स्वास्थ्य

बढ़ाना चाहते हैं अपनी इम्यूनिटी तो सप्‍ताह में 2 बार पिएं सिर्फ ये एक चीज, होगा जबर्दस्त फायदा

न्यूज़ट्रेन्ड हेल्थ डेस्क: किसी भी इंसान की रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी की इम्यूनिटी जितनी अच्छी होती हैं वो रोगों से उतना ही ज्यादा दूर रहता हैं, उन्हें बदलते मौसम में सर्दी, जुकाम, खांसी जैसी समस्याएं नहीं झेलनी पड़ती हैं। वहीं दूसरी तरफ कमजोर इम्यूनिटी वाले लोगों को कई तरह के छोटे बड़े रोगों का खतरा हमेशा बना रहता है और ऐसे में कई बार लोग उन्हे नाजुक कहकर भी पुकारते हैं। असल में आपको बताते चलें की ऐसा इसलिए होता हैं क्योंकि जब रोगों के विषाणु या बैक्टीरिया शरीर में पहुंचते हैं, तो उनका इम्यून सिस्टम उससे लड़ नहीं पाता है और उन्हें बहुत ही जल्दी कमजोर बना देता है इसलिए ऐसे लोगों को जिनकी इम्मुनिटी कमजोर होती है उन्हे तरह-तरह के बीमारियों और बैक्टीरियल इंफेक्शन से बच कर रहना होता है या फिर आपकी इम्यूनिटी यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी अच्छी होनी चाहिए।

बता दें की जो लोग जितना ही प्राकृतिक चीजों का इस्तेमाल करते हैं उनका इम्यून सिस्टम उतना ही मजबूत रहता हैं, यदि आप भी अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना चाहते हैं तो इसके लिए आप कुछ घरेलू तरीकों का इस्तेमाल कर सकते है जिसमे सबसे ज्यादा कारगर है घर पर बना हर्बल काढ़ा। बता दें की हर्बल काढ़ा कई तरह के आयुर्वेदिक हर्ब्स से मिलकर बनता है, जो आपके घर पर बड़े ही आसानी से बन सकता हैं।

हर्बल काढ़ा बनाने के लिए आवश्यक सामग्री

  • छोटी इलायची- 2
  • काली मिर्च- 2-3 दाने
  • दालचीनी- 2 छोटे टुकड़े
  • तुलसी की पत्तियां- 8-10
  • अदरक- एक छोटा टुकड़ा
  • शहद- एक मीडियम चम्मच

इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए इस तरह तैयार करें काढ़ा

सबसे पहले एक बर्तन में डेढ़ ग्लास पानी ले और इसे आंच पर चढ़ा दें, अब इसमें शहद, दरदरा काली मिर्च, इलायची के दाने, अदरक के छोटे कटे हुये टुकड़े, तुलसी के पत्तियों को धो कर डाल दीजिये। करीब 7 से 8 मिनट तक धीमी आंच पर इसे पकने दें ताकि इसमे मिलाई गयी सभी आयुर्वेदिक सामग्रियों का अर्क निकल जाए। अब आपको गैस को बंद कर देना है और बचे हुए काढ़े को किसी ग्लास या कप में छान लीजिये और अब इसमें एक मीडियम चम्मच शहद मिलाकर पी सकते हैं।

क्यों है ये इतना फायदेमंद है

आपको बताते चलें की एक तो इस काढ़े को बनाना बहुत ही आसान है और इसमे पड़ने वाली सभी समग्रियाँ भी आसानी से घर की रसोई में आसानी से मिल जाती हैं। अब आपको यह भी बता दें की यह काढ़ा बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है क्योंकि यह आपके शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाता है और सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि कई तरह के रोगों से भी रक्षा करता है। असल में इलायची में पाया जाने वाला तेल पाचन को बेहतर रखने में मददगार साबित होता है और दालचीनी में पाया जाने वाले यूजेनाल और सिनेमेल्डीहाइड दर्दनिवारक का काम करते हैं। इसके अलावा दालचीनी खून का बहाव और थक्का जमने की प्रक्रिया को ठीक रखता है और जलन को भी दूर करता है। बता दें यह काढ़ा वजन घटाने में भी कारगर हैं क्योंकि इसमे कालीमिर्च, दालचीनी और अदरक आदि में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स आपके मेटाबॉलिज्म और डाइडेशन को दुरुस्त करता हैं, जिसकी वजह से आपका खाना अच्छी तरह से पचता हैं।

कितनी बार पी सकते हैं ये हर्बल काढ़ा

चूंकि आयुर्वेदिक काढ़े की तासीर थोड़ी गर्म होती है इसलिए इसे पीने में सावधानी जरूर बरते, बता दें की इस काढ़े को सर्दियों के मौसम में रोज दिन में 1 बार पी सकते हैं जबकि मौसम अगर गर्मी का हो तो इसे सप्ताह में 2 या 3 बार ही पिये।

Back to top button
?>