हनुमान जी की पूजा के दौरान उनको जरूर अर्पित करें ये 3 चीजें मात्र इन चीजों को हनुमान जी के चरणों में रखकर पूरी हो जाती है हर मनोकामना

बजरंगबली की पूजा करने के लिए सबसे सही दिन मंगलवार का माना जाता है। लेकिन क्या आपको पता है कि आखिर क्यों इस दिन ही हनुमान की पूजा करना सबसे उत्तम माना गया है? दरअसल हमारे पौराणिक मान्यताओं के अनुसार हनुमान जी का जन्म मंगलवार के दिन ही हुआ था और मंगल ग्रह भी इनसे ही जुड़ा हुआ है। इसलिए हनुमान जी की पूजा के लिए ये दिन सही माना जाता है।

पूजा करने से मिलता है काफी लाभ

हनुमान जी के लिए व्रत रखने से और इनका पाठ करने से इंसान के अंदर आत्मविश्वास बढ़ जाता है और उसकी हर दिक्कत दूर हो जाती है। हनुमान जी की आराधना हर मंगलावर को करने से जीवन में कभी भी पराजय का सामना भी नहीं करना पड़ता है। पूजा करते समय अगर बजरंगबली को नीचे बताई गई तीन चीजें  चढ़ा दी जाएं तो पूजा एकदम सफल हो जाती है।

ये तीन चीजें जरूर करें हनुमान को अर्पित-

ध्वज चढ़ाएं

ध्वज चढ़ाने से हनुमान जी आपकी रक्षा करते हैं और आप पर किसी भी तरह की मुश्किल नहीं आने देते हैं। ऐसा कहा जाता है कि महाभारत युद्ध के दौरान अर्जुन की सेना के सभी रथों पर केसरिया ध्वज लगा हुआ था और ये ध्वज हनुमान से जुड़ा हुआ था। रथ में लगे ध्वजों ने पांडवों की रक्षा युद्ध के दौरान की थी। इसलिए अगर आप किसी परीक्षा या किसी महत्वपूर्ण कार्य को करने जा रहे हैं तो मंगलवार के दिन मंदिर जाकर केसरिया तिकोनी ध्वज भगवान को चढ़ा दें।

पूजा के दौरान जरूर चढ़ाएं तुलसी

भगवान विष्णु के अवतार श्री राम की पूजा करने के दौरान तुलसी का इस्तेमाल जरूर किया जाती है। राम भगवान की तरह ही अगर हनुमान जी को भी तुलसी चढ़ाई जाए तो वो हर मनोकामना पूरी कर देते हैं। इसलिए आप जब भी मंगलावर के दिन हनुमान के मंदिर जाएं तो उनके पास फूल के साथ तुलसी के कुछ पत्ते भी रख दें। तुलसी का प्रयोग पूजा के दौरान करने से भगवान खुश हो जाते हैं।

सिंदूर चढ़ाएं

रामायण के अनुसार एक बार माता सीता अपनी मांग में सिंदूर लगा रही थी और मां सीता को ऐसा करता देख हनुमान जी ने उनसे सिंदूर लगाने की वजह पूछी। हनुमान को तब मां सीता ने बताया कि सिंदूर लगाने से श्री राम हमेशा उनके साथ रहेंगे। इसलिए वो हर रोज अपनी मांग में सिंदूर लगाती हैं। माता सीता की ये बात सुन हनुमान जी ने तुरंत जाकर अपने पूरे शरीर में सिंदूर लगा लिया ताकि श्री राम हमेशा उनके साथ रहें। इसी वजह से जब भी आप मंदिर में जाते हैं तो आपको हनुमान जी की सिंदूर लगी मूर्ति देखने को मिलती है। सिंदूर हनुमान जी को काफी प्रिय है और इसी कारण से भक्त लोग हनुमान जी को सिंदूर जरूर अर्पित करते हैं।  आप भी हनुमान के मंदिर जाएं तो उनको सिंदूर जरूर चढ़ाएं। सिंदूर के अलावा चमेली का तेल भी हनुमान को चढ़ाया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि ये तेल चढ़ाने से शरीर को किसी भी तरह के रोग नहीं लगते हैं और आपकी रक्षा हनुमान जी कई सारी बीमारियों से करते हैं।

आप जब भी हनुमान की पूजा करें तो श्री राम भगवान का नाम भी जरूर लें। क्योंकि मात्र श्री राम भगवान का नाम पूजा के दौरान लेने से हनुमान जी प्रसन्न हो जाते हैं और भक्तों की हर मनोकामना को पूरा कर देते हैं।