विशेष

लेबर पेन से तड़प रही थी महिला और बब्बर शेरों ने बीच में ही रोक दिया एंबुलेंस, फिर जो हुआ…

कई बार कुछ ऐसी घटना घट जाती है, जिनके बारे में जानकर कोई भी हैरान रह जाता है। सोशल मीडिया के इस जमाने में जब इस तरह की घटनाएं प्रकाश में आती हैं तो ये बहुत ही तेजी से वायरल हो जाती हैं। इसी तरह की एक घटना इन दिनों सोशल मीडिया में वायरल होती हुई नजर आ रही है। यह घटना गुजरात की है, जहां एक गर्भवती महिला को बब्बर शेरों के झुंड ने घेर लिया था। यहां हम आपको बता रहे हैं कि इसके बाद हुआ क्या।

फोन करने पर आई एंबुलेंस

मामला यह गुजरात के गडढा जिले का है। यहां के भाका गांव में अफसाना सबरिश रफीक रहती हैं। रात में अचानक से उन्हें प्रसव पीड़ा होनी शुरू हो गई। महिला की हालत जब बिगड़ने लगी तो ऐसे में घर वाले एकदम परेशान हो गए। तुरंत 108 नंबर पर उन्होंने फोन मिलाया। एंबुलेंस को सूचना मिलने पर एंबुलेंस यहां पहुंच भी गई, ताकि महिला को तुरंत प्रसव के लिए अस्पताल पहुंचाया जा सके।

शेरों ने रोक लिया रास्ता

एंबुलेंस जब आ गई तो इसके बाद इस महिला को घर वालों ने उठाकर एंबुलेंस में रखा। परिवार वाले भी इस महिला के साथ एंबुलेंस में सवार हो गए। सबकी बस यही चाहती थी कि किसी भी तरीके से जितनी जल्दी हो सके इन्हें अस्पताल पहुंचाया जाए, ताकि महिला और बच्चे की जान बचाई जा सके। एंबुलेंस इसके बाद अस्पताल के लिए निकल भी पड़ी थी। गांव से कुछ दूर ही एंबुलेंस बढ़ी थी कि गडढा से उना के मार्ग में एंबुलेंस का रास्ता चार बब्बर शेरों के झुंड ने रोक दिया।

भगाने की नहीं थी हिम्मत

एंबुलेंस के सामने ही ये सभी रास्ता रोक कर खड़े हो गए थे। किसी की हिम्मत ही नहीं हो रही थी इन शेरों को यहां से भगाने की। दूसरी ओर महिला का दर्द बढ़ता ही जा रहा था। ऐसे में खतरे को भांपते हुए ईएमटी और पायलट ने बड़ी ही सूझबूझ से काम लिया। रास्ते में ही उन्होंने महिला की डिलीवरी करा दी। एक बच्ची को इस महिला ने एंबुलेंस में ही जन्म दे दिया।

चक्कर लगाते रहे शेर


सबसे बड़ी बात यह रही कि ये सभी शेर इस पूरी घटना के दौरान वहीं पर रहे। वे एंबुलेंस का चक्कर लगा रहे थे। सबसे अच्छी बात हालांकि इस दौरान यह भी रही कि इन शेरों की ओर से कोई जोर आजमाइश नहीं की गई। ऐसे में एंबुलेंस में जितने भी लोग मौजूद थे, उनकी जान बाल-बाल बच गई।

पहुंचाए गए अस्पताल

बच्ची का जब जन्म हो गया तो इसके कुछ देर के बाद ये सभी शेर यहां से चले गए। इसके बाद एंबुलेंस में सवार सभी लोगों की जान में जान आई। फिर एंबुलेंस मां और बच्चे को लेकर गडढा अस्पताल पहुंच गई। यहां मां और बच्चे दोनों को भर्ती कर लिया गया और उन्हें चिकित्सकीय सुविधाएं उपलब्ध कराई गईं। मां और बच्चे दोनों एकदम स्वस्थ बताए जा रहे हैं। सोशल मीडिया में इस घटना की खूब चर्चा हो रही है।

पढ़ें जंगल में लड़की ने रोकी कार तो शेरनी ने धीरे से खोला दरवाजा और फिर जो हुआ उसे Video में देखें…

Show More

Related Articles

Back to top button
Close