दिलचस्प

इन तीन राजनेताओं के बेटों को मिली टीम इंडिया में जगह, लेकिन आजतक खेल नहीं पाए

भारत में ज्यादातर लोगों को नौकरी या किसी भी पेशा में काम बहुत मुश्किल से मिल पाता है. जिन्हें आसानी से मिलता है तो वो किसी ना किसी बड़ी हस्ती के बच्चे होते हैं तभी उन्हें अपने करियर में काम आसानी से मिल जाता है मगर उनमें कितना टैलेंट होता है इस बात का पता कुछ समय के बाद चल पाता है जब वो अपनी परफोर्मेंस दिखाते हैं. भारत में ज्यादातर लोगों का पसंदीदा खेल क्रिकेट हैं और यहां पर क्रिकेटर्स का लोग बहुत ज्यादा सम्मान करते हैं. भारतीय टीम में अब तक जितने भी खिलाड़ी हैं वो अपनी मेहनत और लगन की वजह से एक अच्छा-खासा मुकाम बनाए हुए हैं. मगर इन तीन राजनेताओं के बेटों को मिली टीम इंडिया में जगह और आज तक इन्हें एक भी मैच में खेलने का मौका नहीं मिल पाया. इसके पीछे की वजह ये रही है कि उनकी परफोर्मेंस अच्छी ना होने की वजह से दर्शक उन्हें नकार देते हैं.

इन तीन राजनेताओं के बेटों को मिली टीम इंडिया में जगह

हमारे देश में कुछ ऐसे भी क्रिकेटर्स हैं जो अपने पिता के बड़े नाम की वजह से क्रिकेट खेलने का अधिकार हासिल किए हैं. अपने पिता की वजह से उन्हें ना केवल स्टेट लेवल पर खेलने का मौका मिला बल्कि वो भारतीय टीम में भी जगह बनाए लेकिन नेशनल लेवल पर खेलने में असफल रहे.

सार्थक रंजन

बिहार के फेमस नेता और सांसद पप्पू यादव के बेटे सार्थक रंजन को दिल्ली की टीम में जगह मिल गई थी. अंडर-19 वर्ल्ड कप जिताने वाले क्रिकेटर को बाहर निकाल कर सार्थक को टीम में लिया गया था. पप्पू यादव के नाम की वजह से उनके बेटे को दिल्ली टीम में जगह मिली लेकिन इसके बाद कुछ मामलों में सार्थक अच्छा नहीं खेल पाए और कुछ विवाद भी हो गए थे जिसकी वजह से सार्थक को टीम से बाहर निकाल दिया गया.

तेजस्वी यादव

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व रेलमंत्री लालू यादव का धाक दिल्ली तक चलती थी. उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव को अपने पिता की वजह से आईपीएल की दिल्ली डेयरडेविल्स टीम में खेलने का मौका मिला था. दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में चुने जाने के बाद3 सालों तक एक बार भी उन्हें खिलाया नहीं गया. जिसके बाद तेजस्वी ने क्रिकेट को अलविदा कहकर राजनीति में कदम जमा लिए.

जयदेव शाह

बीसीसीआई के पूर्व अध्यक्ष निरंजन शाह के बेटे जयदेव शाह को भी उनके पिता के रुतबे की वजह से आईपीएल में अलग-अलग कई टीम में जगह दी गई. पिता के नाम की वजह से जयदेव को डेक्कन चार्जर्स, राजस्थान रॉयल्स और मुंबई इंडियंस जीस टीम ने इऩ्हें खरीदा था लेकिन वो एक भी मैच खेल नहीं पाए. किसी मैच में प्लेइंग में जगह नहीं बना पाने की वजह से जयदेव शाह को क्रिकेट छोड़ना पड़ा था.
यह भी पढ़ें : जीत के लिए जरुरी है आत्मविश्वास, जानें कैसे बढ़ा सकते हैं सेल्फ कॉन्फिडेंस

Related Articles

Close