बॉलीवुड

जब लक्ष्मी अग्रवाल हो गयीं थी पाई-पाई की मोहताज तब अक्षय कुमार बने थे फरिश्ता, ऐसे की थी मदद

फिल्म जगत में दीपिका पादुकोण एक ऐसी अभिनेत्री बन चुकी हैं जिन्हें बच्चा-बच्चा तक जानता है. ये तो आपको भी पता होगा कि दीपिका करीब एक साल पहले ही रणवीर सिंह के साथ शादी के बंधन में बंध गईं, जिसके बाद अब एक बार फिर से वो अपनी फिल्म को लेकर लगातार सुर्खियों में बनी हुई हैं. 10 जनवरी को दीपिका की मोस्ट अवेटेड फिल्म ‘छपाक’ रिलीज़ हुई है, जिसे लेकर फैंस काफी लंबे समय से उत्साहित थे.

हालांकि, ये फिल्म रिलीज़ होने से पहले कई विवादों में घिरी तो वहीं कुछ शहरों में फिल्म को टैक्स फ्री कर दिया गया. बता दें, फिल्म की ओपनिंग केवल 5 करोड़ से हुई थी लेकिन धीरे-धीरे यह दर्शकों के बीच अपनी पकड़ बना चुकी है. सिनेमाघरों में फिल्म को देखने के लिए दर्शकों की भारी भीड़ जमा हो रही है.

लक्ष्मी की कहानी है ‘छपाक’

जैसा कि आपको पता है ‘छपाक’ एक सत्य घटना पर आधारित फिल्म है. फिल्म में दीपिका पादुकोण ने एसिड अटैक सर्वाइवर लक्ष्मी अग्रवाल की भूमिका निभाई है. फिल्म में दीपिका के किरदार का नाम मालती है. फिल्म में दिखाया गया है कि एसिड अटैक होने पर लक्ष्मी को किन-किन परेशानियों से गुजरना पड़ा. एसिड अटैक होने के बाद के संघर्ष को फिल्म में बखूबी दिखाया गया है. लक्ष्मी पर एसिड अटैक होने के बाद उन्हें काम मिलना बंद हो गया था. वह जहां भी जाती थीं, रिजेक्शन का सामना करना पड़ता था. यहां तक कि बच्चे भी उन्हें देखकर डर जाते थे.

खस्ता हुई घर की हालत

उस दौरान लक्ष्मी पर मानो मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा था. भाई और पिता के निधन ने तो उन्हें तोड़कर ही रख दिया था. लक्ष्मी ने बताया कि आर्थिक तंगी और बेरोज़गारी के कारण उनके घर की हालत काफी खस्ता हो गयी थी. 1 साल से उनके पास कोई काम नहीं था और कोई काम भी देने को तैयार नहीं था. ऐसे में जब बॉलीवुड के एक अभिनेता तक लक्ष्मी की कहानी पहुंची तो उन्होंने बिना कुछ सोचे उनकी मदद की और लक्ष्मी के अकाउंट में 5 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए.

अक्षय बने फरिश्ता

यह बॉलीवुड अभिनेता उन दिनों लक्ष्मी के लिए फरिश्ता बनकर आया था और उनका अहसान लक्ष्मी शायद कभी नहीं भूल पाएंगी. बता दें, यह कोई और नहीं बल्कि खिलाड़ियों के खिलाड़ी अक्षय कुमार थे जिन्होंने लक्ष्मी के दर्द को महसूस किया और उनकी आर्थिक तौर पर मदद की. वैसे भी अक्षय कुमार अपनी चैरिटी के लिए जाने जाते हैं. वह जरूरत पड़ने पर करोड़ों रुपये दान करते हैं. पुलवामा के बाद अक्षय ने ओडिशा फोनी तूफ़ान पीड़ितों की मदद कर के सुर्खियां बटोरी थी.

हालांकि, अक्षय ये नेक काम सुर्खियां बटोरने के लिए नहीं करते लेकिन अपने नेक काम के चलते सुर्ख़ियों में जरूर आ जाते हैं. लक्ष्मी की मदद करने के बारे में जब अक्षय से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि, “मेरा सहयोग एक छोटी कोशिश थी. मकसद सिर्फ इतना है कि वे सम्मान के साथ नौकरी ढूंढ़ सकें, ताकि उन्हें किराया देने और बच्चे को सपोर्ट करने में दिक्कत ना हो. जब कोई इंसान जीने के लिए संघर्ष करता है तो मेडल्स और अवॉर्ड्स बिल नहीं भरते”.

पढ़ें मुश्किल में फंसे अक्षय कुमार, इस वीडियो को देखने के बाद लोगों ने कहा – माफी मांगो, एफ आई आर दर्ज

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close