ब्रेकिंग न्यूज़

आखिर क्यों चीन चाहता है कि गुजरात चुनाव में हो बीजेपी की जीत? वजह जानकर हो जायेंगे हैरान

नई दिल्ली: गुजरात विधानसभा का चुनाव गुरुवार को दुसरे और अंतिम चरण के साथ ख़त्म हो गया है। चुनाव ख़त्म होने के बाद एग्जिट पोल के नतीजों को देखकर लग रहा है कि एक बार फिर से गुजरात में बीजेपी की सरकार बनने वाली है। हालांकि चुनाव के नतीजे असल में क्या होंगे और कौन विजेता होगा, यह 18 तारीख को ही पता चल पायेगा। लेकिन भारत का एक पड़ोसी देश है जो गुजरात चुनाव को लेकर काफी इंटरेस्टेड दिखाई पड़ रहा है। दरअसल हम चीन की बात कर रहे हैं। वहाँ के कारोबारी  गुजरात चुनाव के नतीजों पर नजर बनाये हुए हैं।

आखिर चीन के व्यापारी ऐसा क्यों कर रहे हैं? अब आप सोच रहे होंगे कि चीन को गुजरात के चुनाव से क्या फर्क पड़ने वाला है? जो वह गुजरात चुनाव की जीत-हार पर नजर रखे हुए है। लेकिन आपको बता दें चीनी कम्पनियों को 18 दिसंबर का बेसब्री से इंतज़ार है। चीनी कम्पनियां चाहती हैं कि गुजरात में एक बार फिर बीजेपी की ही सरकार बने। अब सवाल उठता है कि इससे आखिर चीन को क्या फायदा होगा? आपको बता दें गुजारत में कई चीनी कंपनियाँ पिछले कई सालों से निवेश कर रही हैं।

कई चीनी कंपनियों के बड़े-बड़े प्रोजेक्ट्स गुजरात में इस समय चल रहे हैं। अब ऐसे में गुजरात में अगर कोई और सरकार बनती है तो चीनी कंपनियों के प्रोजेक्ट्स पर सुका विपरीत असर होगा। लेकिन अगर फिर से गुजरात की सत्ता बीजेपी सरकार संभालती है तो चीनी कंपनियों के प्रोजेक्ट्स पर कोई असर नहीं होगा। चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स की एक खबर के अनुसार, अगर गुजरात में बीजेपी को बड़ी जीत मिलती है, तो उनका आर्थिक रिफॉर्म का सिलसिला जारी रह सकता है, जिसका इंतजार ही चीनी कंपनियां कर रही हैं।

काफी समय से चीन भारत में बड़ी मात्रा में निवेश कर रहा है। कई चीनी कंपनियों का मानना है कि भारत एक बड़े और नए बाजार के रूप में तैयार हो रहा है। इसके लिए मोदी सरकार जो आर्थिक फैसले ले रही है, वह चीनी कंपनियों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। अख़बार के अनुसार अभी तक मोदी ने जो आर्थिक फैसले लिए हैं, उसपर अर्थशास्त्रियों और विपक्ष ने जमकर हमला बोला है। लेकिन मोदी के गुजरात मॉडल का सही आंकलन गुजरात के लोग ही कर सकते हैं। अख़बार ने यह भी लिखा है कि गुजरात के नतीजों पर चीनी कंपनियों को नजर रखनी चाहिए। यह नतीजे ही आने वाले समय में आर्थिक फैसलों का रास्ता तय करेंगे।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close