जया की सिर्फ एक ये बात सुनकर अमिताभ की जिंदगी से दूर हो गईं थीं रेखा, आज तक नहीं मिलाती नजरें

बॉलीवुड फिल्मी कहानियां बनाता है जिसमें जबरदस्त इमोशन, ड्राम और ट्वीस्ट होते हैं और ये कहानी पर्दे पर खूब पसंद की जाती है। ये भी एक दिलचस्प बात ही की ये कहानियां कई बार फिल्मी होते हुई भी बॉलीवुड के सितारों की असली कहानी होती है। ये ऐसी कहानियां होती है जिसे दर्शक चाव से सुनते भी हैं और इसके बारे में और बातें जानने के लिए उत्सुक भी रहते हैं। ऐसी ही इमोशन औऱ ड्रामे से भरी असली कहानी रही है जया-अमिताभ औऱ रेखा की जो कभी सुलझ भी नहीं पाई। ये कहानी ऐसी है जिसे आज भी देखने और जानने के लिए लोगों के कान खड़े हो जाते हैं।आज इसी कहानी का जुड़ा एक और किस्सा हम आपको बताने जा रहे हैं।

रेखा की मांग में सिंदूर

ये बात किसी से छिपी नही है की जया से शादी होने के बाद भी अमिताभ रेखा के काफी करीब हो गए थे और इससे जया औऱ अमिताभ का रिश्ते पर बहुत असर पड़ा था। 1977 के आस पास दोनों के अफेयर की खबरें काफी सुर्खियां बटोरा करती थीं। इन सुर्खियों को आग तब मिल गई थी जब ऋषि कपूर की शादी में रेखा माथे पर सिंदूर लगाए पहुंच गई थी। उन दिनों ये खबरें भी आने लगी थीं की रेखा मां बनने वाली हैं। इन खबरों ने जया और अमिताभ के रिश्ते पर कई सवाल खड़े कर दिए थे। हालांकि रेखा ने सिंदूर की बात पर कहा था कि वह शूट कर रही थी और जल्दी में इस तरह ही शादी में पहुंच गई थी।हालांकि ये सब जया बच्चन के लिए नागवार गुरजर रहा था। उन्हें ये समझ आ गया था कि अगर सही समय पर उन्होंने सही कदम नहीं उठाया तो उनकी दुनिया उजड़ जाएगी। इसके चलते जया ने उस दिन का इंतजार किया जब शूटिंग के सिलसिले में अमिताभ मुंबई के बाहर गए। जया ने रेखा को फोन किया। रेखा ने फोन उठाया तो उन्हें लगा की जया उन्हें खरी खोटी सुनाने वाली हैं, लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ।

जया के वो शब्द…

जया ने फोन करके रेखा से बात की औऱ उन्हें डिनर पर बुलाया। रेखा को लगा कि जया उन्हेंघर बुलाकर बेइज्जत करना चाहती है। रेखा सजी धजी जया के घर पहुंची। जया मेजबान थीं और बिल्कुल ही सादे कपड़ों में। दोनों की बातचीत शुरु हुई, लेकिन जया ने एक बार भी अमिताभ का जिक्र रेखा से नहीं किया। उन्होंने रेखा को अपना घर दिखाया, गार्डन दिखाया। रेखा सब सुन रही थीं और सारी बातें कर रही थीं, लेकिन उन्हें यकीन नहीं हो रहा था कि जया एक बार भी कुछ कह क्यों नहीं रहीं।

डिनर शानदार रहा औऱ फिर रेखा ने जाने की बात कही। जया रेखा को दरवाजे तक छोड़ते हुए आई और एक ऐसी बात बोली जिसे सुनकर रेखा धक्क रह गईं। जया ने रेखा से कहा – चाहे कुछ भी हो जाए मैं अमित को नहीं छोड़ूंगी…..रेखा अवाक थीं, लेकिन फिर वो अपने घर चली गईं। अगले दिन दोनों के साथ में डिनर करने के किस्से सामने आए, लेकिन दोनों ने ही चुप्पी साध ली। अमिताभ को समझ आ गया कि वह अपनी शादीशूदा जिंदगी बर्बाद कर लेंगे इसलिए उन्होंने रेखा को ही अपने जीवन से निकाल दिया। उस दिन के बाद से आज तक रेखा जया और अमिताभ ने इस दूरी को वैसा ही बरकरार रखा है।

यह भी पढ़ें