125 करोड़ भारतीयों को मोदी सरकार ने दिया ये बड़ा तौहफा, सालों से कर रहे थे आप इसका इंतजार

केंद्र की मोदी सरकार ने आज यानि एक फरवरी को संसद में अपना अंतरिम बजट पेश किया। इस बजट में सरकार ने देश की जनता से कई वादे किये तो कई तरह की योजनाओं को भी लॉन्च किया। अपने पहले कार्यकाल के आखिरी बजट में सरकार ने सभी वर्गो पर ध्यान दिया। फिर चाहे किसान हो या युवा। हर किसी से सरकार ने लोक लुभावने वादे किये, ऐसे में 125 करोड़ भारतीयों को जिस फैसले का इंतजार सालों से रहा है, उसे मोदी सरकार ने पूरा कर दिया। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

देश की जनता को बड़ा तौहफा देते हुए मोदी सरकार ने टैक्स में बड़ा बदलाव करने का ऐलान किया है। जी हां, संसद से बजट जब पेश हो रहा था, तब मोदी सरकार ने एक बड़ा ऐलान किया, जिससे 125 करोड़ भारतीयों के चेहरे पर एक मुस्कान देखने को मिली। इस फैसले का इंतजार जनता सालों से कर रही थी। माना जा रहा था कि पिछले साल ही मोदी सरकार अपने पूर्ण बजट में इसका ऐलान कर देगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। ऐसे में अब मोदी सरकार ने इस ऐलान से 125 भारतीयों का दिल जीत लिया है।

टैक्स में किया बड़ा बदलाव

मोदी सरकार ने अपने पहले कार्यकाल के आखिरी बजट में टैक्स में बड़ा बदलाव किया है। ऐसे में अब 5 लाख रूपये सलाना कमाने वाले लोगों को टैक्स नहीं भरना पड़ेगा। पहले यह राशि 2.5 लाख तक थी, लेकिन अब यह 5 लाख हो गई है। इसके अलावा इसके साथ कई अन्य चीज़े भी जोड़ी गई है, जिसका फायदा आम आदमी को मिलेगा। यानि अब अगर आप 41 हजार रुपये पर महीने कमाते हैं, तो आपको टैक्स नहीं देना पड़ेगा।

अगर करेंगे इतना निवेश तो मिलेगा और छूट

बता दें कि अगर आप डेढ़ लाख रुपये तक निवेश करते हैं, तो आपको साढ़े लाख रुपये तक टैक्स में छूट मिल जाएगा। यानि ऐसे में अगर आप महीना 54 हजार रुपये कमाते हैं, तो आपको टैक्स नहीं भरना पड़ेगा। इसके अलावा एफडी के ब्याज पर 40 हजार तक कोई टीडीएस नहीं देना होगा और 1.50 लाख रूपये जमा करने पर भी कोई टैक्स नहीं होगा। इतिहास में पहली बार इतनी बड़ी छूट जनता को मिली है।

तीन करोड़ लोगों को मिलेगा इसका फायदा

आकड़ों की माने तो मोदी सरकार के इस ऐलान से लगभग 3 करोड़ लोगों को फायदा होगा। बजट में इसका ऐलान होते ही पुरे देश में एक बार फिर मोदी मोदी के नारे लगने लगे। मोदी सरकार के इस फैसले से हर कोई खुश हो रहा है। नौकरीपेशा के लोगों के लिए यह फैसला वरदान है। अब देखने वाली बात यह होगी कि मोदी सरकार का यह मास्टर स्ट्रोक युवाओं को बीजेपी के प्रति आकर्षित करने में लाभकारी होगा या नहीं। खैर, यह तो वक्त ही बताएगा, लेकिन यह साफ है कि मोदी सरकार ने एक बार फिर से इतिहास रच दिया।