स्वास्थ्य

डोलो 650 टैबलेट (Dolo 650 in hindi) का इस्तेमाल, लाभ और दुष्प्रभाव जानें

Dolo 650: डोलो 650 (Dolo 650 in hindi) एक प्रकार की गोली है जिसे दर्द और बुखार में राहत पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह 15 टैबलेट की एक पत्ती पैकैजिंग में उपलबद्ध होती है जो आपको मेडिकल स्टोर में आसानी से मिल जाएगी। डोलो 650 टैबलेट एक पेरासिटामोल (peracetamol) हैं जिनमें दर्द खत्म करने के और बुखार कम करने के गुण होते हैं। यह उन रोगियों को भी दिया जाता हैं जिनका कैंसर का इलाज चल रहा हो। अगर आपको एलर्जी की प्रतिक्रिया महससू होती है या कोई अन्य दूसरे लक्षण दिखते हैं तो इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

कैसे काम करती है डोलो 650 (Dolo 650 in Hindi)

इस दवाई में दो गुण होते हैं। एक तो यह बुखार को कम करता है और दूसरा यह शरीर में हो रहे दर्द को कम करता है। यह दवा पूरी तरह से शरीर में घूल जाती है और विशेष कर मस्तिष्क के उस हिस्से पर काम करती हैं जहां से शरीर का तापमान नियंत्रित होता है। चेहरे पर रक्त प्रवाह और पसीने के साथ गर्मी से हुए नुकसान को भी कम करता है। इस दवा का असर शरीर में 1 घंटे के अंदर होता है और शरीर को आराम 6 घंटे तक रहता है।

Dolo 650

कब करते हैं डोलो 650 टैबलेट का इस्तेमाल

डोलो 650 टैबलेट कई बीमारियों में आराम देता है, जैसे

  • सरदर्द
  • जोड़ो का दर्द
  • बुखार
  • दांत दर्द
  • सर्दी
  • कान का दर्द
  • फ्लू

डोलो 650

डोलो 650 (Dolo 650) के मुख्य आकर्षण

कब होता है दवाई का असर

  • पैरासिटामोल का प्रभाव एक घंटे के भीतर होता है। कई बार इंजेक्शन के रुप में इसे दिया जाता है। आपके दर्द में आराम 5 मिनट में भी मिल सकता है या फिर अगर आपको बुखार है तो इसमें लगभग 30 मिनट का समय मिल सकता है।
  • इसकी आदत पड़ने की भी कई जानकारी सामने नहीं आई है।
  • अगर आप स्तनपान यानी ब्रेस्ट फीडिंग करा रही है तो पहले चिकित्सक से इस बात की परामर्श ले लें।

Dolo 650

डोलो 650 का विकल्प (alternates of Dolo 650 MG)

अगर आपके पास यह दवा ना मौजदू हो तो इसके विकल्प के तौर पर आप इन दवाईयों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

  • क्रोकिन 650 एमजी गोली (Crocin)
  • कैलपॉल 650 एमजी टैबलेट (Calpol)
  • डॉलीपरेन 650 एमजी टैबलेट (Doliprane)
  • पारापाईप 650 एमजी टैबलेट (Paracip)
  • एक्टन 650 एमजी टैबलेट (Acton)

डोलो 650 के दुष्प्रभाव (Side Effects of Dolo 650 MG in hindi)

हालांकि इन बीमारियों में आराम देने के साथ साथ डोलो 650 के कुछ साइड इफेक्ट्स भी होते हैं। इस दवा के साइड इफेक्ट इस बात पर निर्भर करती है कि आपके शरीर पर इस दवा का कैसा प्रभाव पड़ता है। मसलन अलग अलग शरीर पर दवाईयों का अलग अलग असर दिखता है। हो सकता है कि किसी को यह खुराक सूट कर जाए या यह भी हो सकता है कि आपको इसके दुष्प्रभाव झेलने पड़ जाएं।

  • बीमार महससू करना
  • त्वचा लाल होना
  • शरीर पर लाल चक्कते पड़ा
  • ब्लड सेल्स का असमान्य होना
  • दिल को नुकसान पहुंचना

अगर ऐसे किसी दुष्प्रभाव के बारे में पता चले तो चिकित्सक की सलाह से ही इसका इस्तेमाल करें।

डोलो 650

डोलो 650 के इस्तेमाल से पहले की सावधानियां (Precautions of Dolo 650 MG in hindi)

इस दवा के इस्तेमाल से पहले कुछ सावधानिया बरतना जरुरी है। पहले डॉक्टर को अपनी वर्तमान दवाओं, विटामिन हर्बल सप्लीमेंट, पहले से इस्तेमाल की जा रही हैं दवाइयों के बारे में अपने डॉक्टर को बताएं। डॉक्टर से निर्देश लेने के बाद ही इस दवा का इस्तेमाल करें। अगर किसी तरह के दुष्प्रभाव दिखें तो डॉक्टर से सलाह लें।

  • अगर आपने पेरासिटामॉल का पहले इस्तेमाल किया है और यह आपको सूट ना कर रहा हो तो डोलो का इस्तेमाल ना करें।
  • हर दिन अल्कोहल यानी शराब का इस्तेमाल करते हों तो पेरासिटामॉल का इस्तेमाल ना करें।

आप किसी और दवा का इस्तेमाल कर रहे हों तो Dolo 650 टैबलेट का इस्तमाल शरीर पर दूसरा असर दिखा सकता है। यह भी हो सकती है कि यह दवा अच्छे से काम ना करें। सबसे पहले अपने डॉक्टर को सभी विटामिन, दवाओ और हर्बल सप्लीमेंट के बारे में अपने डॉक्टर को बताएं जिससे वह आपको बता सकें कि आपको डोलो टैबलेट का इस्तेमाल करना है या नहीं।

पैकेज और क्षमताएं (Package and Capacity)

Dolo Tablet Package 10 Tablet, 15 Tablet
Dolo Tablet Capacity 500 MG, 650 MG,  1000MG

डोलो 650 (Dolo 650) टैबलेट की अन्य जानकारी

  1. अगर आप Dolo 650 का सेवन करते हैं और कोई खुराक छूट गई हो तो जल्दी जल्दी इसका सेवन ना करें। अगर एक खुराक Dolo 650 खा ली हो तो फौरन दूसरी ना खाएं। बीच में एक लंबा अंतराल रखें। छूटी हुई खुराक की भरपाई के लिए डोलो का इस्तेमाल ना करें।
  2. अगर डॉक्टर ने आपको दवा की खुराक निर्देशित की है तो ज्यादा नहीं खाएं। ज्यादा खाने से लक्षणों में सुधार नहीं होगा। अगर आपके आस पास किसी ने Dolo 650  टैबलेट की ज्यादा खुराक ले ली हो तो फौरन उन्हें अस्पताल में भर्ती कराएं।
  3. भले ही आपकी समस्या जैसी समस्या किसी और की भी हो, लेकिन अपनी दवा दूसरों को ना दें। बिना किसी डॉक्टर के परामर्श के कोई दवा नहीं खानी चाहिए। पहले डॉक्टर से इस बात की जानकारी लें और फिर इस दवा का इस्तेमाल करें।

यह भी पढ़ें-

मेफ्टाल स्पास
अश्वगंधा के फायदे

Back to top button
?>