ब्रेकिंग न्यूज़

सट्टा बाजार का दावा- ‘शतक नहीं लगा पाएगी कांग्रेस, तो बीजेपी को मिलेगी इतनी सीटें’

चुनावी समर में इन दिनों एग्जिट पोल की चर्चा जोरो से है। एग्जिट पोल में एक बार फिर मोदी सरकार का अनुमान लगाया जा रहा है। तमाम मीडिया घरानों द्वारा कराए गए एग्जिट पोल में एनडीए को पूर्ण बहुमत मिलता हुआ नजर आ रहा है, जिससे बीजेपी गदगद है। जी हां, एग्जिट पोल में बीजेपी की बल्ले बल्ले दिख रही है, लेकिन सट्टा बाजार का अनुमान तो कुछ और ही बयां कर रहा है। एग्जिट पोल के ठीक बाद सट्टा बाजार ने अपना अनुमान जारी किया, जिसमें सरकार भले ही एनडीए बन रही हो, लेकिन आकड़ा बेहद चौंकाने वाला है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

मीडिया घराने द्वारा किए गए सर्वे में एनडीए को पूर्ण बहुमत मिल रहा है, तो वहीं यूपीए को एक बार फिर से शिकस्त का सामना करना पड़ रहा है। एग्जिट पोल में जहां एक तरफ एनडीए को 300 से अधिक सीट दिया जा रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ यूपीए को 100 से ज्यादा सीटें मिलने की संभावना जताई गई हैं। इन सबके बीच सट्टा बाजार ने अपना पत्ता खोल दिया और एग्जिट पोल के आकड़ों को पूरी तरह से उलट पलट दिया। हालांकि, इन दोनों ही सर्वे में मोदी सरकार बनती हुई नजर आ रही है, लेकिन सीटें बिल्कुल अलग।

एनडीए को कितनी सीटें?

सट्टा बाजार के मुताबिक, एक बार फिर से मोदी सरकार, लेकिन बहुमत के आकड़े से फिलहाल एनडीए दूर है। सट्टा बाजार एनडीए को इस बार 238 से 245 सीटें दे रहे हैं, लेकिन केंद्र में मोदी की अगुवाई वाली ही सरकार बनती हुई नजर आ रही है। यह आकड़ा एग्जिट पोल से बिल्कुल विपरीत है। दरअसल, एग्जिट पोल में एनडीए को 300 से अधिक सीटें मिलती हुई नजर आ रही है, लेकिन सट्टा बाजार बहुमत नहीं दे रहा है। मतलब साफ है कि सट्टा बाजार के मुताबिक, इस बार त्रिशंकु लोकसभा आ सकती है।

यूपीए को कितनी सीटें?

जहां एक तरफ एग्जिट पोल में पिछले साल की अपेक्षा इस बार यूपीए को बेहतर स्थिति में दिखाया गया है, तो वहीं दूसरी तरफ सट्टा बाजार इस बार भी कांग्रेस को 100 सीटों से कम बता रहा है। सट्टा बाजार के मुताबिक, यूपीए सिर्फ 75-82 सीटें जीत सकती है, जोकि काफी खराब प्रदर्शन माना जा सकता है। इतना ही नहीं, अगर चुनावी नतीज़ें इसी तरह हुए तो एक बार फिर से राहुल गांधी के नेतृत्व पर सीधे सीधे सवाल उठाए जाएंगे।

प्रधानमंत्री में पहली पसंद कौन?

सीटों के अलावा सट्टा बाजार में प्रधानमंत्री के नाम पर भी सट्टा लगता है, जिसमें इस बार मोदी, राहुल, मायावती, ममता और चंद्रबाबू नायडू का नाम शामिल है। सट्टा बाजार के मुताबिक, नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद के लिए पहली पसंद माने गए हैं, जिसके बाद राहुल गांधी का नंबर लगा है। इसके बाद चंद्रबाबू नायडू और फिर मायावती। इतना ही नहीं, ममता बनर्जी को सट्टा बाजार ने रेस से बाहर रखा है, क्योंकि उनके पीएम बनने के चांस बहुत कम है।

Back to top button