स्टेचू ऑफ यूनिटी नहीं बल्कि प्रभु श्री राम की बनेगी सबसे ऊंची मूर्ति, योगी ने की बैठक

राम मंदिर के सुलगते मुद्दे के बीज मंदिर समर्थकों के लिए बड़ी खबर सामने आई है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ की तरफ से अयोध्या में राम मूर्ति के निर्माण को हरी झंडी मिल गई है। सीएम योगी ने इस पर प्रेजेंटशन लिया है और इस प्रोजक्ट को फाइनल कर दिया है। भक्तों को यह जानकर खुशी होगी कि स मुर्त का आकार डिजाइन औऱ ऊंचाई तय कर दी गई है। बता दें कि सीएम योगी ने पहले भी कही थी कि राम मंदिर के अलावा एक मूर्ति अलग से होगी जो मंदिर के बाहर बनेगी। यूपी सरकार के आधिकारिक ट्वीटर पेज से ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी गई है।

मूर्ति के साथ बनेगा म्यूजियम

अयोध्या में जन्में प्रभु श्री राम की इस मूर्ति की ऊंचाई 151 मीटर होगी। इसका आधार 50 मीटर का होगा और इसके ऊपर 20 मीटर ऊंची छत होगी। इस प्रतिमा की कुल ऊंचाई 221 किमी होगी। मूर्ति के बेस के अंदर एक भव्य हाल की भी निर्माण किया जाएगा साथ ही उसमें एक म्यूजियम भी बनाया जाएगा। इस म्यूजियम में भगवान विष्णु के बारे में सारी जानकारी दी जाएगी। उनके अवतारों औऱ उनके सारे काम की पूरी जानकारी दी जाएगी।

सबसे बड़ी श्री राम की मूर्ति

गौरतलब है भगवान श्रीराम की मूर्ति स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से भी ऊंची बनवाई जाएगी।बता दें कि सरदार वल्लभ भाई पटेल के सम्मान में 182 मीटर ऊंची मूर्ति मोदी सरकार द्वारा बनाई गई है। वहीं श्रीराम की यह मूर्ति 221 मीटर ऊंची है। खबर की मोने तो इस प्रोजक्टर में मूर्ति के अलावा विश्राम घर, श्रीराम की कुटिया औऱ रामलीला मैदान भी बनाया जाएगा।

बता दें कि राम मंदिर का मुद्दा दिन ब दिन बढ़ता जा रहा है। अयोध्या में वीएचपी आरएसएस,बजरंग दल, शिवसेना औऱ हजारों साधू संत पहुंच चुके हैं और शहर में धारा 144 लागू हो चुका है। यहां पर शिवसेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे भी रैली करने वाले हैं। उनकी तरफ से नारा है पहले मंदिर फिर सरकार।

राम नगरी पहुंचे उद्धव

उद्धव ठाकरे ने कहा कि वह राम की नगरी पहुंचे हैं औऱ सरकार को कुंभकर्ण की नींद से जगाने आए है। वह राम मंदिर निर्माण का श्रेय लेने नहीं, लेकिन निर्माण की तारीख जानने आए हैं। उन्होंने राम लला के दर्शन किए और उसके बाद प्रेस से बातचीत की। उन्होंने कहा कि कल मे मैं अयोध्या में हूं। मेरी अयोध्या यात्रा सफल रही। संतों से मैंने कहा कि जो कार्य हम करने जा रहे हैं वह आपके सहयोग के बिना पूरा नहीं हो सकती। पूरा देश इंतजार कर रहा है कि मंदिर कब बनेगा। हम कब तक इंतजार करेंगे।

उद्धव ठाकरे ने कहा कि योगी जी कहते है कि वहां मंदिर था ह औऱ रहेगा, लेकिन यह हमारी धारणा है। मंदिर दिखना चाहिए औऱ वह जल्द से जल्द पूरा होना चाहिए। उसके लिए कानून बनाएं और अध्यादेश लाएं। हिंदुओं की भावना के साथ खिलवाड़ नहीं होना चाहिए। अटल जी ने कहा था कि हिंदू मार नहीं खाएगा, वह दिन चले गए। अब हिंदु ताकतवर हो गया है। अब हिंदू मार तो खाएगा ही नहीं, अब चुप  भी नहीं बैठेगा। उन्होंने कहा कि जल्द से जल्द मंदिर का निर्माण हो औऱ साथ में तारीख भी पता चलें।

यह भी पढ़ें