विशेष

गलत दिशा में लगी घड़ी कर सकती है आपकी खुशियां बर्बाद, आज ही जान लें घड़ी से जुड़े ये जरूरी नियम

घड़ी का काम होता है सही समय दिखाना. पर यही घड़ी अगर गलत जगह लगा दी जाए तो आपका समय खराब चल सकता है. हम सब के घरों में घड़ी होती है. पर लोग अक्सर घड़ी को घर के किसी भी दीवार पर टांग देते है. लेकिन क्या आपको पता है कि किसी भी घड़ी को वास्तु के हिसाब से ही लगाना चाहिए. आखिर क्या है घड़ी लगाने का सही तरीका? चलिए आपको बताते हैं.

इस दिशा में लगाना है मना

दक्षिण दिशा में कभी भी घड़ी को नहीं लगाना चाहिए क्योंकि शास्त्रों अनुसार घर के दक्षिण में काल का वास होता है. वास्तु की मानें तो दक्षिण दिशा में घड़ी लगाना अशुभ होता ही क्योंकि दक्षिण दिशा में मृत परिजनों की तस्वीर लगाई जाती है. इसलिए दक्षिण दिशा में मृत लोगों की तस्वीर ही लगायें, घड़ी नहीं. वास्तु के अनुसार घड़ी लगाने का सही स्थान उत्तर, पूर्व और पश्चिम दिशा है. कहा जाता है कि ये तीनों दिशायें पॉज़ीटिव एनर्जी वाली होती हैं.

दरवाजे पर कभी नहीं लगाएं घड़ी

वास्तु के अनुसार घड़ी को घर के किसी भी दरवाज़े पर नहीं लगाना चाहिए. इसे अशुभ मानते हैं. दरवाज़े पर घड़ी लगाने का मतलब घर में तनाव को आमंत्रण देना होता है. इससे घर में टेंशन का माहौल बना रहेगा. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि दरवाज़े से गुजरते वक़्त नकारात्मक एनर्जी का प्रवाह होता है.

लगाएं पेंडुलम वाली घड़ी

अगर आप अपने घर के ड्राइंग रूम में पेंडुलम वाली घड़ी लगाएंगे तो यह वास्तु के अनुसार शुभ होता है. पेंडुलम वाली घड़ी हर घंटे टन-टन की आवाज़ करती है और आपको समय का आभास कराती है. अगर आप ऐसी घड़ी लगाते हैं तो घर में बरकत बनी रहेगी.

बंद घड़ियों को रखें घर से दूर

कभी भी बंद घड़ियों को घर में नहीं रखना चाहिए. बंद घड़ियों को या तो रिपेयर करा लें या घर से बाहर कर दें. किसी भी बंद घड़ी को घर में रखना अशुभ होता है, फिर चाहे वह दीवार घड़ी हो, हाथ की घड़ी हो या फिर टेबल क्लॉक. वास्तु में कहा गया है कि रुका हुआ समय आपके जीवन को भी रोक देता है और हर काम में रुकावट पैदा करता है. इसलिए आपके घर में भी अगर कोई रुकी हुई ख़राब घड़ी है तो उसे तुरंत रिपेयर करा लें या फिर किसी कबाड़ में दे दें.

समय से आगे-पीछे न रखें

किसी भी घड़ी को समय पर रखना बेहद ज़रूरी होता है. घड़ी के समय को आगे या पीछे करके नहीं रखना चाहिए. वास्तु के अनुसार, अगर घड़ी अपने वास्तविक समय से पीछे चलेगी तो व्यक्ति को अपने जीवन में कठिन परिश्रम करना पड़ सकता है. इसलिए समय को सही रखें.

घड़ी का आकार

वास्तु में घड़ी का आकार भी बहुत मायने रखता है. अगर आपके घर में गोल, चकौर, अंडाकार, 8 या 6 भुजा की आकार वाली घड़ियां हैं तो यह शुभ मानी जाती हैं. घर में तिकोने आकार की घड़ियां नहीं रखनी चाहिए. वास्तु के मुताबिक इस तरह की घड़ियां अशुभ होती हैं.

पढ़ें घडी को विपरीत दिशा में लगाना, आप की ज़िंदगी को दिशाहीन कर सकता है, जानिये कैसे ?

दोस्तों, उम्मीद करते हैं कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा. पसंद आने पर लाइक और शेयर करना न भूलें.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close