ठग्स ऑफ हिंदोस्तान: आमिर खान से हुई बड़ी गलती, अमिताभ को भी नहीं था अंदाजा

न्यूज़ट्रेेंड वेब डेस्क: बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान ने फैंस के दिलों में अपनी एक ऐसी छवि बना ली है कि लोग आमिर की फिल्म की टिकट लेने से पहले एक पल भी नहीं सोचते, और इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ जब दीवाली के मौके पर आमिर खान की फिल्म ठग्स ऑफ हिंदोस्तान को आना था, और इस बार उनके साथ इस फिल्म में महानायक अमिताभ बच्चन जी भी थे, लोगों को ये पूरा विश्वास था कि ये फिल्म लोगों के लिए एक बेहतरीन दीवाली का गिफ्ट होगी, लेकिन लोग शायद यह भूल गए कि गलतिया इंसान से ही होती हैं, और इस बार ये गलती आमिर खान से हो गई।

जब ‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान’ का पहला लुक सामने आया था तब लोगों ने इसको बॉलीवुड की ‘पाइरेट्स ऑफ कैरेबियन’ का नाम दिया था। ‘पाइरेट्स ऑफ कैरेबियन’ हॉलीवु़ड की जानी-मानी फेमस फिल्म है, लेकिन फिल्म के रिलीज होने के बाद लोगों ने इसको मनोज कुमार की फिल्म ‘क्रांति’ और जॉनी डेप की ‘पाइरेट्स ऑफ कैरेबियन’ का ऐसा मिक्सचर बताया जिसको सही से मिलाया नहीं गया। बोल सकते हैं, जिसे ठीक तरह से मिलाया नहीं गया है। इसकी वजह से ‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान’ न तो पूरी तरह से ‘पाइरेट्स ऑफ कैरेबियन’ बन पायी है और न ही अपने आमिर खान पूरी तरह जॉनी डेप।

फिल्म की कहानी की बात करें तो इसमें 17वीं सदी के उस समय को दिखाया गया है जब अंग्रेज एक-एक करके राजाओं को अपना गुलाम बना रहे थे हिंदुस्तान पर कब्जा करने की फिराक में थे। उनके खिलाफ जब रौनकपुर नाम की रियासत के राजा रॉनित रॉय यानी की मिर्जा साहब नें अंग्रेजों की बगावत शुरू की तो उनके पूरे परिवार को अंग्रेजों ने खत्म करने की चाल चली, उनकी ये चाल कामयाब रही और राजा के पूरे परिवार का खात्मा कर दिया गया लेकिन उनकी बेटी जफीरा (फातिमा सना शेख) को मिर्जा साहब की रियासत के वफादार अमिताभ बच्चन यानी की शुदाबख्श अपनी जान पर खेलकर बचा लाता है।

और इसके बाद फिल्म में इनके बदले की कहानी ही दिखाई जाती है। इसके बाद फिल्म में एंट्री होती है आमिर खान की जो अंग्रेजों के साथ मिलकर चाल चलता है और जफीरा की जिंदगी में एंट्री करता है, इसके बाद फिल्म की कहानी पूरी तरह से बदलती नजर आती है, जिसके लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

फिल्म में अमिताभ ने अपनी अदाकारी से लोगों का दिल जीता, लेकिन उनको कुछ समय के बाद ही पर्दे से गायब कर दिया गया, जो फैंस को पसंद नहीं आया।

वहीं आमिर खान से जितनी आशा की जा रही थी वो इसमें नाकामयाब रहे, वो एक फिरंगी मल्लाह के रूप में मस्खरी करते नजर आएं लेकिन लोगों को इतना प्रभावित नहीं कर पाए, लेकिन उनके किरदार को उभारने में जीशान याकूब की भरपूर मदद मिली है, बात करें जीशान की तो वो फिल्म में आमिर खान के एक अच्छे दोस्त का किरदार निभाया है।

बात करें कैटरीना कैफ की उनका फिल्म में खासा रोल नजर नहीं आया है, फिल्म में 2 गानों और 3 सीन्स में कैटरीना लोगों का मनोरंजन करती हैं। वहीं फातिमा को इस  फिल्म के जरिए खुद को साबित करने का एक बड़ा मौका मिला था, जिसमें वो सफल नहीं हो पाई।

कुल मिलाकर फिल्म से जितना एक्सपेक्टेड किया जा रहा था उसको देखते हुए फिल्म बुरी तरह से नाकामयाब रही है। लोगों ने फिल्मों को देखकर मिले जुले रिएक्शन दिए हैं। नीचे देखिए लोगों के ट्वीट-

ये भी पढ़ें : इस वजह से अमरीश पुरी ने आमिर खान के साथ कभी नहीं किया काम, वजन जानकर हैरान रह जाएंगे