हस्त रेखा (hast rekha) का ज्ञान: हस्त रेखा (hast rekha )का महत्व ज्योतिष शास्त्र के अनुसार बहुत ही ज्यादा है। अक्सर आप लोग भी अपने हाथ की रेखा (hath ki rekha ) से जुड़े सवालों को ज्योतिष से जरूर पूछते होंगे? लेकिन क्या आपको हस्त रेखा की पूरी जानकारी है? य़ानि कौन सी रेखा, किस लिए होती है? आप किसी ज्योतिष से तरह तरह के सवाल जरूर पूछते होंगे कि आपका करियर कैसा होगा या भाग्य कैसा होगा, या फिर कोई और सवाल, लेकिन जब वो आपक कहता है कि आपकी भाग्य रेखा खुलने वाली है, तो आप समझ नहीं पाते हैं कि आखिर भाग्य रेखा है कहां, तो बस चलिए आपके इन्ही तमाम सवालों के जवाब हम अपनी इस रिपोर्ट में लेकर आएं हैं, जिससे आपको हस्त रेखा (hast rekha) से जुड़ी हर जानकारी मिल जाएगी।

ज्योतिष शास्त्र के तहत तो इसका विशेष महत्व है ही, लेकिन समाज का एक बड़ा हिस्सा भी इसके महत्व को अच्छी तरह से समझता है, तो चलिए जानते हैं कि हस्त रेखा ज्ञान क्या है?

हस्त रेखा ज्ञान (Hast Rekha Gyan in Hindi)

हस्त रेखा ज्ञान (Hast Rekha Gyan in Hindi) में हम सबसे पहले हाथ की रेखा (hath ki rekha ) के बार में बताने जा रहे हैं। जी हांं, हमारे हाथ में तीन तरह की लकीरे मौजूद होती हैं।

1.जीवन रेखा

बता दें कि जो रेखा अंगूठे के ठीक नीचे यानि शुक्र पर्वत को घेरे रहती है, ये हाथ की रेखा (hath ki rekha) जीवन रेखा कहलाती है। ये रेखा छोटी जीवन रेखा कम उम्र के साथ साथ लंबी जीवन रेखा लंबी उम्र की ओर इशारा करती है। माना जाता है कि अगर ये बीच से टूटी हुई होती है, तो इसके बहुत अशुभ होता है। बता दें कि जीवन रेखा आपकी उम्र के साथ साथ आपका हेल्थ कैसा है, इस तरफ भी इशारा करता है। अगर आपकी ये रेखा लंबी है तो आपकी उम्र ज्यादा है, लेकिन छोटी है तो कम है।

2.मस्तिष्क रेखा

बता दें कि मस्तिष्क रेखा और जीवन रेखा लगभग एक ही स्थान से शुरू होती है। साथ ही जीवन रेखा के मध्य थोड़ा अंतर हो तो व्यक्ति स्वतंत्र विचारों वाला होता है। आपको ये भी बता दें कि यदि मस्तिष्क रेखा और जीवन रेखा के मध्य ज्यादा अंतर हो तो व्यक्ति बिना सोच-विचार के कार्य करने वाला होता है। ऐसे लोग जल्दी ही किसी मुसीबत में फंस जाते हैं।

3.हृदय रेखा

ये रेखा तर्जनी उंगली से शुरू होकर सबसे छोटी उंगली तक होती है। बता दें कि इसे देखकर आप पता लगा सकते हैं कि व्यक्ति का व्यवहार कैसा है? य़दि किसी व्यक्ति की ये रेखा बहुत लंबी होती है तो वो खुले विचारों वाला होता है। और अगर ये रेखा हथेली के दोनों किनारे पर पहुंचती है, तो ऐसे लोग जीवन साथी के ऊपर निर्भर रहने वाले होते हैं।

हथेली में मौजूद कुछ छोटी रेखाएं

अभी तक आपने तीन मुख्य रेखाओं के बारे में जाना लेकिन अब आप हथेली से जुड़े अन्य रेखाओं के बारे में जानेंगे, जिसका आपकी लाइफ पर गहरा असर पड़ता है….

1.सूर्य रेखा

यह हाथ की रेखा (hath ki rekha) हर किसी के हाथ में नहीं होती है। लेकिन जिसके हाथ में होता है, वो बहुत ही धनी होता है। बता दें कि अगर सूर्य रेखा के पास या उसके ऊपर कई लकीरे हो तो व्यक्ति के लिए अशुभ माना जाता है, यानि उसका स्वास्थ्य ठीक नहीं रहेगा।

2.ब्रेसलेट रेखा

यह जिस व्यक्ति के हाथ में होता है, वो जीवन भर सुखी रहता है। यानि उसे कभी स्वास्थ्य से संबंधी समस्याओं का सामना करना नहीं पड़ता है।

3. बच्चों की रेखाएं

ये आमतौर पर सबसे छोटी उंगली के नीचे पाई जाती है, जिसके माध्यम से ये पता लगाया जा सकता है कि आपकी किस्मत में कितने बच्चे हैं या आपके होने वाले बच्चे का स्वास्थ्य कैसा रहेगा?

4.भाग्य रेखा

यह रेखा हथेली के बीचों बीच पाया जाता है। अगर ये साफ साफ है तो व्यक्ति का भाग्य उज्ज्वल है और टूटी फूटी हो तो व्यक्ति को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ेगा।

5.बृहस्पति रेखा

ये रेखा जिस व्यक्ति के हाथ में होती है, वो बहुत ही समझदार होता है। साथ ही दूसरों की बहुत कद्र करता है। ये लोगों को सहारा देने वाले भी होते हैं।

6. स्वास्थ्य रेखा

स्वास्थ्य रेखा छोटी उंगली से शुरू होकर नीचे तक जाती है। इससे यह पता लगाया जा सकता है कि व्यक्ति का स्वास्थ्य आने वाले दिनों में कैसा रहने वाला है?

7.प्रेम रेखा

यह रेखा छोटी उंगली के पास होती है। अगर किसी के हाथ में गहरा होता तो उसका रिलेशनशिप बहुत अच्छा रहता है, लेकिन किसी के हाथ में हल्की होती है तो उसका वैवाहिक जीवन सफल नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.