घडी को विपरीत दिशा में लगाना, आप की ज़िंदगी को दिशाहीन कर सकता है, जानिये कैसे ?

जिन घड़ियों को हम घर या ऑफिस में इस्तेमाल करते हैं उनका हमारे जीवन से एक खास सम्बन्ध होता है। ज्योतिष की मानें तो ये घड़िया सिर्फ वक्त नही बताती बल्कि हमारे जीवन में अच्छे बुरे वक्त के लिए भी जिम्मेदार होती हैं। ऐसे में घर में घड़ी लगाते वक्त इसकी दिशा के साथ कई सारी बातों का विशेष ख्याल रखना चाहिए। जबकि कुछ लोग घरों की सजावट के लिए अलग-अलग जगह घड़ियां लगाते है लेकिन वे दिशाओं का ध्यान नहीं रखते है और इसीलिए उनको कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है । ऐसे हम आज आपको घड़ी के सम्बन्ध में कुछ ऐसी बातों के बारे में बताने जा रहे है जिनका अनुसरण करने से आपके घर में हमेशा सुख-समृद्धि बनी रहेंगी।

वास्तु शास्त्र और चीनी वास्तु शास्त्र कहलाने वाले फेंग शुई विज्ञान के अनुसार हमारे घर में लगी घड़ियां बहुत कुछ कहती हैं। घर या ऑफिस में उपयोग होने वाली घड़ियां जैसे कि वाल क्लॉक, टेबल क्लॉक या फिर हैंगिंग क्लॉक.. सभी को हमें किस तरह से उपयोग में लाना चाहिए तथा इन्हें किस दीवार पर लगाएं और कहां ना लगाएं, इसके खास निर्देश प्रदान किए गए हैं। जैसे कि..

घर की दक्षिणी दीवार पर भूलकर भी घड़ी ना लगाएं

वास्तु शास्त्र की मानें तो घर की दक्षिणी दीवार पर कभी भी घड़ी नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि वास्तु के अनुसार घर की दक्षिण दिशा यम की दिशा है और यम वह देवता हैं जो हमारे जीवन को खत्म करने का काम करते हैं। फेंग शुई का मानना है कि इस दिशा में घड़ी को लगाना व्यक्ति के प्रगति के मार्ग में ठहराव लाने के बराबर है। यह घर में मौजूद सदस्यों के कॅरियर पर बुरा प्रभाव करता है। फेंगशुई में भी दक्षिण दीवार पर घड़ी शुभ नहीं मानी जाती है। ऐसी मान्यता है कि घर की यह दिशा नकारात्मक ऊर्जा को उत्पन्न करती है। यदि इस दिशा में घड़ी लगाते हैं तो बार-बार ध्यान दक्षिण दिशा की ओर जाएगा, जिसके फलस्वरूप हम बार-बार नकारात्मक ऊर्जा को ग्रहण करते जाएंगे।

घर के दरवाजे पर भी घड़ी ना लगाएं

दक्षिणी दीवार के अलावा घर के दरवाजे पर भी घड़ी नहीं लगानी चाहिए। फेंगशुई विज्ञान के अनुसार घर के मुख्य द्वार या दरवाजे के ऊपर घड़ी लगाना अशुभ है। ऐसा करने से घर-परिवार में तनाव बढ़ता है। कहते हैं कि इससे घर से बाहर आते-जाते समय आसपास की ऊर्जा प्रभावित हो सकती है।

खराब घड़ी को भूलकर भी ना रखें घर में

दिशा के साथ ध्यान देने वाली बात है कि कहीं आप गलत घड़ी का इस्तेमाल तो नहीं कर रहे। गलत घड़ी से मतलब है खराब हो चुकी घड़ियां। अक्सर हमारे घर की दीवार पर लगी हुई घड़ी काफी दिनों से बंद पड़ी हुई होती है और हमें इसका अंदाज़ा भी नहीं होता। वास्तु शास्त्र के अनुसार बंद पड़ी घडिय़ों को घर में रखने से सकारात्मक ऊर्जा का स्तर गिर जाता है।

घड़ी का टाइम हमेशा मिलाकर रखें

वास्तु शास्त्र के अनुसार समय से पीछे चलने वाली घड़ियों को भी अच्छा नहीं माना जाता है। इसलिए घड़ी के टाइम को हमेशा मिला कर रखना चाहिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.