भूलकर भी घर की इस दिशा में ना रखें तुलसी का पौधे वरना होगा अनर्थ घर में केवल पूर्व या उत्तर दिशा में ही रखें तुलसी का पौधा और भूलकर भी गलत दिशा में ना लगाएं दर्पण

किसी भी घर को बनाने से पहले उसकी नींव सही समय पर और सही तरह से रखी जानी चाहिए. ताकि उस घर में किसी भी बुरी चीज का प्रभाव ना पड़े और उस घर की नींव घर के लिए खुशियां लेकर आए. साथ में ही अगर घर में चीजों को सही से और सही दिशा पर रखा जाए तो उससे भी घर पर अच्छा प्रभाव पड़ता है. किस चीज को किस दिशा में रखा जाना चाहिए इसका जिक्र वास्तु शास्त्र में अच्छे से किया गया है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक घर में सकरात्मक ऊर्जा लाने के लिए  निम्नलिखित चीजों की दिशा पर खासा ध्यान देना चाहिए और इन चीजों का सही दिशा में ही होना सबसे उत्तम होता है.

घर का मुख्य दरवाजा

किसी भी घर को बनाते समय उस घर के मुख्य दरवाजे को बनाने को लेकर काफी ध्यान रखा जाता है और वास्तु शास्त्र के अनुसार किसी भी घर का मुख्य गेट केवल पूर्व या उत्तर दिशा में ही होना चाहिए और दरवाजे का आकार छोटा नहीं होना चाहिए. इसके साथ ही उस गेट पर स्वास्तिक का चिह्न होना भी शुभ होता है.

तुलसी का पौधा

लगभग हर घर में तुलसी का पौधा होता है और इस पौधे की पूजा लोग हर रोज करते हैं. वहीं तुलसी के पौधा का जिक्र करते हुए वास्तु शास्त्र में कहा गया है कि इस पौधे को रखने का सबसे उत्तम स्थान मुख्य द्वार के पास होता है और इस पौधे को हमेशा पूर्व या उत्तर दिशा में ही रखना चाहिए. साथ में ही जो लोग अपने घर में ये पौधा लगाते हैं उन्हें रोज इसकी पूजा और इसे जल अर्पित करना करनी चाहिए. (यह भी पढ़ें – तुलसी पूजा के नियम)

किस जगह लगाएं दर्पण

हर घर में एक दर्पण यानी शीशा जरूर होता है और वास्तु शास्त्र के अनुसार शीशे को घर की केवल पूर्व या उत्तर दीवार पर ही लगाना सही होता है. शीशे के लिए घर की दक्षिण दिशा एकदम गलत मानी जाती है.

घर में अंधेरा ना होने दें

शाम के समय घर के किसी भी कमरे में अंधेरा नहीं होना चाहिए और कुछ समय के लिए शाम के वक्त घर के हर कमरे में लाइट को जरूर जलाना चाहिए. ऐसा करने से घर में रोशनी बनी रहती है और लोगों को रोशनी से सकारात्मक ऊर्जा का एहसास होता है.

कितनी खिड़कियां होनी चाहिए

घर बनाते समय लोग घर की खिड़कियों पर ज्यादा ध्यान नहीं देते हैं. लेकिन घर की खिड़कियां भी घर के वास्तु शास्त्र पर असर डालती हैं. खिड़कियों से जुड़े वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में कभी भी  एक खिड़की नहीं होनी चाहिए और हो सके तो घर में खिड़कियों की संख्या  2, 4, 6, 8 और 10 ही रखें.

तिजोरी का मुंह

हर घर में एक तिजोरी जरूर होती है और तिजोरी में लोगों द्वारा धन जरूर रखा जाता है. ऐसा कहा जाता है कि अगर तिजोरी का मुंह उत्तर या पूर्व दिशा में हो तो वो धन के लिए उत्तम होता है और घर में धन खूब आता है. इसके साथ ही रोज तिजोरी की पूजा अगरबत्ती से भी की जानी चाहिए और तिजोरी पर मां महालक्ष्मी की तस्वीर भी लगानी चाहिए.