स्वास्थ्य

जानें बच्चों को किस उम्र में कितना खाना खिलाना चाहिए (बच्चों का खाना)

बच्चों को किस उम्र में कितना खाना खिलाना चाहिए? अगर ये सवाल आपके मन में भी उठता है। तो आप बस इस लेख को पढ़ें। क्योंकि आज हम आपको 10 से 12 माह और 18 से 24 माह के शिशु को कितना आहार देना चाहिए, इसके बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। दरअसल शिशु को 6 महीनों तक केवल मां का ही दूध दिया जाता है। वहीं 6 महीनों के बाद उसे दूध के साथ थोड़ा सा खाना खिलाया जा सकता है। लेकिन जब शिशु 10 महीने का हो जाता है। तो उसके खाने पर विशेष ध्यान देना पड़ता है और शिशु को केवल पौष्टिक खाना ही देना चाहिए। क्योंकि बच्चों का खाना अगर पौष्टिक ना हो तो उसका विकास सही से नहीं होता है। तो आइए जानते हैं कि बच्चों को किस उम्र में कितना खाना खिलाना चाहिए और बच्चों का खाना कैसे होना चाहिए।

बच्चों को किस उम्र में कितना खाना खिलाना चाहिए

10 से 12 माह के शिशु के खाने पर खासा ध्यान दें और शिशु को केवल चुनिंदा चीजें ही खाने को दें। इस आयु के बच्चों का पाचन तंत्र पूरी तरह से तैयार नहीं हुआ होता है और ऐसे में बच्चे को भारी खाना देने की गलती नहीं करनी चाहिए। इस आयु के बच्चों को आप केवल नीचे बताई गई चीजे ही खाने को दें।

बच्चों का खाना

  • बच्चों का खाना सादा ही रखें। यानी खाने में अधिक मसाले, नमक या चीनी ना डालें।
  • बच्चे को रोज थोड़ी सी सब्जी जरूर खाने को दें। सब्जी के अलावा बच्चे को पर्याप्त मात्रा में फल भी दें। दरअसल ये दोनों चीजें बच्चे को देने से उसके शरीर को विटामिन और खनिज मिल जाते हैं। लेकिन इन चीजों को आप मेश करके ही बच्चों के दें।
  • दाल, राजमा, लोबिया और मूंग व साबुत मूंग, सोया जैसी चीजों को भी शिशु के खाने में शामिल करें। क्योंकि इन चीजों की मदद से शिशु के शरीर का विकास अच्छे से होता है। लेकिन इस बात का ध्यान रखें की बच्चों को इन चीजों का पानी ही दें। यानी जब दाल, राजमा और इत्यादि चीजों को उबालें तो उनका पानी निकाल लें और ये पानी बच्चे को पीने को दें। ये पानी आधी कटोरी से ज्यादा नहीं होना चाहिए।
  • बच्चों को हफ्ते में तीन बार मेवे भी खाने को दें। अगर आप बच्चे को बादाम देते हैं तो हफ्ते में 2 से 4 बादाम ही खाने को दें। हालांकि इस बात का ध्यान रखें की बच्चों को मेवे पीसकर ही खाने को दें। मेवे देने से बच्चे के दिमाग का विकास अच्छे से होता है।
  • दूध बच्चों के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है। इसलिए बच्चे को रोज तीन बार दूध पीने को दें। बच्चों के विकास के लिए दूध बेहद ही जरूरी है और भूलकर भी बच्चे को दूध देना बंद ना करें।
  • सलाद भी बच्चों के लिए उत्तम होता है। इसलिए उन्हें सलाद भी जरूर खाने को दें। हालांकि आप इस बात का ध्यान रखें कि सलाद को मेश करके दें।

18 से 24 महीने की उम्र के बच्चों को क्या खाने को दें

  • 18 से 24 महीने की उम्र के बच्चों के दांत अच्छे से आ जाता हैं। ऐसे में इस आयु के बच्चों को बारीक खाना दिया जा सकता है। इस आयु के बच्चों को आप दलिया, चावल के साथ दाल, राजमा या छोले और चिकन नगेट्स भी दे सकते हैं।
  • दही, पनीर, चीज और कस्टर्ड जैसी चीजें भी बच्चे को खाने में जरूर दें। इन चीजों की मदद से बच्चों के दांतों को मजबूती मिलती है और उनके हड्डियों का विकास भी अच्छे से होता है।
  • बच्चों का खाना देते समय उसमें घी का प्रयोग भी जरूर करें और बच्चों को घी वाली रोटी खाने को दें।

रखें इन बातों का ध्यान

बच्चों को खाना देते हुए नीचे बताई गई बातों का ध्यान भी रखें। क्योंकि छोटे बच्चों को गलत खाना देने से उनके स्वस्थ पर बुरा असर पड़ जाता है।

बच्चों का खाना

  • बच्चों का खाना हमेशा साफ सफाई से बनाया जाना चाहिए।
  • बच्चे को चाय और कॉफी बिलकुल ना दें। डॉक्टरों के अनुसार तीन साल से कम आयु के बच्चों के लिए चाय और कॉफी हानिकारक साबित होती है। इसलिए बच्चों को ये बिलकुल नहीं देनी चाहिए। चाय और कॉफी देने से बच्चों की हड्डियां कमजोर हो जाती हैं और उनका विकास सही से नहीं होता है।
  • शहद, साबुत मेवे,बहुत ज्यादा नमक, कच्चे या अधपके अंडे, कम कैलोरी वाले भोजन बच्चों की डाइट में शामिल ना करें।
  • 10 से 12 माह के बच्चे को जबरदस्ती रोटी ना खिलाएं और दिन में आधी रोटी से ज्यादा रोटी उन्हें खाने को ना दें। न्यूट्रिशन कंसल्टेंट के अनुसार 1 से 3 साल के बच्चे के लिए दिन में 1 से 2 रोटी पर्याप्त होती है। 3 साल से 6 साल के बच्चों के लिए 2-3 रोटी पर्याप्त है। जबकि 5-6 साल से बड़े बच्चों 3 से 4 रोटी काफी होती हैं।

खाने में बनाए रखें संतुलन

बच्चों को किस उम्र में कितना खाना खिलाना चाहिए ये जानने के साथ-साथ आपको ये जानकारी भी होनी चाहिए कि बच्चों को केवल संतुलन में ही खाना देना चाहिए। अगर बच्चों को कम खाना दिया जाए तो उनका विकास सही से नहीं होता है और वो पतले रहे जाते हैं। वहीं अधिक खाना खिलाने से भी बच्चों का विकास सही से नहीं हो पाता है। इसलिए आप खाने में संतुलन जरूर बनाए रखें ।

अधिक खाना ना दें

कई माताओं को ऐसा लगता है कि अधिक खाना खिलाने से बच्चों का विकास सही से होता है। जो कि गलत है। क्योंकि बच्चों को जरूरत से ज्यादा खाना देने से उनके शरीर पर बुरा असर पड़ता है।

बच्चों का खाना

  • न्यूट्रिशन कंसल्टेंट के अनुसार बच्चों को ज्यादा खाना खिलाने से बच्चे का मेटाबॉलिज्म कमजोर हो सकता है।
  • बच्चों को अधिक खाना खिलाने से वो आलसी हो जाते हैं और जल्द ही थक जाते हैं।
  • बच्चों को जरूरत से ज्यादा खाना खिलान से वो मोटापे का शिकार भी हो जाते हैं और उनके शरीर में वास जम जाता है।

कितनी मात्रा में दें दूध

दूध एक ऐसी चीज है जिसे किसी भी आयु के बच्चे को दिया जा सकता है। लेकिन आप बच्चों को अधिक मात्रा में दूध देने से भी बचें। क्योंकि अधिक मात्रा में बच्चों को दूध देने से उनकी भूख कम होने लग जाती है और वो अन्य आहार नहीं खा पाते हैं।

बच्चों का खाना

6 महीने तक हर बच्चे के लिए मां का दूध ही सही माना जाता है। हालांकि आप चाहे तो बच्चे को एक साल तक अपना दूध दे सकते हैं। वहीं एक साल होने के बाद रोज बच्चे को गाय का दूध दें। एक साल के बच्चे को दिन में 350 मि.ली. गाय के दूध की आवश्यकता होती है। याद रहे की इससे अधिक दूध बच्चे को ना दें। ऐसे करने से बच्चे के पेट पर बुरा असर पड़ सकता है।

बच्चों का खाना बनाते समय ये जरूर सुश्चित करें की खाना एकदम पौष्टिक हो। क्योंकि बिना पोषण युक्त खाना देने से बच्चे का विकास सही से नहीं हो पाता है।

हम उम्मीद करते हैं ये लेख पढ़कर आपको समझ आ गया होगा कि बच्चों को किस उम्र में कितना खाना खिलाना चाहिए? और बच्चों का खाना कैसे होना चाहिए।

यह भी पढ़े: पोषण आहार

Back to top button