पुलवामा हमले से गुस्से में आई कंगना ने पीएम मोदी से कर दी ऐसी मांग, सियासत में बढ़ सकती है हलचल जो लोग इस समय शांति और अंहिसा की बात कर रहे हैं उन लोगों को मुंह काला कर गधे पर बिठाकर घुमाना चाहिए,बीच चौराहे पर ले जाकर तमाचे जड़ने चाहिए .

पुलवामा अटैक के बाद से हर कोई मोदी सरकार से अपील कर रहा है कि पाकिस्तान को करारा जवाब दिया जाए और आतंकवाद को जड़ से खत्म किया जाए। ये अपील सिर्फ आम जनता की ही नहीं बॉलीवुड सेलिब्रिटीज की भी है। बॉलीवुड की क्वीन कंगना ने भी पुलवामा अटैक पर जमकर हमला बोला था और अब पीएम मोदी से उन्होंने अपील की है कि जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटा दी जाए। कंगना ने इस घटना पर कहा था कि ये हमला सिर्फ हमारे जवानों पर ही नहीं बल्कि हम सभी पर हुआ है। इसे जवानों पर हमला कहना बंद करें।

धारा 370 हो खत्म

कंगना ने कहा कि पुलवामा हमला हम पर हुआ है और जवानों ने हमें बचाने के लिए अपनी जान दे दी है। जिन देशवासियो को ऐसा लग रहा है कि वह शहीद के परिवार वालों को श्रद्धांजलि देकर एहसान कर रहे है उन्हें समझना होगा कि ये हमला सिर्फ उनपर नहीं बल्कि हम सभी पर हुआ है। ये जो गुस्सा है .ये जायज है, इस समय हमें कुछ जरुरी काम करना चाहिए। इसके साथ ही कंगना ने वो बात भी कह दी जिसकी वजह से सियासी पारा भी गर्मा रहा है।

कंगना ने कहा कि मैंने पीएम मोदी से अपील की है कि वह जम्मू-कश्मीर में धारा 370 को हटा दें। ऐसा इसलिए क्योंकि आजादी के इतने साल बाद भी देश के उस हिस्से में लोगों को ठीक से नहीं पता कि वह किस देश से संबंध रखते हैं। इस समय में पूरे देश को एक होना चाहिए। कंगना ने पाकिस्तानी कलाकारों के भारत मे बैन होने पर बात की। कंगना ने कहा कि हम जानते हैं कि ये पाकिस्तानी जनता हमारी फिल्मों को पसंद करती है, लेकिन इस समय ये सब संभव नही हैं।

शांति-अंहिसा की बात करने वालों का मुंह काला

मर्णिकर्णिका एक्ट्रेस ने कहा कि युद्ध का भी एक धर्म होता है और इस धर्म को निभाते हुए हम अपने देश के साथ है।हम अपना धर्म निभाएंगे। पाकिस्तानियों को हमसे प्रेरणा लेनी चाहिए। हमारी लड़ाई कभी भी मानवता के साथ नहीं रहीं। हमें ऐसा कोई भी काम नहीं करना चाहिए जिससे हमारे जवानों या उनके परिवार को कोई ठेस पहुंचे। गौरतलब है कि बीजेपी के कुछ सदस्यों की तरफ से भी धारा 370 हटाने की मांग हो चुकी है, लेकिन इससे बिहार की राजनीति का पारा ही गर्मा गया था औऱ विपक्ष ने भी इस पर कड़ी आपत्ति जताई थी।

कंगना ने ये भी कहा कि जो लोग इस समय शांति और अंहिसा की बात कर रहे हैं उन लोगों को मुंह काला कर गधे पर बिठाकर घुमाना चाहिए। ऐसे लोगों को बीच चौराहे पर ले जाकर तमाचे जड़ने चाहिए जिससे उन्हें पता चला कि अब शांति से काम नहीं चलेगा बल्कि पाकिस्तान को उसकी औकात याद दिलाने का वक्त आ गया है। कंगना का गुस्सा इस मामले पर इतना ज्यादा था कि उन्होंने शबाना आजमी को भी नहीं बख्शा था। कंगना ने उन पर निशाना साधते हुए कहा कि ये लोग भारत तेरे टूकड़े होंगे को प्रमोट करते हैं। इस बयान को लेकर काफी हंगामा भी मचा था और शबाना ने भी कंगना को जवाब दिया था।

यह भी पढ़ें