अगर आपका भी पेट होता है बार-बार ख़राब तो हो जाएँ सावधान, इनमें से कोई एक बीमारी हो सकती है आपको

आज के समय में बिमारी लोगों के लिए एक बड़ी समस्या बनी हुई है। लोग अपनी कमाई का एक बड़ा हिस्सा अपने स्वास्थ्य के ऊपर खर्च कर दे रहे हैं। कई लोगों का जीवन ही इअल्ज करवाते-करवाते ख़त्म हो जाता है। आजकल के समय में लोगों के खान-पान में काफी बदलाव हुआ है। इसी वजह से व्यक्ति तरह-तरह की बिमारियों की भी चपेट में आया है। सबसे ज्यादा समस्या पेट सम्बन्धी बिमारियों की है। अज हर दूसरा व्यक्ति पेट की समस्या से परेशान है।

अपनी डाईट पर उचित ध्यान ना देने और शारीरिक काम ना करने की वजह से आज के समय में कई लोगों का पेट खराब रहता है। पेट खराब होने की वजह से एसिडिटी, कब्ज और तेज पेट दर्द की समस्या होने लगती है। अगर आपकी यह बीमारी लम्बे समय तक रही तो किसी सीरियस बीमारी के संकेत भी देती है। सही समय पर इन बिमारियों की पहचान कर इनका इलाज करवा लें, अन्यथा बाद में भारी मुसीबत का सामना करना पड़ सकता है। आज हम आपको कुछ ऐसी बिमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जो पेट खराब होने की वजह से हो सकती हैं।

पेट खराब होने से हो सकती है यह बीमारियाँ:

अगर आप लम्बे समय से पेट दर्द की समस्या से परेशान है तो आपको पेप्टिक अल्सर हो सकता है। इसका सही समय पर इलाज ना करवाने से पेट में इंटरनल ब्लीडिंग, इन्फेक्शन और गैस्ट्रिक कैंसर की आशंका बढ़ जाती है।

पेट खराब रहने की वजह से डाइजेशन खराब रहता है। इसकी वजह से डायरिया, पेट दर्द और पेट के फूलने जैसी समस्याएँ हो जाती हैं। इसलिए सही समय पर इसका इलाज करवा लें ताकि बाद में होने वाली परेशानियों से बचा जा सके।

लम्बे समय से पेट ख़राब रहने की वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द होने लगता है। ऐसे में इम्युनिटी कमजोर हो जाती है। इस वजह से बाउल डिजीज होने का खतरा बढ़ जाता है। यह काफी खतरनाक स्थिति होती है, इसलिए पहले ही सावधान हो जाएँ।

काफी समय से पेट खराब रहने की वजह से हेमोरोइड्स की समस्या हो जाती है। इस वजह से पेट में तेज दर्द और स्टूल में ब्लड स्पॉट आने लगते हैं, जो बाद में आपको परेशानी में डाल सकते हैं।

जब व्यक्ति का पेट खराब होता है तो पेट में जरुरत से ज्यादा एसिड बनने लगता है। जब यही समस्या लम्बे समय से रहती है तो गैस्ट्रिक एसिड रिफ्ल्क्स डिजीज की परेशानी हो जाती है।

पेट में खराबी की वजह से पेट के निचले हिस्से में दर्द और बुखार की समस्या हो जाती है। ऐसा कम फाइबर लेने की वजह से होता है। आपको बता दें फाइबर हमारे खानें को पचाने में मदद करता है। बढ़ती उम्र के साथ इसका खतरा भी बढ़ने लगता है।