समाचार

एयर स्ट्राइक को लेकर खुल गयी पाकिस्तान की पोल, जैश ने कहा- भारत ने मचाई बड़े पैमाने पर तबाही

पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को तहस-नहस करने के बाद पाकिस्तान बौखलाया हुआ था. पाकिस्तान ने बीते गुरुवार को एक बार फिर नियंत्रण पार गोलीबारी की थी जिसका भारतीय सेना ने करारा जवाब दिया था. बुधवार सुबह भारतीय सीमा में एक पाकिस्तानी लड़ाकू विमान F-16 घुस आया था जिसे भारतीय वायुसेना के विमान मिग-21 ने मार गिराया. आतंकी ठिकानों पर भारत द्वारा किये गए इस एयर स्ट्राइक के बाद पाकिस्तान ने कहा था कि उन्हें किसी प्रकार का कोई नुक्सान नहीं हुआ है. लेकिन अब धीरे-धीरे करके पाकिस्तान सरकार की पोल खुलती जा रही है. पाकिस्तान ने कहा था कि भारत ने जो बम गिराए थे वह जंगल में गिरे थे जिससे सिर्फ पेड़ों को नुकसान पहुंचा था. लेकिन अब खुद जैश ने हमले में हुए नुकसान की बात पर मुहर लगा दी है. हाल ही में जैश सरगना मसूद अजहर के छोटे भाई का एक ऑडियो क्लिप सामने आया है जिसमें उसने बताया है कि उन्हें भारतीय सेना द्वारा किये गए एयर स्ट्राइक से कितना नुकसान हुआ है.

वायरल हुई ऑडियो क्लिप

बता दें, आजकल ये ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रही है जिसे लोग जैश सरगना मसूद अजहर के भाई अम्मार की बता रहे हैं. इस क्लिप में वह पेशावर में हुए एक जलसे के दौरान भारतीय वायुसेना की कार्रवाई से हुए नुकसान के बारे में बात कर रहा है. ये जलसा बालाकोट में भारत की कार्रवाई के दो दिन बाद हुआ था. यानी ये ऑडियो क्लिप 28 फरवरी की है.

ट्रेनिंग सेंटर हुए नष्ट

जलसे के दौरान अम्मार ने बताया कि भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक की वजह से उन्हें क्या नुकसान हुआ है. उसने नुकसान के बारे में बात करते हुए कहा कि दुश्मन की ओर से जंग का आगाज कर दिया गया है. उसने यह भी कहा कि भारतीय वायुसेना ने उस जगह हमला किया है जहां जैश के अधिकारी बैठक यानी मीटिंग किया करते थे. उसने यह भी बताया कि इसी जगह युवकों को जेहाद की तालीम दी जाती थी. लोगों को संबोधित करते हुए अम्मार ने कहा, “आज दुश्मन पहाड़ों को पार कर हमारी जमीन तक घुस आया है. दुश्मन ने इस्लामिक सेंटर पर हमला करते हुए जंग का आगाज कर दिया है.

भारत के लड़ाकू विमानों ने किसी एजेंसी के सेफ हाउस को निशाना नहीं बनाया है. उन्होंने किसी भी एजेंसी के हेडक्वार्टर पर बम नहीं फेंका है. बल्कि उसने हमारे सेंटर को निशाना बनाया है जहां स्टूडेंट्स को जिहाद के बारे में सिखाया जाता था ताकि वह कश्मीरी मुसलमानों की मदद कर सकें”.

कबूली हमले की बात

आगे बताते हुए अम्मार ने कहा कि, “ये किसी एजेंसी का जिहाद नहीं है कि वह अपनी सीमा से बाहर आये और हम पर हमला कर दिया. बल्कि भारत चाहता है कि हम उसके खिलाफ हमारा जिहाद शुरू करें”. बता दें, पहली बार किसी संगठन ने हमले में हुए नुकसानों की बात कबूली है. अम्मार के भाषण का ये ऑडियो क्लिप बलूचिस्तान के कुछ लोगों ने जो इस जलसे में मौजूद थे, भारतीय ख़ुफ़िया एजेंसी को दी है. जानकारी के लिए बता दें, अम्मार जैश की जेहादी गतिविधियों की देखरेख करता है. बालाकोट में ट्रेनिंग कैंप उसी की देखरेख में चल रहे थे. वह कश्मीर के युवकों को भड़काकर उनमें भारत के प्रति नफरत पैदा करने का भी काम करता है.

पढ़ें मिराज विमान के नाम पर बच्चे का नाम रखा मिराज सिंह राठौड़, एयर स्ट्राइक के वक़्त हुआ था जन्म

Back to top button