेकिन बाद में अपने इसी बयान से वो खुद ही पलट गए।

आसिफ गफूर ने ट्वीट किया और कहा कि उनकी हिरासत में सिर्फ एक भारतीय पायलट है, लेकिन कुछ समय पहले ही वो दो भारतीय पॉयलट को हिरासत में रहने की बात कर रहे थे। ऐसे मे इस तरह के सवनाल उठते हैं कि क्या दूसरा शख्स पाकिस्तानी है जिसे पाकिस्तानी सेना जबरन भारतीय बता रही थी। ये जानबूझकर कहा गया या फिर गलती से हुआ।

ऐसा इसलिए कहा जा रहा है कि पाकिस्तान के दावे करने के कुछ वक्त बाद ही भारतीय विदेश मंत्रालय ने प्रेस कॉन्फ्रेस में ये बात बताई थी की उनका सिर्फ एक विमान और एक पॉयलट लापता है। दरअसल भारत ने पाकिस्तान के एक विमान को मारा था जो आसमान से गिरता हुआ उनकी LOC पर ही गिरा था। ऐसा हो सकता है कि उन्होंने अपने ही पॉयलट को भारतीय मान लिया हो और बाद में सच पता चला है।

यह भी पढ़ें

Back to top button