भूलकर भी अपने बॉडी के इन पार्ट्स को हाथ से ना छुएँ वरना पड़ सकते हैं आप मुसीबत में

शरीर के इन हिस्सों को ना छुएँ: हर व्यक्ति के लिए उसका शरीर किसी अनमोल ख़ज़ाने से काम नहीं होता है। सभी लोग चाहते हैं कि वह अपने जीवन में हमेशा स्वस्थ्य रहें, लेकिन कई बार उन्हें बीमारियों का भी सामना करना पड़ता है। उनके द्वारा की जाने वाली एक छोटी सी ग़लती उन्हें मुसीबत में डाल देती है। इसलिए जानकारों का मानना है कि हर व्यक्ति को स्वास्थ्य को लेकर बहुत जागरूक होना चाहिए। जो लोग स्वास्थ्य को लेकर जागरूक रहते हैं, वह जीवन में बीमारियों और अन्य शारीरिक परेशानियों से बचे रहते हैं।

बदल देनी चाहिए शरीर के इन हिस्सों को बार-बार छूने की आदत:

ऐसा भी कहा जाता है कि हर व्यक्ति को उसके शरीर के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए। ऐसा ना होने पर व्यक्ति को ज़्यादा मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। कई बार व्यक्ति जानकारी के अभाव में अपने शरीर के साथ कुछ ऐसा कर देता है, जो उसे नहि करना चाहिए। बाद में नतीजा यह होता है कि वह तरह-तरह की शारीरिक समस्याओं से घिर जाता है। डॉक्टरों की मानें तो हमारे शरीर के कुछ ऐसे भी हिस्से हैं, जिन्हें हमें अपने हाथों से शरीर के इन हिस्सों को ना छुएँ, आदत को बदल देना चाहिए। कई बार हमारी यह आदत हमें मुश्किल में डाल देती है।

ज़्यादा ध्यान दें शरीर के इन हिस्सों को ना छुएँ :

*- फ़ेस:

हर व्यक्ति के लिए उसका चेहरा सबसे ख़ास होता है। लेकिन काम लोग ही इस बात को जानते हैं कि बार-बार चेहरे को छूने से मुँहासों की समस्या का सामना करना पड़ता है। कई बार हमारे हाथों में ना दिखने वाले छोटे-छोटे जीवाणु चिपके होते हैं और जब हम हाथों को अपने चेहरे पर लगाते हैं तो वह चेहरे पर छपक जाते हैं और कई तरह की स्किन डिज़ीज़ के कारण बनते हैं।

*- बट:

कुछ लोगों की आदत होती है कि वह बार-बार अपने हाथों से अपने बट को छूटे हैं। जानकारी के लिए आपको बता दें एनल एरिया बहुत ही सेंसेटिव होता है और आपके हाथों में चिपके हुए जीवाणु और बैक्टीरिया इन्फ़ेक्शन का कारण बनते हैं। इसलिए अपनी इस आदत को जितनी जल्दी हो सके छोड़ देना चाहिए।

*- नाखूनों के अंदर का हिस्सा:

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि नाखूनों के अंदर का हिस्सा भी काफ़ी नाज़ुक होता है। इसको छूने से फ़ंगस इन्फ़ेक्शन होने का ज़्यादा ख़तरा रहता है। इसकी वजह से कई सारे किटाणु नाखूनों पर भी आ जाते हैं।

*- आँखें:

इसके बारे में किसी को कुछ भी बताने की ज़रूरत नहीं है कि यह शरीर का कितना महत्वपूर्ण हिस्सा होता है और यह बहुत ज़्यादा सेंसेटिव भी होता है। ज़्यादातर आँखों में इन्फ़ेक्शन उसे बार-बार हाथों से छूने की वजह से होता है। इसलिए अगर कभी आपकी आँखों में खुजली की समस्या होती है तो उसे हाथों से खुजलाने की जगह आईड्रॉप डाल दें।

*- कान का अंदरूनी हिस्सा:

कई बार जब लोगों के कानों में खुजली होती है तो वह बार-बार अपनी उँगलियों को अपने कान में डाल लेते हैं। इससे कान में इन्फ़ेक्शन होने के साथ-साथ ईयर कैनाल डैमेज होने का ख़तरा रहता है।

*- नाक का अंदरूनी हिस्सा:

कई लोगों की आदत होती है कि वह बार-बार अपनी नाक साफ़ करने के लिए उसमें ऊँगली डाल देते हैं, जबकि यह स्थिति नाक के लिए काफ़ी ख़तरनाक होती है। नाक साफ़ करने का सबसे अच्छा तारिक यह है कि साफ़ रुमाल से नाक साफ़ किया जाए। एक शोध के अनुसार जो लोग बार-बार नाक में हाथ डालते हैं वो जल्दी बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं।

*- मुँह:

ज़्यादातर लोगों की आदत होती है कि वह अपने मुँह को साफ़ करने के लिए अपने हाथों का इस्तेमाल करते हैं, जबकि हाथ साफ़ होने के बाद भी उसे अपने मुँह में नहीं डालना चाहिए। हाथों में कई अदृश्य किटाणु होते हैं जो आपको बीमार बहुत बीमार बना सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.