भूलकर भी अपनी लाडली बिटिया को बुधवार के दिन न भेजें ससुराल, वरना हो सकती है ये 4 बड़ी गड़बड़

हिंदू धर्म में कई तरह की मान्यताएं प्रचलित हैें, जिनमें से एक बेटी की बिदाई। यूं तो बेटी की बिदाई शादी के बाद ही हो जाती है, लेकिन उसके बाद जब भी बेटी अपने मायके आती है, तब भी कुछ रीती रिवाजों को ध्यान में रखा जाता है। प्रचलित रीति रिवाजों के मुताबिक, बेटियों को बुधवार के दिन ससुराल नहीं भेजा जाता है। इसके पीछे लोगों के अपने अपने कारण हैं, लेकिन शास्त्रों में इसका विस्तार से उल्लेख किया गया है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

आमतौर पर बेटियो को ससुराल बुधवार के दिन बिल्कुल नहीं भेजा जाता है। हालांकि, अगर बहुत ही ज्यादा ज़रूरी होता है तो कुछ धर्म कार्य से भेजा जा सकता है, लेकिन शास्त्रों में बुधवार के दिन बेटियों को ससुराल भेजने के लिए मनाही है। आज भी कुछ लोग इस परंपरा का पालन करते हैं, लेकिन ज्यादातर लोगों को इसके कारणों के बारे में पता नहीं होता है। ऐसे में हम आज आपको यह बताएंगे कि आखिर बुधवार के दिन बेटियों को ससुराल क्यों नहीं भेजा जाता है और इसके पीछे की खास वजह क्या है?

बुधवार के दिन क्यों नहीं भेजना चाहिए बेटी को ससुराल?

शास्त्रों के मुताबिक, बुधवार के दिन बेटी की मायके से बिदाई भूलकर भी नहीं करनी चाहिए। दरअसल, शास्त्रों में यह दिन बिदाई के लिए शुभ नहीं माना गया है। तो चलिए जानते हैं कि इसके पीछे की वजह क्या है –

1. टूट सकता है दुखों का पहाड़

शास्त्रों के मुताबिक, बेटी को बुधवार के दिन ससुराल नहीं भेजना चाहिए, क्योंकि ऐसा करने से उसके जीवन में दुखों का पहाड़ टूट सकता है। इसके अलावा अगर आपकी बेटी की कुंडली में बुध ग्रह भारी है, तब तो भूलकर भी ऐसा नहीं करना चाहिए, अन्यथा उसके जीवन में भारी संकट आ सकता है।

2. ससुराल से बिगड़ सकते हैं रिश्ते

यदि आपने अपनी बेटी की बिदाई बुधवार के दिन की तो माना जाता है कि उसके रिश्ते ससुराल से बिगड़ सकते हैं। यानि आपकी लाडली ससुराल में खुश नहीं रह पाएगी और यह उसके लिए अच्छी बात नहीं है। दरअसल, हर मां बाप की ख्वाहिश होती है कि उसकी बेटी ससुराल में खुश रहे, इसलिए आपको उसे बुधवार के दिन नहीं ससुराल भेजना चाहिए।

3. रास्ते में हो सकती है दुर्घटना

शास्त्रों के मुताबिक, बुधवार के दिन बेटी को विदा करने से रास्ते में दुर्घटना का योग बन जाता है। ऐसे में अपनी बेटी को भूलकर भी बुधवार के दिन ससुराल नहीं भेजना चाहिए। अगर आपकी बेटी का बुध भारी है, तो गलती से भी यह काम न करें।

4. बेटी की सेहत हो सकती है खराब

माना जाता है कि यदि आप अपनी बिटिया को बुधवार के दिन ससुराल भेजेंगे तो ग्रहो की स्थिति खराब हो जाएगी और इससे बेटी बीमार हो सकती है। इसलिए अपनी बिटिया की सलामती के लिए लोग बुधवार के दिन उसे ससुराल नहीं भेजते हैं।