शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने से होती हैं ये गंभीर बीमारियां, जानें यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण

न्यूज़ट्रेन्ड हेल्थ डेस्क- आजकल के मॉडर्न जीवनशैली से प्रभावित लोगों में यूरिक एसिड की बढ़ने की समस्या अधिकतर हो रही है। आजकल के लाइफस्टाइल में यूरिक एसिड के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। अगर खून में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है तो इससे आपके आंखों में दर्द, घुटनों, पैरों, ऊंगलियों आदि में दर्द तेजी से होने लगेगा।  शरीर में यूरिक एसिड के लेवल के हाई होने के कई कारण हैं इससे आपको कई प्रकार के गंभीर बीमारियों का भी खतरा हो सकता है। इसके लक्षणों का पता लगाकर इसका जल्द से जल्द इलाज करा लें। नहीं तो ये नुकसान देह हो सकता है। तो चलिए इस आर्टिकल के जरिए जानते  हैं कि शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के कारण क्या क्या हैं। और इससे कौन कौन सी बीमारी हो सकती है।
यूरिक एसिड बढ़ने के कारण- शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के कई कारण हो सकते हैँ।

  • शर्करा- अगर आप अधिक मात्रा में मीठे का सेवन करते हैं तो ये आपके खून में यूरिक एसिड को जल्दी जल्दी बढ़ाने का काम करती है। अधिक मात्रा में शर्करा का सेवन रक्त में यूरिक एसिड की मात्रा को बढ़ा देता है।
  • सीरम यूरिक एसिड- अगर आपके किडनी से सीरम यूरिक एसिड का निकलना बंद हो जाता है तो इससे आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है।
  • वजन कम करने का प्रयास- आज कल कई लोग मोटापे से बहुत परेशान रहते हैं। मोटापे को दूर करने के लिए अगर आप भी उपवास रखने या कम खाने जैसे उपाय अपनाते हैं तो हम आपको बता दें कि ऐसे उपायों से शरीर में यूरिक एसिड बहुत ही आश्चर्यजनक तरीके से बढ़ सकता है।
  • आयरन की अधिकता- अगर शरीर में आयरन की मात्रा बढ़ जाती है तो इस कारण से भी शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है।
  • शरीर में दर्द होना- अगर आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बढ़ जाती है तो इससे आपके शरीर में बहुत तेज दर्द होता है। जब आप सोकर उठते हैं तो आपके शरीर में दर्द और चुभन सा महसूस होने लगता है। हालांकि कई लोग इसे सामान्य दर्द ही समझ बैठते हैं लेकिन इस प्रकार के दर्द खतरनाक हो सकते हैं।

शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण-  पैरों और जोड़ों में दर्द होना, सोते समय पैरों में जकड़न और तेजी के साथ दर्द, लगातार बैठने के बाद उठने से एड़ियों में दर्द की समस्या, शूगर लेवल का बढ़ना और एड़ियों में दर्द जैसी समस्या अगर आपको है तो ये आपके शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण भी हो सकते हैं।

यूरिक एसिड के बढ़ने से होने वाली बीमारियां- शरीर में यूरिक एसिड के बढ़ने से गाठिया और किडनी संबंधी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आज हम इस लेख के जरिए बताएंगे कि यूरिक एसिड के बढ़ जाने से किन किन बीमारियों का खतरा रहता है।

  • गाठिया- शरीर में अगर यूरिक एसिड बढ़ जाए तो इससे शरीर के छोटे छोटे क्रिस्टल हाथों और पैरों में जमा हो जाते हैं। इससे गाठिया रोग होने का खतरा भी रहता है। अगर आपके हाथों और पैरों में जकड़न सी हो रही है तो इसे नजरअंदाज न करें।
  • किडनी स्टोन- यूरिक एसिड के छोटे छोटे क्रिस्टल मूत्रनली में भी जमा हो जाते हैं। इससे मूत्र में रक्त आने और इसके अलावा पीठ में तेज दर्द की समस्या हो सकती है।

  • दिल के रोग- यूरिक लेवल के हाई होने से दिल से संबंधी बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है। गंभीर मामलों में यूरिक एसिड के बढ़ने से हार्ट अटैक भी आ जाता है।

  • डायबिटीज- यूरिक एसिड के बढ़ जाने से शरीर में इंसुलिन का सही संतुलन बिगड़ जाता है। और इंसुलिन की कमी या इसके संतुलन बिगड़ने से डायबिटीज जैसे गंभीर रोगों का खतरा हो सकता है।

  • बीपी बढ़ना- बीपी का बढ़ना या हाइपरटेंशन का एक कारण शरीर में यूरिक एसिड का बढ़ना भी है।