ब्रेकिंग न्यूज़

रेलवे ने ट्रेनों में महिलाओं की सुरक्षा के लिए उठाए ये बड़े कदम, सफर बनाया जाएगा अधिक सुरक्षित

आजकल के समय में महिला सुरक्षा सरकार के लिए एक गंभीर विषय बना हुआ है। महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले दिन पर दिन बढ़ते हुए नजर आ रहे हैं। रोजाना ही किसी न किसी महिला के साथ छेड़छाड़ की खबरें सुनने को मिल जाती हैं। समय के साथ-साथ महिलाओं से छेड़छाड़ के मामले को कम करने के लिए कई बड़े कदम सरकार द्वारा उठाए जा रहे हैं। अगर कोई महिला ट्रेनों में सफर करती है तो वह भी अपने आपको काफी असुरक्षित महसूस करती है। ट्रेनों के अंदर भी महिलाओं के साथ छेड़छाड़ जैसी वारदात होती रहती हैं। इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए रेलवे ने एक बहुत बड़ा कदम उठाया है। ट्रेनों में महिलाओं के सफर को और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए राजकीय रेलवे पुलिस, जीआरपी में महिला पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाएगी। एडीजी रेलवे आनंद ने सोमवार को अपराध समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों को इस संबंध में दिशा निर्देश दिए थे।

एडीजी ने कहा, ट्रेनों में महिलाओं के सफर को बनाया जाएगा अधिक सुरक्षित

एडीजी रेलवे ने अधीनस्थों को यात्रा करने वाली महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा है। अगर महिलाओं की सुरक्षा पर अधिक ध्यान दिया जाएगा तो सफर शुरू करने से पहले महिलाएं अपने आपको सुरक्षित महसूस कर सकेंगीं। एडीजी ने कहा है कि महिलाओं के सफर को और अधिक सुरक्षित बनाने के लिए महिला पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई जाने वाली है, इससे रेलवे स्टेशनों पर और सफर से पहले किसी समस्या के सामने आने पर जीआरपी कॉन्स्टेबल उसका मौके पर निस्तारण कर सकें। एडीजी ने कहा कि रेलवे स्टेशनों और थानों पर बनी महिला हेल्प डेस्क इसमें कारगर साबित हो सकती हैं। एडीजी ने आगे कहा है कि अगर महिलाओं को रेलवे स्टेशन या फिर पार्किंग में टैक्सी करने में किसी भी प्रकार की परेशानी होती है तो ऐसी स्थिति में महिला पुलिसकर्मी उसकी सहायता के लिए हमेशा आगे रहेगी।

आपको बता दें कि एडीजी सोमवार की प्रातः काल 10:00 बजे आगरा पहुंचे थे, उन्होंने जीआरपी लाइन का निरीक्षण किया था। लगभग 1 घंटे तक वहां पर रहने के दौरान एडीजी ने कार्यालय के अभिलेखों, शस्त्रागार और मैस का मुआयना भी किया था, इसके पश्चात उन्होंने अधीनस्थों के साथ बैठक करके ट्रेनों में हुए अपराधों और जीआरपी द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा भी की थी।

दीपावली पर लूटपाट करने वाले गिरोहों के सदस्यों पर रहेगी नजर

एडीजी ने ट्रेनों में लूटपाट करने वाले बदमाशों पर भी नजर रखने के लिए कहा है। उन्होंने कहा है कि गिरफ्तार हुए बदमाशों की हिस्ट्रीशीट खोला जाए, इन्होंने सभी बदमाशों की हिस्ट्रीशीट खोलकर उनकी जानकारी प्राप्त की थी। जैसा कि हम सभी लोग जानते हैं दीपावली के अवसर पर सभी लोग अपने घरों पर लौटने के लिए अधिक संख्या में सफर करते हैं। ऐसी स्थिति में इस दौरान ट्रेनों में लूटपाट जैसी वारदात कुछ अधिक होती हैं। त्योहारों के मौकों पर लूटपाट करने वाले गिरोह अधिक सक्रिय हो जाते हैं। विशेष रूप से दीपावली पर इन गिरोहों के सदस्यों पर नजर रखने की बात एडीजी ने कही है। अगर कोई लूटपाट करने वाला गिरोह जेल जाकर छूट गया है तो उनकी जानकारी जुटाने को भी कहा है।

Back to top button