विशेष

वीराने में बनी इस जगह को लोग पिछले 50 सालों से समझ रहे थे सुरंग, लेकिन नीचे कुछ और ही सच्चाई

डार्टमूर सुरंग: हमारे आस-पास कई ऐसी जगहें हैं, जिसके बारे में हम नहीं जानते हैं। कई बार इन जगहों को लोग गलती से कुछ और ही समझते हैं। हालाँकि जब लोग ऐसी जगहों की सच्चाई के बारे में जानते हैं तो उनकी हैरानी का ठिकाना नहीं रहता है। जी हाँ दुनिया में ऐसी प्राचीन जगहों की कोई कमी नहीं है, जो सालों से बंद पड़ी हुई हैं। जब लोगों को इसकी असलियत के बारे में जानकारी होती है तो लोग बिना हैरान हुए नहीं रहते हैं।

नहीं मालूम थी किसी को इस जगह की सच्चाई:

हाल ही में एक ऐसी ही सालों से बंद पड़ी जगह के बारे में पता चला है। आपको बता दें हम जिस जगह की बात कर रहे हैं, वह इंग्लैण्ड में स्थित है। दरअसल इंग्लैण्ड के डार्टमूर में एक ऐसी जगह है जो इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई है। आपको बता दें वीराने में स्थित इस जगह को लगभग 50 सालों से लोग सुरंग समझने की गलती कर रहे थे। इसके बारे में किसी को असलियत नहीं मालूम थी, की असल में यह है क्या?

जमीन के अन्दर का नज़ारा देखकर हो गए थे हैरान:

हाल ही में इस जगह को बेचा गया और नील वरेल नीम के एक व्यक्ति ने इसे ख़रीदा। इसी व्यक्ति ने इस जगह की सच्चाई सबके सामने लायी। आपकी जानकारी के लिए बता दें इस जगह को नील वरेल ने 2014 में ख़रीदा था। खरीदने के बाद जब उन्होंने इस जगह को देखा था तो उन्होंने भी पहली बार में इसे सुरंग ही समझा था। लेकिन जब वो इसके अन्दर गए तो अन्दर का नजारा देखकर हैरान हो गए थे। नील के अनुसार जमीन के नीचे 100 फिट से भी ज्यादा जगह में भारी-भरकम मशीने लगायी गयी थी।

इससे पहुँचाया जाता था पूरे इलाके में पानी:

नील को इसके बारे में बताया कि ये जमीन के नीचे लगाये गए पानी के फिल्टर्स हैं, जिससे पूरे इलाके में पानी पहुँचाया जाता था। हैरान करने वाली बात यह है कि इसके बारे में किसी को भी जानकारी नहीं थी। इस जगह को इस तरह से बनाया गया था कि यहाँ आस-पास के पहाड़ों से पानी रिसकर जमीन के नीचे स्थित दो विशालकाय टैंकों में जमा होता था। इसके बाद फिल्टर्स की सहायता से इस पानी को पीने लायक बनाकर इसे इलाके में सप्लाई किया जाता था। लेकिन 1960 के बाद से ही इस जगह को किसी वजह से बंद कर दिया गया था।

इस जगह पर बनवाना चाहते थे अंडरग्राउंड होटल:

उसके बाद से ही यह जगह वीरान पड़ी हुई थी। इसकी असलियत किसी को नहीं मालूम थी। लोग इस जगह को गुफा ही समझते थे। नील ने बताया कि उन्होंने इस अंडरग्राउंड जगह को इसलिए ख़रीदा था, क्योंकि वह एक अंडरग्राउंड होटल बनाना चाहते थे। लेकिन पिछले साल नील के पत्नी की अचानक मौत हो गयी, इसके बाद उन्होंने अपना यह फैसला बदल दिया। अब नील इस जगह को बहुत ही मामूली कीमत 28 हजार पाउंड (लगभग 25 लाख रूपये) में बेच रहे हैं। जिसने भी इस जगह की सच्चाई के बारे में जाना, एक बार हैरान ही हो गया।

Related Articles

Close