रनबीर कपूर की इस खूबसूरत हीरोइन की ऐसी हो गई थी हालत, पूछना पड़ा था -क्या जिंदा हो तुम….

रनबीर कपूर की पिछले साल रिलीज फिल्म संजू ने बॉक्स ऑफिस पर जबरदस्त कमाई की थी। इस साल उनकी फिल्म ब्रह्मास्त्र रिलीज होने से पहले ही चर्चा में है। रनबीर कपूर तो अपनी पहली फिल्म से ही सुपरस्टार का टैग पा चुके हैं, लेकिन उनकी एक हीरोइन ऐसी भी है जो लगातार फ्लॉप होने के चलते अब बदल सी गई है। बॉलीवुड की हॉट और ग्लैमरस अदाकारओं में से एक नरगिस फाखरी ने अपने करियर की शुरुआत रनबीर के साथ फिल्म रॉकस्टार में की थई। इस फिल्म से उन्हें सफलता मिली, लेकिन अभी तक उन्होंने ऐसा मुकाम हासिल नहीं किया है जो उन्हें बॉलीवुड में स्थापित कर सके। ऐसे में अब नरगिस का लुक भी काफी बदला हुआ नजर आ रहा है।

लगातार फिल्में हो रही फ्लॉप

हाल ही में नरगिस की राजकुमार राव के साथ फिल्म 5 वेडिंग्स रिलीज हुई थी, लेकिन वह पर्दे पर कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई। 2016 में भी रिलीज हुई नरगिस की 5 फिल्में फ्लॉप हुई थीं। रनबीर के अलावा वरुण धवन के साथ उनकी फिल्म मैं तेरा हीरो सफल थी, लेकिन इसमें भी उन्हें टक्कर देने के लिए इलियाना डीक्रूज थीं। फिल्म ढिशूम में भी वह चंद पलों के लिए नजर आईं थी। ऐसे में फिल्म हिट ना होने का दबाव नरगिस पर कुछ ज्यादा हो गया है जिसके चलते उनकी हालत खराब हो गई है।

ग्लैमर की दुनिया में सिर्फ आ जाना ही काफी नहीं है बल्कि बने रहना भी बहुत जरुरी है। इस इंडस्ट्री में जो लगातार बना रहता है वही टिका रहता है और लगातार बने रहने के लिए हिट फिल्में देना जरुरी है। आयटम सॉन्ग के करने के बाद भी नरगिस को अभी तक एक भी ऐसा दमदार रल ऑफर नहीं हुआ है जिसमें उनकी एक्टिंग की तारीफ हो और दर्शकों का ध्यान उन पर जाएं।  इस बारे में नरगिस भी जानती हैं कि कैसे धीरे धीरे उनका करियर बहुत पीछे होता चला जा रहा है।

जब मां ने पूछा -जिंदा हो तुम

नरगिस ने कहा कि जब मैं लोगों से कहा करती थी की मैं 6 महीने के ब्रेक पर जा रही हूं तो लोग घबरा जाते थे। मैंनें इस बीच बहुत कुछ खोया है। अपने सपनों को पूरा करने के लिए आपको बहुत सी चीजें छोड़ना पड़ती हैं। उन्होंने कहा कि मैं अपने काम से खुश हूं क्योंकि फिल्में करना मुझे अच्छा लगता है। बीते कुछ सालों से इन फिल्मे के चलते मैं अपने परिवार और दोस्तों से काफी दूर हो गई है। मैंने 3 साल से अपनी मां को नहीं देखा। खुशियां रिश्तों से ही होती हैं।

नरगिस ने कहा कि जब आपको उनका सपोर्ट नहीं मिलता तो ये आपकी सेहत के लिए बहुत खराब होता है। उन्होंने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री एक ऐसी जॉब है जहां आपको भावूक होना पड़ता है। एक जिंदगी के साथ हम दूसरी जिंदगी भी जीते हैं। मुझे हमेशा से ही ज्यादा मेहनत करनी पड़ी थी। मुझे हिंदी भाषा में दिक्कत होती थी। इस समस्या को दूर करने  लिए मैंने एक ट्यूटर भी रखा था। नरगिस ने कहा कि मै इतना बिजी रहती थी की मेरी मां मुझे मेल करती थी क्या मैं जिंदा हूं। मेरे लिए काम जरुरी है, लेकिन रिश्ते भी। नरगिस को एक अदद हिट की दरकार है जिससे उनका करियर आगे बढ़ सके। बता दें कि 8 फरवरी को उनकी फिल्म अमावस रिलीज होने वाली है।

यह भी पढ़ें