एक कैप्सूल का सेवन आपको मोटापे से रखेगा कोसो दूर, जानिये कैसे

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क: मोटापा एक ऐसी बीमारी है, जो आजकल की जनरेशन को अपने चपेट में बुरी तरह से जकड़े हुए हैं। आजकल की दिनचर्या और रहन-सहन के चलते में मोटापे की चपेट में कई लोग जकड़े हुए हैं, खुद को मोटापे से दूर और फिट बनाए रखने के लिए जिम में जाकर घंटो पसीना बहाते हैं, हेल्दी डाइट खाते हैं लेकिन इसके बावजूद भी मोटापे  में कंट्रोल नहीं हो पाता है। और आजकल इस मोटापे का शिकार हो रहे हैं कम उम्र के बच्चे, पैदा होने के साथ ही उनमें मोटापा अपना घर बना लेता है। लेकिन अब हम आपको एक ऐसे कैप्सूल (motape ki dawai) के बारे में बताएंगे जिसके सेवन से आप मोटापे पर काबू पा सकते हैं। आपको सिर्फ एक कैप्सूल खाना होगा और आप इस मोटापे की चपेट में नही आएंगे। तो चलिए आपको बताते हैं उस कैप्सूल और उससे होने वाले फायदों के बारे में।

motape ki dawai

मोटापे की दवाई (motape ki dawai)

शोधकर्ताओं द्वारा की गई एक नई स्टडी में दावा किया गया है कि विटामिन डी सप्लीमेंट के सेवन से बच्चों में बढ़ रहे मोटापे को कम किया जा सकता है।

आजकल की जनरेशन में अधिकतर बच्चे मोटापे का शिकार हैं, और जब उन सभी बच्चों की डाइट को देखा गया तो उनकी डाइट में  मिनरल्स, विटामिन के साथ-साथ विटामिन डी की भी कमी देखी गई।

motape ki dawai

बता दें इस स्टडी के मुताबिक बच्चों को मोटापे का शिकार होने से बचाने का सबसे अच्छा विकल्प है हेल्दी डाइट और एक्सरसाइज।

ग्रीस में हुई एक नई स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चों में बढ़ रहे कोलेस्ट्रोल और मोटापे के स्तर को नियंत्रण में रखने के लिए बच्चों की डोज में विटामिन डी की कैप्सूल(Motape ki dawai) का सेवन करना चाहिए। इससे मोटापे को नियंत्रण में रखने में मदद मिलती है।

स्टडी की रिपोर्ट के मुताबिक एक और चीज है जो सामने निकलकर आई है जिसके मुताबिक मोटे और ज्यादा वजनी बच्चों में बडे होने पर उनके मोटापे का शिकार होने की संभावना ज्यादा होती है। इसके साथ ही उनके बडे होने पर उनकों डायबिटीज, दिल की बीमारी और कैसंर जैसी घातक बीमारी होने का खतरा भी अधिक होता है।

motape ki dawai

इस स्टडी में बताया गया है कि जिन लोगों का पेट जरूरत से ज्यादा निकला होता है, वो लोग विटामिन डी की कमी का शिकार हो सकते हैं। इसके साथ ही उनके शरीर में न्यूट्रिएंट्स की कमी होने के कारण हड्डियां और इम्यून सिस्टम भी कमजोर होने लगता है।

विटामिन डी सिर्फ मोटापे (Motape ki dawai)  को कम करने में ही नहीं बल्कि डायबिटीज, कैसंर और बालों के झड़ने जैसी समस्या को कम करने में भी मददगार साबित होती हैं।

इस स्टडी के दौरान ही शोधकर्ताओं ने 232 मोटे बच्चों को 1 साल तक अपनी निगरानी में रखा। जिनमें से आधे बच्चों को रोजाना विटामिन डी के कैप्सूल का सेवन कराया गया , वहीं  115 बच्चों को प्लेसबो यानी उन्हें इंजेक्शन या चीनी की गोलियां दी गई।

motape ki dawai

जिनके नतीजों में सामने आया कि जिन बच्चों को रोजाना विटामिन डी का सप्लीमेंट दिया गया उनमें 12 महीने के बाद वजन और कोलेस्ट्रोल का स्तर उन बच्चों के मुकाबले बेहद कम पाया गया जिन्हें प्लेसबो का सेवन कराया गया था।

स्टडी के मुख्य लेखक  Dr. Evangelia Charmandari ने बताया कि इस स्टडी कि रिपोर्ट के जरिए मोटापे से ग्रस्त बच्चों में दिल और दूसरी गंभीर बीमारियों को दूर करने में मदद मिलेगी।

आप को ये लेख ‘एक कैप्सूल का सेवन आपको मोटापे से रखेगा कोसो दूर’ कैसे लगा और मोटापे की दवाई (motape ki dawai) जो बताया गया है उस के बारेमें अपनी राय दें

ये भी पढ़ें : स्वर्ण भस्म के उपयोग से होने वाले लाभ,औषधीय गुण और दुष्प्रभाव