राजनीति

प्रेमिका की कब्र के पास सोता था प्रेमी, लड़की ने सपने में बताई मौत की सनसनीखेज कहानी

आपने सच्चे प्यार में मर मिटने की कहानियां तो फिल्मों में जरूर सुनी और देखी होंगी.. कि किस तरह प्यार के लिए प्रेमी-प्रेमिका अपनी जान तक देते हैं और मर कर भी वादा निभाने की कस्मे खाते हैं पर वास्तविक जिंदगी में लोग इन सब बातों को बकवास ही समझते हैं । लेकिन हाल ही में हापुड़ में कुछ ऐसा मामला सामने आया जिसे जानने के बाद शायद आप भी प्यार पर यकीन करने लगेंगे। मामला मुरादपुर गांव का है, जहां युवक-युवती के बीच काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था लेकिन युवती के परिजनों को दोनों का प्रेम पसंद नहीं था जिससे लड़की के परिवार वाले नाराज चल रहे थे और उसके बाद अचानक लड़की की संदिग्ध परिस्थितयों में मौत हो गई। परिजनों ने शव को पास में ही कब्र में दफना दिया। लेकिन बात यहीं खत्म नहीं हुई, प्रेमिका की मौत की ख़बर जब प्रेमी नदीम को बता चली तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई। लड़की की मौत उसके प्रेमी को हजम नहीं हुई.. जिसके बाद प्रेमी ने ऐसा कदम उठाया की आज पूरे हापुड़ में चर्चा का विषय बना हुआ है।

प्रेमी अपनी प्रेमिका की मौत पर विश्वास नहीं कर पा रहा था। प्यार में व्याकुल प्रेमी नदीम रोज लड़की की कब्र के पास जाकर सोने लगा। रात में अकसर वो ऐसे ही कब्र में जाता और उससे बात करता था। लोग उसे पागल समझते थे। लेकिन प्रेमी की माने तो मौत के आठ महीने बाद उस लड़की ने उसके सपने में आकर बताया की.. “घरवालों ने मुझे तुमसे दूर करने के लिए जहर देकर मारा है.. मैने तुमसे शादी करने की बात की थी तो मुझे खाने में जहर दे दिया.. मैं चाहती हूं मेरे कातिलों से तुम बदला लो”।

प्रेमिका के सपने में आने के बाद लड़के ने अपने प्यार के कातिलों को सजा दिलाने की ठानी। उसने वकील के साथ मिलकर कोर्ट से लड़की का पोस्टमार्टम करने की मांग की। जिसके बाद कोर्ट ने पुलिस को लड़की की लाश का पोस्टमार्टम कराने के आदेश दिए। कोर्ट का आदेश मिलने के बाद पुलिस ने लड़की की लाश को कब्र से निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में चौंकाने वाला खुलासा हुआ।

पुलिस ने जब लड़की का पोस्टमार्टम कराया तो चौंकाने वाला खुलासा हुआ। लड़की का पोस्टमार्टम दो डॉक्टरों के पैनल ने किया। पोस्टमार्टम के बाद डॉक्टरों ने साफ लिखा की लड़की की मौत जहर खाने से हुई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद लड़के के सपने को ताकत मिली और उसने कोर्ट में पोस्टमार्टम रिपोर्ट रखी। जिसके बाद कोर्ट ने पुलिस को लड़की के घरवालों पर मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए।

पुलिस ने लड़के की पहल और कोर्ट के आदेश के बाद मुकदमा तो दर्ज कर लिया है। लेकिन अभी तक परिवार वालों के खिलाफ कोई सबूत नहीं जुटा पाई। पुलिस की माने तो आठ महीने बाद सबूतों को ढूंढना मुश्किल है।

प्रेमी लड़की की मुहीम के बाद लड़की पक्ष के लोगों में हड़कंप मच गया है। इसी से बौखलाए लड़की के परिजनों ने शनिवार को लड़के पर फायरिंग कर दी। जिससे लड़के समेत उसके दोस्त को गोली लग गई। जिनको गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वहीं पुलिस ने मामले की जांच शुरु कर दी है। 

Back to top button